Hindi News ›   Uttarakhand ›   Udham Singh Nagar ›   Three arrested in murder case.

भाजपा नेता की हत्या के मामले में पिता और दो बेटे गिरफ्तार

Haldwani Bureau हल्द्वानी ब्यूरो
Updated Tue, 17 May 2022 01:24 AM IST
रुद्रपुर में पुलिस की गिरफ्त में हत्या आरोपी।
रुद्रपुर में पुलिस की गिरफ्त में हत्या आरोपी। - फोटो : RUDRAPUR
विज्ञापन
ख़बर सुनें
रुद्रपुर। खनन को लेकर शांतिपुरी में हुई पंतनगर मंडल महामंत्री संदीप कार्की की हत्या मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी, उसके भाई और पिता को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त तमंचा, एक कारतूस का खोखा बरामद किया है। आरोपियों की कार को सीज कर दिया गया है।

सोमवार को एसएसपी मंजूनाथ टीसी ने पत्रकारों को बताया कि शनिवार की सुबह खनन विवाद को लेकर शांतिपुरी में दो पक्षों के बीच विवाद हो गया था। ललित मेहता ने संदीप कार्की पर तमंचे से फायर किया था। रुद्रपुर के प्राइवेट अस्पताल में इलाज के दौरान संदीप की मौत हो गई थी।

पुलिस ने रविवार को शांतिपुरी में लालकुआं रोड पर मंदिर के पास ललित मेहता के पिता मोहन सिंह मेहता को गिरफ्तार कर लिया था। ललित सिंह मेहता को नगला बाईपास से आगे पकड़ा गया। उसकी निशानदेही पर उसके भाई दीपक मेहता को भी गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि खनन व्यापार के चलते उनके और संदीप कार्की के बीच कई दिनों से विवाद चल रहा था। हाल ही में आरोपियों की जेसीबी पकड़ी गई थी तो उन्हें शक था कि जेसीबी संदीप कार्की के जरिये पकड़ी गई है। एसएसपी ने बताया कि आरोपियों पर गैंगस्टर एक्ट की धारा भी पंजीकृत की जाएगी। पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद कोर्ट के समक्ष पेश किया है जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है।
आरोपियों को शरण देने वालों पर दर्ज होगा मुकदमा
रुद्रपुर। भाजपा नेता संदीप कार्की की हत्या करने के बाद फरार हुए मोहन, ललित और दीपू किसी के घर में छिपे थे। एसएसपी का कहना है कि शरण देने वाले पर धारा 120 बी के तहत मुकदमा दर्ज कर उसे जेल भेजा जाएगा। हालांकि पुलिस ने शरण देने वाले का नाम अभी नहीं बताया है।
घटनास्थल पर बनेजगी अस्थायी पुलिस चौकी
रुद्रपुर। एसएसपी ने बताया कि घटनास्थल के पास टेंट लगाकर अस्थायी पुलिस चौकी बनाई जाएगी। इससे अवैध खनन करने वालों पर अंकुश लगाया जाएगा। चौकी में हर समय पुलिस तैनात रहेगी।
आरोपियों को पकड़ने वाली टीम को 15 हजार रुपये इनाम
रुद्रपुर। आरोपियों को पकड़ने वाली पुलिस टीम को डीएम ने10 हजार रुपये इनाम देने की घोषणा की है। एसएसपी ने पांच हजार रुपये के नकद इनाम देने की बात कही है।
संदीप ने कभी कराई थी दोस्त ललित की जमानत
रुद्रपुर। पुलिस का कहना है कि संदीप और ललित पहले बहुत अच्छे दोस्त हुआ करते थे। कई वर्ष पहले ललित पर आईपीसी की धारा 307 का मुकदमा पंजीकृत था जिसमें ललित की जमानत संदीप ने ही कराई थी। हालांकि एसएसपी का कहना है कि ललित ने पीड़ित पक्ष को करीब 10 लाख रुपये देकर मामले का समझौता कर लिया था। इसके अलावा संदीप और ललित आए दिन साथ में बैठ कर पार्टी करते थे। पुलिस ने बताया कि अभी हाल में संदीप का क्रेडिट कार्ड ललित ही बनवा रहा था।
---
अवैध खनन करने वालों पर गिरेगी गाज
रुद्रुपर। खनन के विवाद में जान गंवाने वाले भाजपा नेता संदीप कार्की की हत्या के बाद पुलिस ने भी खनन व्यापारियों पर नकेल कसनी शुरू कर दी है। एसएसपी का कहना है कि खनन का व्यापार करने वाले कारोबारियों के असलहों की जांच की जाएगी। असलहों का लाइसेंस न मिलने पर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इनसेट
यह भी होगा
-अवैध खनन सामग्री भरकर चलने वालों वाहनों की लगातार चेकिंग की जाएगी। ओवरलोड करने वालों वाहनों के ड्राइवर का लाइसेंस निरस्त किया जाएगा।
-खनन में अवैध रुप से कारोबार करने वालों पर अवैध खनन की रिपोर्ट प्रेषित कर कार्रवाई की जाएगी। वाहनों पर एमवी एक्ट के तहत चालान किया जाएगा।
-जीएसटी न जमा कर चोरी से खनन सामग्री ले जाने वालों पर जीएसटी की जांच भी करवाई जाएगी।
पट्टों की सीमा से बाहर खनन कर रहे माफिया
रेेंजर ने तहसीलदार को सीमा निर्धारण कराने को लिखा पत्र
सितारगंज। साधूनगर कैलाश नदी में अवैध खनन का मामला सामने आया है। पट्टों की सीमा से बाहर खनन हो रहा है। वन विभाग ने अपने पत्र में इसका खुलासा किया। यह भी किया राजस्व टीम कर्मियों को अवैध खनन होने की जानकारी देने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। विभाग ने तहसीलदार से पट्टों की सीमा निर्धारित कराने और अवैध खनन पर नियमानुसार कार्रवाई का आग्रह किया है।
रनसाली रेंजर प्रदीप कुमार धौलाखंडी ने तहसीलदार जगमोहन त्रिपाठी को पत्र लिखकर बताया कि सीमा निर्धारण न होने से पट्टों से बाहर खनन हो रहा है। इससे वन भूमि पर भी अवैध खनन की आशंका है। रेंजर धौलाखंडी ने पत्र में कहा कि साधूनगर में आवंटित पट्टाधारक अपनी सीमा से बाहर खनन कर रहे हैं। हालांकि वन क्षेत्र में खनन नहीं हुआ है। पट्टाधारकों ने अपनी सीमा से बाहर राजस्व क्षेत्र में खनन किया है। पट्टाधारकों की सीमा से बाहर राजस्व क्षेत्र में लगातार खनन हो रहा है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00