लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   Imran Khan to hold Election Karao Mulk Bachao campaign across Pak

Imran Khan: इमरान शुरू करेंगे 'चुनाव कराओ मुल्क बचाओ' अभियान, पूरे पाकिस्तान में होंगी रैलियां

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, इस्लामाबाद Published by: सुरेंद्र जोशी Updated Tue, 06 Dec 2022 10:56 AM IST
सार

इमरान खान की पीटीआई पार्टी यह आंदोलन शाहबाज शरीफ सरकार पर पाकिस्तान में जल्दी चुनाव कराने की मांग को लेकर दबाव डालने के लिए करेगी। इससे करीब एक सप्ताह पहले पीटीआई ने एलान किया था वह मौजूदा राजनीतिक सिस्टम का हिस्सा नहीं रहेगी और उसके सारे नेता विभिन्न पदों से इस्तीफे देंगे।

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान।
पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान। - फोटो : ANI
विज्ञापन

विस्तार

पाकिस्तान में सत्तारूढ़ शाहबाज शरीफ गठबंधन सरकार के खिलाफ पूर्व पीएम इमरान खान की पार्टी 'चुनाव कराओ, मुल्क बचाओ' अभियान शुरू करने वाली है। इसके पहले चरण पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) पार्टी 7 से 17 दिसंबर तक लाहौर में बड़ी रैलियां व सभाएं आयोजित करेगी। 



इमरान खान की पीटीआई पार्टी यह आंदोलन शाहबाज शरीफ सरकार पर पाकिस्तान में जल्दी चुनाव कराने की मांग को लेकर दबाव डालने के लिए करेगी। इससे करीब एक सप्ताह पहले पीटीआई ने एलान किया था वह मौजूदा राजनीतिक सिस्टम का हिस्सा नहीं रहेगी और उसके सारे नेता विभिन्न पदों से इस्तीफे देंगे। जियो न्यूज के अनुसार इमरान ने 'चुनाव कराओ, मुल्क बचाओ' अभियान का एलान लाहौर में अपने निवास पर पार्टी पदाधिकारियों की बैठक में किया। 


27 नवंबर को इमरान खान ने अपनी हत्या के प्रयास के बाद पहली रैली निकाली थी। इसमें उन्होंने घोषणा की थी कि वे अपना इस्लामाबाद कूच कार्यक्रम छोटा करेंगे और उनकी पार्टी के सारे विधायक सांसद पाकिस्तान की असेंबलियों से इस्तीफे दे देंगे। 

पीटीआई द्वारा द्वारा ट्विटर पर साझा किए गए एक वीडियो में पूर्व पीएम खान को यह कहते हुए सुना जा सकता है, 'हम इस सरकार का हिस्सा नहीं बनना चाहते हैं। मैं अपने सभी मुख्यमंत्रियों और हमारे संसदीय दल (नेताओं) से मिलूंगा। हमने तय किया है कि हम सभी विधानसभाओं से इस्तीफे देंगे। अपने ही देश में अराजकता और हिंसा फैलाने के बजाय, यह बेहतर होगा कि हम इस भ्रष्ट सरकार से बाहर निकलें।

हालांकि, 4 दिसंबर को खान ने पंजाब और खैबर पख्तूनख्वा प्रांतों की विधानसभाओं को भंग किए जाने से रोकने की इच्छा व्यक्त की। जियो न्यूज ने एक पाकिस्तानी समाचार चैनल के साथ इमरान खान के साक्षात्कार का हवाला देते हुए कहा कि पूर्व पीएम का कहना है कि यदि मार्च तक देश में चुनाव होते हैं तो इन असेंबलियों को भंग होने से बचाया जा सकता है। 

सरकार गिरने के बाद से कर रहे चुनाव की मांग
70 वर्षीय इमरान खान इस साल की शुरुआत में उनकी सरकार के पतन के बाद से पाकिस्तान में नए सिरे से चुनाव की मांग कर रहे हैं। नेशनल असेंबली में विश्वास मत हारने के बाद उन्हें सत्ता से बेदखल होना पड़ा था। खान अपने बाद पीएम बने शहबाज शरीफ और उनके सहयोगियों पर लगातार भ्रष्टाचार के आरोप लगा रहे हैं। 

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00