लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   PM narendra Modi arrives Abu Dhabi from Germany welcomed by the President of UAE

PM Modi: जी-7 सम्मेलन के बाद जर्मनी से अबु धाबी पहुंचे पीएम मोदी, यूएई के राष्ट्रपति ने एयरपोर्ट पहुंचकर किया स्वागत

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, अबू धाबी Published by: निर्मल कांत Updated Tue, 28 Jun 2022 06:19 PM IST
सार

अपने यूएई दौरे के दौरान प्रधानमंत्री यूएई के पूर्व राष्ट्र और अबू धाबी के शासक शेख खलीफा बिन जायद अल नाहयान के निधन पर शोक व्यक्त करेंगे। 

जी-7 सम्मेलन के बाद अब अबू धाबी पहुंचे पीएम मोदी
जी-7 सम्मेलन के बाद अब अबू धाबी पहुंचे पीएम मोदी - फोटो : ANI
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

जी-7 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) की राजधानी अबू धाबी पहुंचे। यूएई के मौजूदा राष्ट्रपति शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान ने एयरपोर्ट पर उनका अभिवादन किया। 

  शेख खलीफा के निधन पर शोक जताएंगे मोदी
यूएई में मोदी, शेख खलीफा के निधन पर अपनी व्यक्तिगत संवेदना व्यक्त करेंगे, जिनका लंबी बीमारी के बाद 73 वर्ष की आयु में 13 मई को निधन हो गया था।

शेख खलीफा के निधन (13 मई 2022) के पश्चात भारत ने संयुक्त अरब अमीरात के दिवंगत राष्ट्रपति के सम्मान में 14 मई को राष्ट्रीय शोक दिवस की घोषणा की थी। शोक के दिन पूरे देश में सभी सरकारी भवनों पर भारतीय राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा आधा झुका रहा। तब उनके निधन पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए उन्हें एक महान और दूरदर्शी राजनेता के रूप में वर्णित किया था। 

शेख खलीफा संयुक्त अरब अमीरात के संस्थापक शेख जायद बिन सुल्तान अल नाहयान के सबसे बड़े बेटे थे। उन्होंने 3 नवंबर 2004 से अपनी मृत्यु तक यूएई के राष्ट्रपति और अबू धाबी के शासक के रूप में कार्य किया।

इससे पहले उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने भी पिछले महीने संयुक्त अरब अमीरात का दौरा किया था और शेख खलीफा के निधन पर संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के नेतृत्व के प्रति संवेदना व्यक्त की थी।

पीएम मोदी को 2019 में मिला था यूएई का सर्वोच्च सम्मान
यूएई की मोदी की अंतिम यात्रा अगस्त 2019 में हुई थी, जिस दौरान उन्हें यूएई के राष्ट्रपति द्वारा देश का सर्वोच्च पुरस्कार 'ऑर्डर ऑफ जायद' मिला था।
विज्ञापन



24 जून को मोदी की यात्रा से पहले एक विशेष ब्रीफिंग के दौरान विदेश सचिव विनय क्वात्रा ने कहा था कि प्रधानमंत्री, शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान के साथ बैठक करेंगे। विदेश मंत्रालय के अनुसार, चीन और अमेरिका के बाद वर्ष 2019-20 के लिए यूएई भारत का तीसरा सबसे बड़ा व्यापारिक भागीदार था।

वर्ष 2020-21 के लिए लगभग 16 बिलियन अमरीकी डालर की राशि के साथ यूएई (अमेरिका और चीन के बाद) भारत का तीसरा सबसे बड़ा निर्यात गंतव्य है।

जी-7 सम्मेलन में विश्व नेताओं से की मुलाकात
जी7 शिखर सम्मेलन में भाग लेने के दौरान प्रधानमंत्री ने कई विश्व नेताओं के साथ बातचीत की और वैश्विक कल्याण और समृद्धि को आगे बढ़ाने के उद्देश्य से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की।

भारत-यूएई के बीच मुक्त व्यापार समझौता
पीएम मोदी के सत्ता में आने के बाद से भारत के सउदी अरब और यूएई  से रिश्ते काफी बेहतर हुए हैं। आज यूएई एकमात्र ऐसा इस्लामिक देश है जिसने भारत के साथ मुक्त व्यापार समझौता किया है। पुरानी रूढियों को तोड़ते हुए यूएईने भारत में लगातार निवेश बढ़ाया है। रक्षा सहयोग और उत्पादन में भी सहयोग बढ़ा है। इसके अलावा पश्चिम हिंद महासागर क्षेत्र में भी दोनों देशों के बीच सहयोग बढ़ रहा है। हालांकि बीच में पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी के बाद इन देशों में नाराजगी भी देखने को मिली थी। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00