किसानों के हितैषी रहे भारत भूषण

Udham singh nagar Updated Fri, 10 Aug 2012 12:00 PM IST
किच्छा। वर्ष 1977 के लोकसभा चुनाव में नैनीताल लोकसभा सीट पर जनता पार्टी के प्रत्याशी रहे भारत भूषण हमेशा अपनी बेबाक शैली के लिए जाने जाते हैं। चन्द्र भानु गुप्त की कांग्रेस छोड़ जनता पार्टी में पहुंचे भारत भूषण ने कद्दावर नेता पूर्व केंद्रीय मंत्री केसी पंत को पैंसठ हजार से अधिक मतों से पराजित किया था।
भारत भूषण किसानों के संघर्ष के लिए हमेशा आगे रहे। उन्हाेंने लोकनायक जय प्रकाश नारायण के आंदोलन में भी सहभागिता की। बाद में वह चन्द्रशेखर वाली समाजवादी पार्टी से जुड़े रहे। वह अपने समय में दक्षिणी किसान सेवा सहकारी समिति के अध्यक्ष, गन्ना सोसायटी के निर्देशक पद के अलावा तमाम पदों पर रहे। किसान हितों के लिए उन्होंने कई आंदोलन छेड़े। किसी जमाने में जब डीजल की कालाबाजारी चरम सीमा पर थी तो वह किसानों को डीजल उपलब्ध करवाने के लिए भी संघर्षशील रहे। उनके परम मित्रों में एक रहे ग्राम बडिया के वर्तमान प्रधान शीशपाल राणा बताते है कि भारत भूषण जनता पार्टी में आने से पहले उत्तर प्रदेश के तत्कालीन मुख्य मंत्री चन्द्र भानु गुप्त के करीबी रहे। वर्ष 1977 के चुनाव से पहले जब कांग्रेस के दो फाड़ हुए। पूर्व प्रधानमंत्री स्व. इंदिरा गांधी के नाम पर कांग्रेस आई बनी तो वह पुरानी कांग्रेस में रहे बाद में इस पार्टी का विलय जनता पार्टी में हो गया।

शोक जताया
किच्छा। पूर्व सांसद भारत भूषण की दोस्ती नगर के प्रमुख व्यवसायी मदन मोहन चड्डा, जयगोपाल, मुरलीधर, ठा. वीरेंद्र प्रताप सिंह, ठा. रामलोचन सिंह, पूर्व विधायक देव बहादुर सिंह, इन्द्र सिंह रघुवंशी, शीशपाल राणा, स्वतंत्र राय आदि से रही। उनकी मृत्यु का समाचार सुनते ही नगर में कई स्थानों पर शोक सभा हुई। तहसील कार्यालय में धरने पर बैठे विधायक राजेश शुक्ला ने दो मिनट का मौन रखकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की यहां पर ओम प्रकाश दुआ, धर्मराज जायसवाल, रेणुका चौधरी आदि थे। इधर बडिया के ग्राम प्रधान शीशपाल राणा के आवास पर आयोजित शोक सभा में हरीश टाकुली, स्वतंत्र राय, सुभाष चडडा, तारी टाकुली, किशन लाल खुराना, सतीश खुराना आदि थे। राज आटो सर्विस पर आयोजित बैठक में विजय पपनेजा, दिनेश भाटिया, राज पपनेजा, अंकुर पपनेजा, प्रहलाद खुराना आदि थे।

रेल लाइन की मांग उठाई
किच्छा। कम ही लोग जानते होंगे कि रामपुर व काठगोदाम के बीच बड़ी रेल लाइन परियोजना की मांग संसद में स्व. भारत भूषण ने ही रखी थी। उन्होंने अपने भाषण में कहा था कि इस योजना को शुरू नहीं किया जा रहा। जबकि यह योजना वर्ष 1952 में तय थी। उन्होंने अपने भाषण में मुरादाबाद से रामनगर जाने वाली मीटर गेज को ब्राड गेज बदला जाना आवश्यक है।

Spotlight

Most Read

National

राजनाथ: अब ताकतवर देश के रूप में देखा जा रहा है भारत

राज्य नगरीय विकास अभिकरण (सूडा) की ओर से आयोजित कार्यक्रम में राजनाथ सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना से नया आयाम मिला है।

22 जनवरी 2018

Related Videos

अमित शाह के इस बयान पर उत्तराखंड कांग्रेस हुई हमलावर

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा राहुल गांधी पर की गई टिप्पणी के बाद उत्तराखंड कांग्रेस आग-बबूला हो गई है।

21 सितंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper