विज्ञापन

कोरोनावायरस : रूस की चीन से सटी सीमाएं सील, मरने वालों की संख्या 132, करीब 6,000 मामलों की पुष्टि

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, बीजिंग/नई दिल्ली। Updated Wed, 29 Jan 2020 05:35 AM IST
विज्ञापन
कोरोनावायरस के लक्षण
कोरोनावायरस के लक्षण - फोटो : Amar Ujala Graphics
ख़बर सुनें

सार

  • चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 132, करीब 6,000 मामलों की पुष्टि
  • कनाडा, श्रीलंका और कंबोडिया में मिले पहले मरीज
  • अमेरिका ने अपने लोगों से कहा चीन जाने से पहले एक बार सोचें
  • ब्रिटेन के पीएम बोले अपने नागरिकों की वापसी के लिए पूरा इंतजाम
  • श्रीलंका ने चीन के लोगों को वीजा ऑन अराइवल देना किया बंद
  • 204 छात्रों को श्रीलंका ने चीन से अपने देश वापस बुला लिया है
  • सभी देशों का पहला लक्ष्य नागरिकों की वापसी

विस्तार

कोरोनावायरस की दहशत दुनिया के अन्य देशों में तेजी से फैल रही है। चीन में घातक कोरोना वायरस का कहर बढ़ता जा रहा है इससे 25 और लोगों के मारे जाने की पुष्टि हुई है, जिसके साथ ही इससे मरने वालों की संख्या बढ़कर 132 हो गई है। करीब 6,000 लोगों के इसकी चपेट में आने की पुष्टि की गई है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि वायरस संक्रमण अगले 10 दिन में चरम पर पहुंच जाएगा जिसके परिणाम स्वरूप बड़ी संख्या में लोगों की मौत होगी।
विज्ञापन


रूस ने चीन से लगती सीमाएं सील कर दी हैं तो ब्रिटेन, जापान, अमेरिका समेत दर्जनों देशों ने चीन से अपने नागरिकों को एयरलिफ्ट कराना शुरू कर दिया है अथवा वापस बुलाने की तैयारी कर रहे हैं। श्रीलंका ने अपने 204 छात्रों को वापस बुलाने के साथ चीनी नागरिकों को एयरपोर्ट पर पहुंचते ही वीजा देने की सुविधा बंद कर दी है। दूसरी ओर जर्मनी में भी कोरोनावायरस के तीन और मामलों की पुष्टि हुई है। इनमें जर्मनी में सबसे पहले जिस व्यक्ति को कोरोनावायरस पॉ़जिटिव पाया गया था उसके सहकर्मी भी शामिल हैं।

रूस ने चीन से लगती तीन पूर्वी सीमाओं को सात फरवरी तक बंद कर दिया है। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने मंगलवार को कहा वे अपने देश के नागरिकों की वापसी के लिए मुकम्मल इंतजाम करेंगे। अमेरिका ने अपने नागरिकों से चीन यात्रा पर पुनर्विचार की अपील की है। श्रीलंका में कोरानावायरस से पीड़ित पहला मरीज मिलने के बाद वहां की सरकार ने चीन के लोगों को आगमन के साथ वीजा वीजा ऑन अराइवल देना बंद कर दिया है।

श्रीलंका में चीन की 40 वर्षीय महिला में वायरस की पुष्टि हुई है जो 19 जनवरी को श्रीलंका आई थी। श्रीलंका ने तीन दिन के भीतर कुल 204 छात्रों को विशेष विमान से वापस अपने देश बुला लिया है। कनाडा और कंबोडिया में भी मंगलवार को एक-एक मरीज में वायरस की पुष्टि हुई जिसके बाद वहां की सरकारें अलर्ट हो गई हैं।

जापान के विदेश मंत्री तोसीमिट्सु मोटेगी ने भी कहा है कि हमने सभी तैयारी कर ली हैं। चीन से बात हो गई है और जल्द ही विशेष विमान भेजकर वहां फंसे जापानी लोगों को वापस अपने देश लाया जाएगा। जापान के करीब 650 छात्र व लोग हैं जिनमें से 200 लोगों की वापसी होगी।

थाईलैंड में छह और मामलों की पुष्टि
थाईलैंड ने मंगलवार को कोरोनावायरस के छह नए मामले सामने आने पुष्टि की है, इसके साथ ही देश में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 14 हो गई है। टेलीविजन पर प्रसारित एक संदेश में थाई प्रधानमंत्री प्रीयुत चान-ओ-चा ने कहा कि सरकार ने स्थिति को पूरी तरह से अपने नियंत्रण में ले लिया है और एहतियाती उपाय जो किए जा रहे हैं वे अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुरूप हैं।

उन्होंने कहा कि पुष्टि किए गए कुल मामलों में से पांच मरीजों की हालत में सुधार के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है, जबकि अन्य मरीजों को चिकिस्ता निगरानी में रखा गया है। उन्होंने आगे कहा कि देश के स्वास्थ्य मंत्रालय ने अपने राष्ट्रव्यापी सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकालीन अभियान को और तेज कर दिया है।

संदिग्ध मरीजों के साथ उड़ान भरने से इनकार
जापान के नागोया स्थित चुबू सेंटएअर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पपर मंगलवार को जबर्दस्त हंगामा हुआ। 16 वुहान निवासी यात्रियों को एयरपोर्ट पर मेडिकल स्टाफ से वेक्सीन लगवाते देखकर चीन के ही शंघाई जा रहे यात्रियों ने उनके साथ उड़ान भरने से मना कर दिया। शंघाई के करीब 70 यात्रियों ने एयरलाइन से मांग की कि इन 16 वुहान निवासियों को विमान में न चढ़ने दिया जाए। इसके नतीजतन महज 2 घंटे की उड़ान 5 घंटे लेट हो गई।

म्यांमार में भारतीयों पर बंदिशें
कोरोनावायरस के बढ़ते कहर को देख म्यांमार ने भारत-म्यांमार सीमा पर थर्मोमीटर लगा दिया है ताकि सीमा से भीतर आने वाले भारतीय लोगों की जांच हो सके। म्यांमार सरकार ने मणिपुर की सीमा से लगती मोरेह स्थित नामफालॉन्ग बाजार की सीमा पर डिवाइस लगाई है।

मोरेह भारत और म्यांमार के बीच व्यापार का सबसे बड़ा केंद्र है। म्यामांर ने ये भी तय कर दिया है कि भारतीय लोग म्यांमार के भीतर सिर्फ 16 किलोमीटर ही आ सकते हैं। शाम चार बजे तक उन्हें वापस भी जाना होगा।

चीन के अलावा 18 देशों में आतंक
श्रीलंका 1, थाईलैंड 14, हांगकांग 8, अमेरिका 5, ताईवान 5, ऑस्ट्रेलिया 5, मकाऊ 5, सिंगापुर 4, जापान 4, दक्षिण कोरिया 4, मलेशिया 4,  फ्रांस 3, कनाडा 2, वियतनाम 2, नेपाल 1, कंबोडिया 1, जर्मनी 1, कनाडा 1।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

हांगकांग में खेल मैदान और संग्रहालय बंद

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us