लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   Priest Rajesh ready to die at the hands of Taliban instead of leaving the temple

अफगानिस्तान : मंदिर छोड़ने के बजाय तालिबान के हाथों मरने को तैयार पुजारी राजेश

एजेंसी, काबुल Published by: Kuldeep Singh Updated Wed, 18 Aug 2021 04:11 AM IST
सार

  • काबुल के रतन नाथ मंदिर के पुजारी पंडित राजेश कुमार ने कहा है कि वह भगवान को छोड़ने के बजाय तालिबान के हाथों मरना पसंद करेंगे

रतन नाथ मंदिर के पुजारी पंडित राजेश कुमार
रतन नाथ मंदिर के पुजारी पंडित राजेश कुमार - फोटो : twitter
विज्ञापन

विस्तार

अफगानिस्तान में तालिबान के कट्टर इस्लामी शासन स्थापित करने की घोषणा के बावजूद जहां स्थानीय निवासी देश छोड़कर भाग रहे हैं, वहीं एक भारतीय पुजारी ने इस संकट में भी अपना मंदिर छोड़ने से इनकार कर दिया है।



काबुल में मौजूद आखिरी भारतीय पुजारी ने किया भारत आने से इनकार
काबुल के रतन नाथ मंदिर के पुजारी पंडित राजेश कुमार ने कहा है कि वह भगवान को छोड़ने के बजाय तालिबान के हाथों मरना पसंद करेंगे। पंडित राजेश की बात एक ट्विटर हैंडल ने सोशल मीडिया पर साझा की है।


उसमें उन्होंने भारत आने के लिए बहुत सारे हिंदुओं की तरफ से मदद देने का प्रस्ताव दिए जाने की बात कही। साथ ही कहा, मैं पुरखों के इस मंदिर को नहीं छोडू़ंगा, जहां मेरे बुजुर्गों ने सैकड़ों सालों से भगवान की सेवा की है। उन्होंने कहा, मैं मंदिर नहीं छोड़ूूंगा, यदि तालिबान मुझे मार देते हैं तो मैं इसे मेरी (भगवान के लिए) सेवा ही समझूंगा।

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00