लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   World ›   Global warming will increase water shortage in the world, 26% of world lacks clean drinking water, 46% sanitat

UN report: पानी को लेकर संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट ने बढ़ाई दुनिया की चिंता, तीन बिंदुओं में जानें सबकुछ

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: हिमांशु मिश्रा Updated Wed, 22 Mar 2023 10:15 AM IST
सार

50 साल के इतिहास में पहली बार संयुक्त राष्ट्र की ओर से संयुक्त राष्ट्र 2023 जल सम्मेलन का आयोजन होगा। इसमें दुनियाभर के 6500 से ज्यादा विशेषज्ञ और अतिथि शामिल होंगे। अलग-अलग राज्यों के राष्ट्राध्यक्ष और मंत्री भी इस सम्मेलन का हिस्सा बनेंगे। 

Global warming will increase water shortage in the world, 26% of world lacks clean drinking water, 46% sanitat
दुनिया में पानी का संकट - फोटो : सोशल मीडिया

विस्तार

दुनिया में पानी की कमी का संकट झेल रहे देशों में मुसीबत बढ़ने वाली है। संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि दुनिया के दो अरब लोगों यानी 26% आबादी अभी भी साफ और सुरक्षित पेयजल की पहुंच से दूर है। इसके अलावा 3.6 अरब लोग यानी 46% आबादी साफ-सफाई के दायरे से दूर है। 


रिपोर्ट में ये भी दावा किया गया है कि ग्लोबल वॉर्मिंग की समस्या और बढ़ने वाली है। जहां पानी का संकट है, उन इलाकों में पानी की कमी का दबाव और अधिक बढ़ जाएगा। रिपोर्ट के अनुसार, 'अत्यधिक खपत और जलवायु परिवर्तन ने दुनिया भर में पानी की गंभीर कमी को जन्म दिया है जो "स्थानिक" बन गया है।' 


रिपोर्ट में और क्या कहा गया? 
  • संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट में कहा गया है कि यह एक वैश्विक संकट का "आसन्न जोखिम" पैदा कर रहा है। 
  • दो अरब लोग अभी भी सुरक्षित पेयजल की पहुंच से दूर हैं और 3.6 अरब लोगों की स्वच्छता तक पहुंच नहीं है। 
  • ग्लोबल वार्मिंग प्रचुर मात्रा में पानी वाले क्षेत्रों के साथ-साथ उन क्षेत्रों में पानी की कमी को और बढ़ा देगा जो पहले से ही तनावग्रस्त हैं।

यूएन महासचिव ने क्या कहा? 
रिपोर्ट की प्रस्तावना में संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने लिखा है कि दुनिया आंख बंद करके एक खतरनाक रास्ते पर चल रही है, क्योंकि 'अस्थिर जल उपयोग, प्रदूषण और अनियंत्रित ग्लोबल वार्मिंग' मानवता के जीवन रक्त को बहा रही है।

रिपोर्ट के प्रमुख लेखक रिचर्ड कॉनर ने न्यूज एजेंसी को बताया, 'अगर कुछ नहीं किया जाता है, तो यह एक व्यापार-सामान्य परिदृश्य होगा। दुनिया की 40 से 50 प्रतिशत की आबादी स्वच्छता से दूर रहेगी और लगभग 20-25 प्रतिशत आबादी के पास सुरक्षित जल आपूर्ति की पहुंच नहीं होगी। जैसे-जैसे वैश्विक आबादी बढ़ेगी, इन सेवाओं से दूर होने वालों की संख्या में भी इजाफा होगा। 

पहली बार जल सम्मेलन आयोजित होगा
50 साल के इतिहास में पहली बार संयुक्त राष्ट्र की ओर से संयुक्त राष्ट्र 2023 जल सम्मेलन का आयोजन होगा। इसमें दुनियाभर के 6500 से ज्यादा विशेषज्ञ और अतिथि शामिल होंगे। अलग-अलग राज्यों के राष्ट्राध्यक्ष और मंत्री भी इस सम्मेलन का हिस्सा बनेंगे। 
विज्ञापन
 
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election

फॉन्ट साइज चुनने की सुविधा केवल
एप पर उपलब्ध है

बेहतर अनुभव के लिए
4.3
ब्राउज़र में ही
एप में पढ़ें

क्षमा करें यह सर्विस उपलब्ध नहीं है कृपया किसी और माध्यम से लॉगिन करने की कोशिश करें

Followed