लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   PM Narendra Modi address community programme members of the Indian diaspora in Munich G7 Summit Latest News Update

PM Modi Munich: जर्मनी में पीएम मोदी ने किया आपातकाल का जिक्र, कहा- वह दौर काले धब्बे की तरह, लेकिन लोकतंत्र सब पर भारी पड़ा

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, म्यूनिख Published by: अभिषेक दीक्षित Updated Sun, 26 Jun 2022 10:01 PM IST
सार

पीएम मोदी ने कहा कि आज जब मैं आपसे बात कर रहा हूं तो भारत में वैक्सीन का आंकड़ा 196 करोड़ का आंकड़ा पार कर चुका है। मेड इन इंडिया वैक्सीन ने भारत के साथ ही दुनिया के करोड़ों लोगों की कोरोना से जान बचाई है।

PM Modi
PM Modi - फोटो : Amar Ujala
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

जी-7 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जर्मनी में हैं। यहां म्यूनिख में प्रवासी भारतीयों ने पीएम मोदी का स्वागत किया। इस बीच पीएम मोदी ने म्यूनिख में एक सामुदायिक कार्यक्रम को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि आप सभी के बीच आकर बहुत ही खुश महसूस कर रहा हूं। मैं आप सभी में भारत की संस्कृति, एकता और बंधुत्व के भाव का दर्शन कर रहा हूं। आपका ये स्नेह मैं कभी भूल नहीं पाऊंगा। आपके इस प्यार, उत्साह और उमंग से जो लोग हिंदुस्तान में देख रहे हैं उनका सीना भी गर्व से भर गया होगा।



उन्होंने कहा कि आज का दिन 26 जून एक और वजह से जाना जाता है। जो लोकतंत्र हमारा गौरव है, जो लोकतंत्र हर भारतीय के DNA में है, आज से 47 साल पहले इसी समय उस लोकतंत्र को बंधक बनाने, लोकतंत्र को कुचलने का प्रयास किया गया था। आपातकाल के कालखंड भारत के वाइब्रेंट डेमोक्रेटिक इतिहास में एक काले धब्बे की तरह है, लेकिन इस काले धब्बे पर सदियों से चली आ रही लोकतांत्रिक परंपराओं की श्रेष्ठता भी पूरी शक्ति के साथ विजयी हुई, लोकतांत्रिक परंपराएं इन हरकतों पर भारी पड़ी।


उन्होंने कहा कि भारत के लोगों ने लोकतंत्र को कुचलने की सारी साजिशों का जवाब, लोकतांत्रिक तरीके से ही दिया। हम भारतीय कहीं भी रहें, अपनी डेमोक्रेसी पर गर्व करते हैं। हर हिंदुस्तानी गर्व से कहता है, भारत मदर ऑफ डेमोक्रेसी है।

80 करोड़ गरीबों को मुफ्त अनाज दे रहा भारत: पीएम
उन्होंने कहा कि आज भारत के हर गरीब को 5 लाख रुपए के मुफ्त इलाज की सुविधा उपलब्ध है। कोरोना के इस समय में भारत पिछले दो साल से 80 करोड़ गरीबों को मुफ्त अनाज सुनिश्चित कर रहा है। इतना ही नहीं, आज भारत में औसतन हर 10 दिन में एक यूनिकॉर्न बन रहा है। उन्होंने कहा कि आज भारत में हर महीने औसतन 5 हजार पेटेंट फाइल होते हैं। आज भारत हर महीनें औसतन 500 से अधिक आधुनिक रेलवे कोच बना रहा है। आज भारत हर महीने औसतन 18 लाख घरों को पाइप वॉटर सप्लाई से जोड़ रहा है।

भारत का हर परिवार बैंकिंग व्यवस्था से जुड़ा: मोदी
उन्होंने कहा कि आज 21वीं सदी का भारत चौथी औद्योगिक क्रांति में, इंडस्ट्री 4.0 में पीछे रहने वालों में नहीं बल्कि इस औद्योगिक क्रांति का नेतृत्व करने वालों में से एक है। इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी और डिजिटल टेक्नोलॉजी में भारत अपना परचम लहरा रहा है। आज भारत के हर गांव तक बिजली पहुंच चुकी है। आज भारत का लगभग हर गांव, सड़क मार्ग से जुड़ चुका है। आज भारत के 99% से ज्यादा लोगों के पास क्लीन कुकिंग के लिए गैस कनेक्शन है। आज भारत का हर परिवार बैंकिंग व्यवस्था से जुड़ा हुआ है।

भारत “होता है, चलता है, ऐसे ही चलेगा” बाहर: पीएम
उन्होंने कहा कि दुनिया में हो रहे रियल टाइम डिजिटल पेमेंट्स में से 40% ट्रांजेक्शन भारत में हो रहे हैं। आज भारत डेटा कंजम्प्शन में नए रिकॉर्ड बना रहा है। भारत उन देशों में है जहां डेटा सबसे सस्ता है। उन्होंने कहा कि आज का भारत “होता है, चलता है, ऐसे ही चलेगा” वाली मानसिकता से बाहर निकल चुका है। आज भारत ‘करना है’ ‘करना ही है’ और ‘समय पर करना है’ का संकल्प रखता है।

देश के टीकाकरण अभियान का भी जिक्र किया
पीएम मोदी ने कहा कि आज भारत में 90% वयस्क आबादी को वैक्सीन की दोनों डोज़ लग चुकी हैं। 95% वयस्क ऐसे हैं, जो कम से कम एक डोज़ ले चुके हैं। ये वही भारत है, जिसके बारे में कुछ लोग कह रहे थे कि सवा अरब आबादी को वैक्सीन लगाने में 10-15 साल लग जाएंगे। आज जब मैं आपसे बात कर रहा हूं तो भारत में वैक्सीन का आंकड़ा 196 करोड़ का आंकड़ा पार कर चुका है। मेड इन इंडिया वैक्सीन ने भारत के साथ ही दुनिया के करोड़ों लोगों की कोरोना से जान बचाई है।

पिछले साल सबसे ज्यादा निर्यात किया: मोदी
उन्होंने कहा कि मुश्किल से मुश्किल हालातों में भी भारत के लोगों का हौसला ही हमारी सबसे बड़ी ताकत है। पिछले साल हमने अब तक का सबसे ज्यादा निर्यात किया है। ये इस बात का सबूत है कि एक ओर हमारे निर्माताओं नए अवसरों के लिए तैयार हो चुके हैं। वहीं दुनिया भी हमें उम्मीद और विश्वास से देख रही है।

भारत अब तत्पर है, तैयार है, अधीर है: पीएम
उन्होंने कहा कि भारत अब तत्पर है, तैयार है, अधीर है। भारत अधीर है, प्रगति के लिए, विकास के लिए। भारत अधीर है, अपने सपनों के लिए, अपने सपनों की सिद्धि के लिए। जलवायु परिवर्तन, आज ये भारत में केवल सरकारी नीतियों का मुद्दा नहीं है। भारत का युवा EV और ऐसी ही दूसरी जलवायु के पक्ष में टेक्नॉलोजी में निवेश कर रहा है। सतत जलवायु प्रथाएं आज भारत के सामान्य से सामान्य मानव के जीवन का हिस्सा बन रही हैं।

लोगों को भरोसा है कि उनका पैसा ईमानदारी से देश के लिए लग रहा: मोदी
उन्होंने कहा कि बीते वर्ष भारत ने 111 बिलियन डॉलर के इंजीनियरिंग गुड्स का एक्सपोर्ट किया है। भारत के कॉटन और हैंडलूम उत्पादों के निर्यात में भी 55% की बढ़ोतरी हुई है। आज स्वच्छता भारत में एक जीवनशैली बन रही है। भारत के लोग, भारत के युवा देश को स्वच्छ रखना अपना कर्तव्य समझ रहे हैं। आज भारत के लोगों को भरोसा है कि उनका पैसा ईमानदारी से देश के लिए लग रहा है, भ्रष्टाचार की भेंट नहीं चढ़ रहा।

उन्होंने कहा कि हम सभी भारतीय इस साल अपनी आजादी के 75 वर्ष का पर्व मना रहे है, अमृत महोत्सव मना रहे हैं। आजादी के 75वें वर्ष में भारत अभूतपूर्व समग्रता और इससे प्रोत्साहित होने वाली करोड़ो आकांक्षाओं का गवाह बन रहा है। भारत आज अभूतपूर्व संभावनाओं से भरा है।
 

 

PM Modi
PM Modi - फोटो : ANI
अर्जेंटीना के राष्ट्रपति से मिले मोदी
पीएम नरेंद्र मोदी ने म्यूनिख में अर्जेंटीना के राष्ट्रपति अल्बर्टो फर्नांडीज से मुलाकात की। इस दौरान दोनों नेताओं के बीच कई मुद्दों पर बातचीत हुई। इससे पहले जी-7 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए जर्मनी के म्यूनिख हवाई अड्डा पहुंचने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बावरिया प्रांत के एक बैंड ने अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा जैसा स्वागत किया।बावरिया में विश्व की प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं की वार्षिक बैठक हो रही है।

सरकारी सूत्रों ने इस बात का जिक्र किया कि बावरिया के एक बैंड ने प्रधानमंत्री मोदी का म्यूनिख हवाईअड्डे पर स्वागत किया और इससे पहले प्रांत ने 2015 में अमेरिका के तत्कालीन राष्ट्रपति बराक ओबामा के लिए ऐसी व्यवस्था की थी। सूत्रों की मानें तो बावरिया के मंत्री-राष्ट्रपति रविवार को मोदी सहित विश्व के कई नेताओं के लिए एक रात्रिभोज की मेजबानी कर रहे हैं। लेकिन मोदी को एक तरह से ‘गेस्ट ऑफ ऑनर’ का दर्जा दिया गया है और इस अवसर पर संबोधन देने वाले वह एक मात्र नेता होंगे।

मोदी दो दिवसीय यात्रा पर रविवार को जर्मनी पहुंचे, जिस दौरान वह जी-7 शिखर सम्मेलन में शामिल होंगे और ऊर्जा, खाद्य सुरक्षा, आतंकवाद का मुकाबला, पर्यावरण तथा लोकतंत्र के विषयों पर शक्तिशाली समूह एवं इसके साझेदार देशों के साथ चर्चा करेंगे। मोदी जर्मन चांसलर ओलाफ शॉल्त्स के न्योते पर कार्यक्रम में शरीक हो रहे हैं।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00