लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   B-21 raider joins US Air Force, know its features and specialties comparison with Rafale Aircraft

B-21: दुनिया में कहीं भी तबाही मचा सकता है B-21 रेडर, राफेल से खतरनाक और रडार को चकमा देगा यह आधुनिक बॉम्बर

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: प्रांजुल श्रीवास्तव Updated Sat, 03 Dec 2022 12:27 PM IST
सार

रेडर B-21 विमान छठे जनरेशन का एकलौता एयरक्राफ्ट है। चीन, रूस, ब्रिटेन और फ्रांस जैसे बड़े देश इस तकनीकि पर काम कर रहे हैं। जबकि, रेडर अमेरिकी वायु सेना में शामिल हो चुका है। 

बी-21 रेडर
बी-21 रेडर - फोटो : सोशल मीडिया
विज्ञापन

विस्तार

दुनिया का सबसे खतरनाक और एडवांस एयरक्राफ्ट B-21 अमेरिकी वायुसेना के बेड़े में शामिल हो गया है। फ्रांस के सबसे आधुनिक लड़ाकू विमान राफेल से भी एडवांस इस एयरक्राफ्ट को दो दिसंबर को लॉन्च किया गया। अधिकारियों के मुताबिक, नए साल यानी 2023 में यह विमान अपनी पहली उड़ान भरेगा। इसके बाद अमेरिकी वायुसेना दुनिया के किसी भी कोने में हमला करने में सक्षम हो जाएगी। आइए जानते हैं इस खतरनाक लड़ाकू विमान की खासियत और राफेल के मुकाबले कितना है यह खतरनाक....



छठे जनरेशन का एकलौता एयरक्राफ्ट 
रेडर B-21 विमान छठे जनरेशन का एकलौता एयरक्राफ्ट है। जबकि, राफेल चौथी और पांचवी जनरेशन का विमान है। अभी तक अमेरिका को छोड़कर किसी देश के पास छठी जनरेशन का विमान नहीं है। चीन, रूस, ब्रिटेन और फ्रांस जैसे बड़े देश इस तकनीकि पर काम कर रहे हैं। 


रडार को देता है चकमा 
दुनिया में अभी तक ऐसा कोई रडार नहीं बना जो रेडर B-21 को पकड़ पाए। इसका सॉफ्टवेयर इतना अपग्रेड है कि यह बिना भनक लगे किसी भी देश में हमला करके लौट आने में सक्षम है। यह लड़ाकू विमान अमेरिकी एयरफोर्स के B-1 व B-2 ग्रुप के एयरक्राफ्ट का अपडेटेड वर्जन है। 

दुनिया का सबसे छोटा बॉम्बर एयरक्राफ्ट 
जानकारी के मुताबिक, रेडर B-21 दुनिया का सबसे छोटा बॉम्बर एयरक्राफ्ट है। यानी यह जितना ज्यादा खतरनाक है, साइज में उतना ही छोटा भी है। इस विमान को लंबे समय तक लड़ाई में लड़ने के लिए सक्षम बनाया गया है। दुनिया के किसी भी हिस्से की निगरानी, खुफिया जानकारी के अलावा हमला करने में यह विमान सक्षम होगा। 

अमेरिका के पास होंगे 100 एयरक्राफ्ट 
अमेरिका ने इस बॉम्बर एयरक्रॉफ्ट को बनाने वाली कंपनी नॉर्थ्राप ग्रूमैन से छह विमान खरीदे हैं। योजना के तहत आगे चलकर अमेरिकी वायु सेना 100 रेडर बी-21 की खरीद कर सकती है। 

राफेल के मुकाबले कितना खतरनाक?
राफेल के मुकाबले रेडर बी-21 बॉम्बर एयरक्राफ्ट काफी खतरनाक है। राफेल जहां चौथी और पांचवी पीढ़ी का विमान है तो रेडर छठी जनरेशन का एयरक्रॉफ्ट है। वहीं राफेल की स्पीड 1912 किलोमीटर/ घंटा है तो रेडर 3600 किलोमीटर/ घंटा की रफ्तार से उड़ान भर सकता है। यह विमान पायलट के बिना ऑपरेट हो सकता है। 
विज्ञापन
 

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00