Hindi News ›   World ›   Rest of World ›   1000 Indians pilgrims still stranded in Nepal awaiting rescue

नेपाल में अब भी फंसे हैं 1,000 भारतीय, राहत-बचाव का कर रहे इंतजार

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला Updated Thu, 05 Jul 2018 11:59 PM IST
1000 Indians pilgrims still stranded in Nepal awaiting rescue
विज्ञापन
ख़बर सुनें

कैलाश मानसरोवर यात्रा से लौटने के दौरान नेपाल में फंसे भारतीय तीर्थयात्रियों का इंतजार अभी खत्म नहीं हुआ है। खराब मौसम के बीच नेपाल के पहाड़ी क्षेत्रों में अब भी करीब एक हजार भारतीय तीर्थयात्री सुरक्षित निकलने का इंतजार कर रहे हैं। बुधवार को हिलसा से 250 से अधिक भारतीय तीर्थयात्रियों को बचाया गया। कैलाश मानसरोवर तीर्थयात्रा से लौटने के दौरान भारी बारिश में फंसे लोगों को बचाने के लिए राहत कार्यों को बढ़ा दिया गया है।



एक ट्वीट में नेपाल में स्थित भारतीय दूतावास ने कहा कि 5 जुलाई की सुबह 10 व्यावसायिक विमानों से सिमिकोट से नेपालगंज तक 143 तीर्थयात्रियों को लाया गया। भारतीय दूतावास के अनुसार, 643 लोग सिमिकोट, जबकि 350 लोग हिलसा में फंसे हैं। हालांकि, किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। भारतीय दूतावास का कहना है कि संसाधन दुर्लभ हिलसा में फंसे हुए तीर्थयात्रियों की संख्या में काफी कमी आई है।


जिला पुलिस अधिकारी के अनुसार, सिमीकोट में अभी भी सैकड़ों लोग अपने विमानों का इंतजार कर रहे हैं। काठमांडू पोस्ट के अनुसार, सोमवार तक जिले से आने-जाने वाले विमान खराब मौसम के कारण बाधित रहे। अधिक ऊंचाई के कारण इस साल अभी तक आठ लोगों की मौत हो चुकी है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00