राजस्थान का वह शहर जहां है ब्रह्मा मंदिर 

अमर उजाला

Thu, 26 May 2022

Image Credit : सोशल मीडिया

पुष्कर सरोवर

यह तीर्थस्थलों का राजा कहलाता है। 10 मीटर गहरी यह झील 500 से अधिक मंदिरों और 52 घाटों से घिरी हुई है
Image Credit : सोशल मीडिया

ब्रह्मा मंदिर

विश्व का एक मात्र ब्रह्मा मंदिर पुष्कर में ही है। इसी मंदिर में जूते पहने हुए भगवान सूर्य की मूर्ति भी है
Image Credit : सोशल मीडिया

गुरुद्वारा सिंह सभा

इसे 19वीं सदी में पहले और 10वें गुरु श्री गुरु नानक देव जी और श्री गुरु गोविन्द सिंह जी की यात्रा की स्मृति में बनाया गया था
Image Credit : सोशल मीडिया

वराह मंदिर

12वीं शताब्दी के शासक राजा अन्नाजी चौहान ने यह मंदिर भगवान विष्णु के तीसरे अवतार वराह को समर्पित कर बनवाया था
Image Credit : सोशल मीडिया

सावित्री मंदिर

यह ब्रह्मा जी की पहली पत्नी का मंदिर है। यह एक ऊंची पहाड़ी पर बना हुआ है 
Image Credit : सोशल मीडिया

रंग जी मंदिर

यह भगवान विष्णु के अवतार रंग जी का मंदिर है 
Image Credit : सोशल मीडिया

पाप मोचिनी मंदिर

यह मंदिर देवी एकादशी को समर्पित है। यह राजस्थान के सबसे लोकप्रिय मंदिरों में से एक है
Image Credit : सोशल मीडिया

श्री पंचकुंड शिव मंदिर

इस मंदिर का निर्माण पांडवों द्वारा किया गया था। हजारों लोग यहां दर्शन के लिए आते हैं
Image Credit : सोशल मीडिया

अटभटेश्वर महादेव मंदिर

12वीं शताब्दी के इस मंदिर में भूमिगत तहखाना है। शिवरात्रि पर यहां हजारों श्रद्धालु आते हैं
Image Credit : सोशल मीडिया

LG Oath Ceremony: हाथ मिले क्या मिलेंगे दिल

पीटीआई
Read Now