उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग उन ने अपनी बहन को बनाया परमाणु मिसाइल से भी बड़ा हथियार!

बीबीसी Updated Wed, 14 Feb 2018 07:26 PM IST
किम जोंग उन
किम जोंग उन
ख़बर सुनें
उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन को दुनिया का ध्यान अपनी ओर खींचने के लिए मिसाइल चलाने की जरूरत नहीं है। उनके शस्त्रागार में कई अन्य ताकतवर हथियार हैं। ये हथियार मशीनी नहीं बल्कि उनकी महिला दूत हैं जिन पर उतनी ही चर्चा होती है, जितनी उनके मिसाइल की। इनमें से हाल ही में सबसे ज्यादा चर्चित रहीं उनकी बहन किम यो जोंग। किम यो जोंग ने दक्षिण कोरिया के दर्शकों का ध्यान अपनी ओर खींचा और उनके जेहन में उतर गईं।
जैसे ही वो अपने भाई का संदेश लेकर दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति भवन में कदम रखीं, टीवी पर उनके हर अंदाज को दिखाया गया। किम यो जोंग के चमकीले कपड़े, उनके बाल और उनका अंदाज-ए-बयां। अमरीका में प्रतिबंधित होने के बावजूद टीवी चैनल उनके व्यक्तित्व की चर्चा कर रहे थे। जब किम यो जोंग ने दक्षिण कोरिया के पियंगचेंग में हो रहे विंटर ओलंपिक में शिरकत कीं, दर्शकों के गर्दन और उनके मोबाइल उनकी तरफ घूम गएं। वो रहस्यमयी देश का एक मानवीय चेहरा बनकर उभरीं। मैं भी स्टेडियम की भीड़ में शामिल थी।

एक नौजवान ने मुझसे कहा, "यह चमत्कार और आश्चर्यचकित करने वाला है। मैं इस उत्तर कोरिया को पहले नहीं देखा।" ये नहीं भूलें कि वो पियंगचेंग में अपने भाई की छवि चकमाने के लिए आई थीं। उन्होंने मीडिया में अपने देश की छवि बदल दी। समाचार एजेंसी एसोसिएटेड प्रेस के प्योंगयांग के ब्यूरो चीफ जीन ली कहते हैं, "दक्षिण कोरिया के लोगों के लिए यह एक आसामन्य सी घटना थी।"

छवि बदल दी...

जीन ली कहते हैं, "उन्होंने सबसे खूबसूरत महिला को यहां भेजा। जब आप उत्तर कोरिया जाएंगे, ऐसी खूबसूरत महिलाएं आपको रिझाएंगी।" "उनका काम ही होता है कि वो यह एहसास कराएं कि उनका देश और वहां के लोग इतने बुरे नहीं हैं।" छवि बदलने का काम कुछ दिन पहले शुरू हुआ जब उत्तर कोरिया की महिला बैंड दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल पहुंचीं। जब उत्तर कोरिया की 'आर्मी ऑफ ब्यूटी' दक्षिण कोरिया पहुंची तो खूबसूरत दिखने की चाह करने वाले दक्षिण कोरियाई लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचा।
आगे पढ़ें

एक पूर्व चीयरलीडर का डर

RELATED

Spotlight

Most Read

Rest of World

भारत के फील्ड ऑफिस को बंद करेगा नेपाल, कम्युनिस्ट पार्टी की संसदीय समिति ने किया तय

भारत सरकार ने 2014 में नेपाल से बिराटनगर स्थित अपने फील्ड ऑफिस को अपग्रेड कर काउंसुलेट जनरल ऑफिस स्थापित करने की अनुमति मांगी थी।

21 मई 2018

Related Videos

दुनिया को हैरान कर रहा ये शख्स, आप भी देखें कैसे

दुनिया में ऐसे इंसानों की कमी नहीं जिनकी कला से लोग हैरत में पड़ जाते हैं। आइए आपको एक ऐसे शख्स से मिलवाते हैं जिनकी कला अद्भुत है...

24 अप्रैल 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen