लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   Emmanuel Macron Says On India G20 Presidency, trust my friend Narendra Modi to bring us together

G20: 'दुनिया में शांति लाने के लिए सभी देशों को एकजुट करेंगे पीएम मोदी', फ्रांस के राष्ट्रपति ने किया ट्वीट

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, पेरिस Published by: संजीव कुमार झा Updated Sun, 04 Dec 2022 12:01 PM IST
सार

भारत को G-20 की अध्यक्षता मिलने के बाद फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ अपनी एक तस्वीर ट्वीट की।

पीएम मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों
पीएम मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों - फोटो : [email protected] Emanuel Macron
विज्ञापन

विस्तार

भारत को G-20 की अध्यक्षता मिलने के बाद फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ अपनी एक तस्वीर ट्वीट की। अपने ट्वीट में उन्होंने पीएम मोदी की तारीफ की। मैक्रों ने लिखा कि "एक धरती, एक परिवार, एक भविष्य'' भारत ने जी20इंडिया की अध्यक्षता संभाली है। मैं अपने मित्र नरेंद्र मोदी पर भरोसा करता हूं कि वे हमें शांति और अधिक टिकाऊ दुनिया बनाने के लिए साथ लाएंगे। बता दें कि इससे पहले कई अन्य देशों ने भी उम्मीद जताई है कि पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत में होने वाला G20 समिट निर्णायक साबित होगा।



भारत ने संभाली G-20 की कमान, पीएम मोदी ने दिया संदेश
बता दें कि एक दिसंबर 2022 से भारत ने G-20 की कमान संभाल ली है जिसे देश के लिए एक बड़ा अवसर कहा गया है। इस सप्ताह एक ब्लॉग में, पीएम मोदी ने रेखांकित किया कि भारत का G20 एजेंडा समावेशी, महत्वाकांक्षी, कार्रवाई-उन्मुख और निर्णायक होगा। दुनिया आज जिन सबसे बड़ी चुनौतियों का सामना कर रही है, उन्हें एक साथ काम करके ही हल किया जा सकता है। आइए हम भारत के G20 प्रेसीडेंसी को उपचार, सद्भाव और आशा की प्रेसीडेंसी बनाने के लिए एक साथ शामिल हों।



75 वर्षों की अपनी उपलब्धियों और प्रगति बताएगा भारत
भारत जी-20 में संस्कृति, सांस्कृतिक विरासत, विविधता और 75 वर्षों की अपनी उपलब्धियों और प्रगति को भी पेश करेगा। विदेश मंत्रालय की तरफ से जारी बयान के अनुसार भारत अपनी अध्यक्षता में अगले साल 9 और 10 सितंबर को जी-20 के नेताओं के शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेगा। पहली तैयारी बैठक 4-7 दिसंबर को उदयपुर में होगी। 

सबसे बड़ा आयोजन बनाने की मुहिम 
मंत्रालय के मुताबिक कार्यक्रम को अंतिम रूप देने की प्रक्रिया चल रही है। भारत जिस बड़े पैमाने पर सम्मेलन के आयोजन की रूपरेखा तैयार कर रहा है उतने बड़े पैमाने पर अब तक जी-20 की बैठक नहीं हुई है। चीन में 14 और इंडोनेशिया में 25 शहरों में जी-20 की बैठक आयोजित हुई थीं।

75 विश्वविद्यालयों के युवा बनेंगे सम्मेलन का हिस्सा 
देश के 75 विश्वविद्यालयों के युवाओं को सम्मेलन का हिस्सा बनाने की योजना है। जी-20 से संबंधित सेल्फी प्वाइंट बनाए जाएंगे जहां लोग फोटो खिंचा सकेंगे। ऑडियो-वीडियो के माध्यम से देश के नागरिकों को सम्मेलन की जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी। एफएम रेडियो भी प्रचार का माध्यम बनेगा।

G-20 समूह में ये देश हैं शामिल
G-20 देशों के समूह  में अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, कोरिया गणराज्य, मैक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, तुर्की, ब्रिटेन, अमेरिका और यूरोपीय संघ (ईयू) शामिल हैं।

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00