लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   China operating over 100 police stations across world with help of some host nations report claims

China Police Stations: चीन ने दुनियाभर में खोल दिए 100 से ज्यादा पुलिस स्टेशन, एजेंट्स को दी गई यह जिम्मेदारी

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: गुलाम अहमद Updated Tue, 06 Dec 2022 08:20 PM IST
सार

China police stations: मैड्रिड स्थित मानवाधिकार संस्था सेफगार्ड डिफेंडर्स ने सितंबर 2022 में चीन के पुलिस थानों को लेकर खुलासा किया था। रिपोर्ट के मुताबिक चीन ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी उपस्थिति के लिए कई देशों के साथ द्विपक्षीय सुरक्षा समझौते भी किए हैं।

शी जिनपिंग
शी जिनपिंग - फोटो : Social Media
विज्ञापन

विस्तार

चीन की नई चालबाजी का खुलासा हुआ है, जिससे दुनियाभर में हड़कंप मच सकता है। दरअसल, एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि चीन ने शातिर तरीके से कई देशों में 100 से अधिक पुलिस स्टेशन खोल दिए हैं। लेकिन चीन की इस शातिर चाल की किसी को भनक तक नहीं लगी।


मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन इन पुलिस थानों के जरिए विदेश में रहने वाले अपने नागरिकों की निगरानी करना चाहता है। इसके अलावा इन थानों को दूसरे देशों में रहने वाले चीनी नागरिकों को परेशान करने और उन्हें वापस लाने की काम सौंपा गया है। रिपोर्ट के मुताबिक, मैड्रिड स्थित मानवाधिकार संस्था सेफगार्ड डिफेंडर्स (Safeguard Defenders) ने सितंबर 2022 में चीन के पुलिस थानों को लेकर खुलासा किया था।


रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि चीन ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी उपस्थिति के लिए यूरोप और अफ्रीका के कुछ देशों के साथ द्विपक्षीय सुरक्षा व्यवस्था के लिए समझौते भी किए हैं। साथ ही चीन और यूरोप के कुछ देशों के बीच संयुक्त पुलिस पहल ने ड्रैगन को विदेश में थानों को स्थापित करने में मदद की है। रिपोर्ट के मुताबिक, इटली, सर्बिया, क्रोएशिया और रोमानिया में भी चीन ने पुलिस थाने बनाए हैं। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि फ्रांस की राजधानी पेरिस में गुप्त तरीके से काम कर रहे एजेंट्स ने एक चीनी नागरिक को वापस लौटने  के लिए मजबूर किया था। सर्बिया और स्पेन से भी दो चीनी निर्वासितों के साथ भी ऐसा किया गया।

53 देशों में सक्रिय हैं चीन के पुलिस थाने
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सेफगार्ड डिफेंडर्स ने 53 देशों में सक्रिय चीन के सार्वजनिक सुरक्षा मंत्रालय के चार अलग-अलग पुलिस थानों की पहचान की है। सेफगार्ड डिफेंडर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, वैश्विक कोविड महामारी से पहले ही चीन ने कुछ देशों में ऐसे सेंटर शुरू कर दिए थे। चीन के पुलिस नेटवर्क ने 21 स्टेशनों के लिए 135 एजेंट्स बनाए थे। वहीं, चीन के इन पुलिस थानों का खुलास होने के बाद 13 देशों में जांच शुरू की गई है। साथ ही इससे चीन का कनाडा जैसे देशों से तनाव भी बढ़ सकता है।

चीन ने पेश की सफाई
हालांकि, चीन ने दूसरे देशों में पुलिस स्टेशन संचालित किए जाने की रिपोर्ट को खारिज कर दिया है। उसने कहा है कि चीन को बदनाम करने के लिए इस तरह के हथकंडों का सहारा लिया जा रहा है, जो अस्वीकार्य है। हम आशा करते हैं कि ऐसी खबरों को संबंधित पक्ष बढ़ा-चढ़ाकर पेश करना बंद करेंगे। चीन ने यह भी कहा कि ये सेंटर कोविड-19 महामारी के बाद दूसरे देशों में फंसे नागरिकों की मदद के लिए खोले गए थे। चीन के मुताबिक, ये सेंटर्स वॉलेंटियर्स द्वारा संचालित किए जाते हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00