भोजन माताओं की भूख हड़ताल शुरू

Udham singh nagar Updated Tue, 14 Aug 2012 12:00 PM IST
सितारगंज। क्षेत्र की तीन भोजन माताओं को पद से हटाने से भड़की महिलाओं ने भूख हड़ताल शुरू कर दी है। उन्होंने हटाई गई महिलाओं को पुन: नियुक्त करने एवं 12 माह का वेतन देने की मांग की। साथ ही मांगें पूर्ण होने तक भूख हड़ताल जारी रहेगी।
शिक्षा विभाग द्वारा तिलियापुर की कुंती देवी, पूजा देवी और करघटिया गांव की रेशमवती को भोजन माता के पद से हटाने से सितारगंज और खटीमा क्षेत्र की भोजन माताओं में आक्रोश है। उन्होंने इसका विरोध करते हुए ब्लाक संसाधन केंद्र में धरना दिया और भूख हड़ताल पर बैठ गई। महिलाओं ने कहा पद से हटाई गई भोजन माताएं अति निर्धन परिवार से हैं। ऐसे में उन्हें हटाने से उनके आगे आर्थिक संकट गहराने लगा है। उन्होंने शिक्षा मंत्री मंत्री प्रसाद नैथानी को संबोधित ज्ञापन खंड शिक्षाधिकारी कैलाश चंद्र को सौंपा, जिसमें तीनों महिलाओं को पुन: नियुक्ति देने एवं भोजन माताओं को स्थानीय नियुक्ति के साथ 12 माह का वेतन देने की मांग की। इस दौरान रेखा राणा, कमल राणा, गीता गोस्वामी, सीमा देवी, रिंकू देवी, गीता देवी, मीरावती, राकेश देवी, अनीता देवी, मुन्नी देवी, महेंद्र देवी, गुड्डी देवी, लक्ष्मी देवी, नरेश देवी, चित्रा देवी, सुमित्रा देवी आदि थीं।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

अमित शाह के इस बयान पर उत्तराखंड कांग्रेस हुई हमलावर

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा राहुल गांधी पर की गई टिप्पणी के बाद उत्तराखंड कांग्रेस आग-बबूला हो गई है।

21 सितंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls