लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   Pakistan prime minister Imran Khan calls back home minister sheikh Rasheed, who arrived at UAE to watch India Pakistan T20 Worldcup match 

पाकिस्तान पर नई मुसीबत: इमरान के फूले हाथ पांव, भारत-पाक मैच देखने यूएई पहुंचे गृह मंत्री को बुलाया वापस

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, इस्लामाबाद Published by: प्रांजुल श्रीवास्तव Updated Sun, 24 Oct 2021 08:22 AM IST
सार

पाकिस्तान इन दिनों हिंसा की आग में जल रहा है। कट्टरपंथी संगठन टीएलपी देश के अलग-अलग हिस्सों में उग्र प्रदर्शन कर रहा है। इस प्रदर्शन में तीन पुलिसकर्मियों की मौत हो चुकी है तो कई लोग घायल हो चुके हैं।

इमरान खान (फाइल फोटो)
इमरान खान (फाइल फोटो) - फोटो : Twitter
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

पाकिस्तान में इन दिनों आंतरिक सुरक्षा का खतरा मंडरा रहा है। यह खतरा इतना बढ़ गया है कि छुट्टी लेकर भारत-पाक मैच देखने यूएई गए पाकिस्तान के गृहमंत्री शेख रशीद को वापस लौटना पड़ गया है। प्रधानमंत्री इमरान खान ने उन्हें तुरंत पाकिस्तान बुला लिया है। रशीद खान ऐसे समय पर दुबई गए थे, जब पाकिस्तान में धार्मिक कट्टरपंथी संगठन तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान का हिंसक प्रदर्शन चल रहा है। इस प्रदर्शन में लाहौर में तीन पुलिसकर्मियों की मौत हो चुकी है तो कई लोग घायल हुए हैं। 



इमरान ने ही की थी दो दिन की छुट्टी मंजूर 
भारत-पाकिस्तान टी-20 विश्वकप मुकाबला देखने के लिए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने ही गृहमंत्री शेख रशीद की छुट्टी मंजूर की थी। यूएई रवाना होने से पहले उन्होंने मीडिया को बताया था कि लाइव मैच देखने के लिए प्रधानमंत्री ने उनकी दो दिन की छुट्टी मंजूर कर दी है, लेकिन अब उन्हें बिना मैच देखे ही वापस आना पड़ गया है। 


टीएलपी ने की है लंबे मार्च की घोषणा 
पाकिस्तान में कई विपक्षी दल देश के अलग-अलग हिस्सों में प्रदर्शन कर रहे हैं। यह प्रदर्शन हिंसक होता जा रहा है। इस बीच टीएलपी ने शुक्रवार को इस्लामाबाद की ओर लंबे मार्च की घोषणा कर दी है। इसी के बाद से पाकिस्तान सरकार के हाथ-पांव फूल गए हैं। इससे पहले हुए प्रदर्शनों में पुलिस को लाठी चार्ज और आंसू गैस के गोले तक दागने पड़े थे। 

क्यों कर रहा है टीएलपी प्रदर्शन
टीएलपी समर्थक अपने मुखिया साद हुसैन रिजवी की रिहाई की मांग कर रहे हैं। रिजवी को पुलिस ने 12 अप्रैल को हिंसा भड़काने के आरोप में हिरासत में लिया था, तब से वह पुलिस हिरासत में ही है। इसके साथ ही सरकार ने टीएलपी को प्रतिबंधित भी कर दिया था। टीएलपी समर्थक इसी कार्रवाई के खिलाफ और रिजवी की रिहाई की मांग कर रहे हैं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00