विज्ञापन

अमेरिका को उत्तर कोरिया ने फिर दी धमकी, दक्षिण कोरिया से होने वाली वार्ता की रद्द

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला Updated Wed, 16 May 2018 08:56 AM IST
North Korea leader canceled the high level talks with South Korea due to 'Max Thunder'
विज्ञापन
ख़बर सुनें
उत्तर कोरिया ने दक्षिण कोरिया के साथ होने वाली अपनी उच्च स्तरीय वार्ता को रद्द कर दिया है। जिसका कारण है अमेरिका और दक्षिण कोरिया की वायुसेना के बीच चलने वाला संयुक्त सैन्य अभ्यास 'मैक्स ठंडर'। इससे पहले दोनों नेता किम जोंग उन और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन के बीच पिछले महीने 27 अप्रैल को वार्ता हुई थी।
विज्ञापन
1953 के विध्वंसक कोरियाई युद्ध (जब कोरियाई प्रायद्वीप दो हिस्सों में बंट गया था) के करीब 6 दशक से भी अधिक समय के बाद किम जोंग उत्तर कोरिया के ऐसे पहले नेता बन गए जिन्होंने दक्षिण कोरिया की धरती पर कदम रखा था। वहां दोनों नेताओं ने असैन्यीकृत क्षेत्र में हाथ मिलाया था। जो दोनों देशों के बीच सीमा रेखा है।  
 


यह वार्ता किम जोंग और मून जे इन के बीच पिछले महीने हुई वार्ता को आगे बढ़ाने के क्रम में होने वाली थी। इसके अलावा उत्तर कोरिया ने अमेरिका को भी इस बात की भी धमकी दी है कि वह किम जोंग और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच होने वाली बहुप्रतीक्षित वार्ता को भी रद्द कर सकता है।

यह जानकारी दक्षिण कोरिया की न्यूज वेबसाइट योनहाप से मिली है। गौरतलब है कि उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन और अमेरिकी राषट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच 12 जून को सिंगापुर में वार्ता होने वाली थी। वहीं दूसरी ओर इसके जवाब में अमेरिका ने कहा है कि वह प्योंगयांग की धमकी के बावजूद शिखर वार्ता सम्मेलन की तैयारियां कर रहा है। अमेरिका की ओर से यह भी कहा गया है कि उन्हें उम्मीद है कि दोनों देशों के बीच यह वार्ता होगी। 

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें  
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Rest of World

ओलांद के बयान से फ्रांस को भारत से रिश्ते बिगड़ने का डर

फ्रांस की सरकार ने कहा है कि उसे अपने पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के विवाद खड़ा करने से भारत के साथ उसके रिश्ते बिगड़ने की आशंका है।

24 सितंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

ब्रिस्टल यूनिवर्सिटी के छात्रों ने सफाईकर्मी को दिया हैरतंगेज तोहफा

ब्रिटेन की ब्रिस्टल यूनिवर्सिटी के छात्रों ने कुछ ऐसा किया कि उनकी हर जगह वाहवाही हो रही है। उन्होंने अपनी यूनिवर्सिटी के एक सफाईकर्मी को कभी न भूलने वाला तोहफा दिया है। हरमन गोर्डन पिछले एक दशक से अपने देश नहीं जा पा रहे थे जिनकी मदद छात्रों ने की।

21 सितंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree