पहली बार लैब में विकसित हुए मनुष्य के अंडाणु, अब मिल सकेगी बांझपन से निजात

एजेंसी, लंदन Updated Fri, 09 Feb 2018 08:31 PM IST
Scientists have succeeded in developing the human eggs grown in lab for the first time
human egg - फोटो : HANDOUT
वैज्ञानिकों ने दुनिया में पहली बार प्रयोगशाला के भीतर मनुष्य के अंडाणु विकसित करने में कामयाबी हासिल की है। यूनिवर्सिटी ऑफ एडिनबर्ग ने यह अभूतपूर्व खोज की है। शोधकर्ताओं की टीम के मुताबिक इस खोज से कैंसर का इलाज कराने वाली बच्चियों में गर्भधारण क्षमता बचाई जा सकेगी और बांझपन का इलाज भी संभव हो सकेगा।
विशेषज्ञों के मुताबिक इस खोज से यह पता लगाने में भी मदद मिलेगी कि आखिर मानव अंडाणु विकसित कैसे होते हैं क्योंकि अभी यह विज्ञान के लिए एक रहस्य है। शोधकर्ताओं की मानें तो यह खोज एक बड़ी कामयाबी है, लेकिन क्लीनिक में इसके इस्तेमाल के लिए कई प्रयोग करने होंगे। तकनीक को अभी और बेहतर बनाना होगा। 

प्रयोग के दौरान सिर्फ दस फीसदी अंडे पूरी तरह विकसित होने में कामयाब हो पाए हैं। विकसित अंडों को भी प्रजनन के लिए इस्तेमाल नहीं किया गया है। इसलिए यह ठीक से नहीं कहा जा सकता है कि यह कितने कारगर होंगे। जर्नल मॉलिक्यूलर ह्यूमन रिप्रॉडक्शन में यह शोध प्रकाशित हुआ है।
आगे पढ़ें

यूं मिलेगी कैंसर के मरीजों को मदद

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news, Crime all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

Spotlight

Most Read

Europe

ईरानी ड्रोन का टूटा हिस्सा हाथ में लेकर PM नेतन्याहू की खुली चेतावनी, कहा- न लें इम्तिहान

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने ईरान को खुली चेतावनी दी है।

18 फरवरी 2018

Related Videos

सोशल मीडिया पर छाई, बहन-भाई की लड़ाई

सोशल मीडिया पर भाई-बहन का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें दोनों लोग एक दूसरे से झगड़ते नजर आ रहे हैं। ये वीडियो काफी पसंद किया जा रहा है...

21 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen