सैंडी से अब तक 90 लोगों की मौत

बीबीसी हिन्दी Updated Fri, 02 Nov 2012 09:24 AM IST
sandy death toll hits 90 and keeps rising
अमेरिका के पूर्वी तट पर आए तूफान सैंडी से मरने वालों की संख्या में लगातार इजाफे की खबरें मिल रही हैं। अब तक करीब 90 लोगों के मरने की पुष्टि हो चुकी है और कई लोग अभी भी लापता बताए जा रहे हैं।

अकेले न्यूयॉर्क शहर में अब तक 38 लोगों के मरने की खबर मिल चुकी है। अमेरिका के 12 राज्यों में लगभग 45 लाख लोग अभी भी बिना बिजली के गुजर-बसर कर रहे हैं। विनाशकारी सैंडी की वजह से अमेरिका में अधिक लोग मारे गए हैं। कैरीबियाई क्षेत्र में तूफ़ान ने 69 लोगों की जान ली थी।

भारी नुकसान
नया अनुमान ये है कि तूफ़ान के कारण अमेरिका में 50 अरब डॉलर का नुकसान हुआ है। न्यूयॉर्क के सारे सबवे अभी तक नहीं खुले हैं और सात में चार ट्रेन सुरंगों में पानी भरा हुआ है। न्यूयॉर्क शहर और न्यूजर्सी प्रांत में ज्यादातर पेट्रोल स्टेशन बंद हैं और लोगों को आवाजाही में बड़ी दिक्कतें हो रही हैं।

लोअर मेनहट्टन में भी हजारों घरो में बत्ती गुल है और परिवहन प्रणाली बुरी तरह प्रभावित है। न्यूयॉर्क के गवर्नर एंड्रयू क्यूमो ने नेशनल गार्ड्स को स्थानीय लोगों की मदद करने का आदेश दिया है। उन्होंने राहत और बचावकर्मियों से कहा है कि वे बुजुर्गों और गरीबों को प्राथमिकता दें। मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका है क्योंकि शव अभी भी मिल रहे हैं।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news, Crime all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

Spotlight

Most Read

America

US ने भारतीय मूल के युवक को बताया ग्लोबल टेररिस्ट, ISIS में है बड़ी पहचान

भारतीय मूल के युवक को अमेरिका ने वैश्विक आतंकी घोषित किया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

भारतीय डांक में निकलीं 2,411 नौकरियां, ऐसे करें अप्लाई

करियर प्लस के इस बुलेटिन में हम आपको देंगे जानकारी लेटेस्ट सरकारी नौकरियों की, करेंट अफेयर्स के बारे में जिनके बारे में आपसे सरकारी नौकरियों की परीक्षाओं या इंटरव्यू में सवाल पूछे जा सकते हैं और साथ ही आपको जानकारी देंगे एक खास शख्सियत के बारे में।

24 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls