विज्ञापन
विज्ञापन

मुख्यमंत्री के विस क्षेत्र में नही बदला अफसरों का ढर्रा

Udham singh nagar Updated Thu, 02 Aug 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
सितारगंज। उत्तराखंड राज्य में वीआईपी सीट का दर्जा हासिल करने वाली सीएम की विधानसभा सीट सितारगंज में भूमाफिया बेखौफ हो गए हैं, जबकि प्रशासन उन पर हाथ डालने से अब भी कतरा रहा है, नतीजतन भूमाफियाओं ने सिडकुल की 150 एकड़ भूमि पर अवैध कब्जा कर रखा है। तत्कालीन भाजपा सरकार में दबंगई के बल पर अफसरों की मौजूदगी में गेहूं की फसल काटी थी। अब फिर दबंगों ने कब्जाई भूमि में धान की फसल बो दी। सिडकुल के क्षेत्रीय प्रबंधक के मुकदमा दर्ज कराने के बाद भी दबंगों पर कोई कार्रवाई नहीं हुई।
विज्ञापन
विज्ञापन
तत्कालीन कांग्रेस सरकार में मुख्यमंत्री एनडी तिवारी द्वारा वर्ष 2005 में संपूर्णानंद शिविर (खुली जेल) की भूमि पर सिडकुल की स्थापना कर जेल की 26 सौ एकड़ भूमि सिडकुल को हस्तांतरित कर दी गई थी, इसमें से सिडकुल की 1093 एकड़ भूमि पर एल्डिको द्वारा उद्योगों की स्थापना कराई गई, जबकि 1507 एकड़ भूमि खाली पड़ी है। वर्ष 2010 में तत्कालीन भाजपा सरकार में दबंगों ने 1507 एकड़ भूमि में से करीब 150 एकड़ भूमि पर अवैध कब्जा कर लिया और तब से ये दबंगई के बल पर सिडकुल की जमीन पर खेती करते आ रहे हैं।
सवा साल पूर्व सिडकुल के क्षेत्रीय प्रबंधक जेसी दुर्गापाल ने राजस्व विभाग को पत्र देकर सिडकुल की भूमि का डिमार्केशन कराने की मांग की थी और विभाग में शुल्क भी जमा कर दिया, लेकिन राजस्व विभाग द्वारा अब तक डिमार्केशन नहीं किया गया। बीती अक्टूबर माह में दुर्गापाल ने भूमाफियाओं के खिलाफ कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया था, बावजूद रसूख वाले इन दबंग माफियाओं के खिलाफ पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। इतना ही नहीं, राजस्व विभाग द्वारा सिडकुल की जमीन में खड़ी गेहूं की फसल की नीलामी के लिए तिथि घोषित कर विज्ञापन प्रकाशित कराए थे, लेकिन दबंगों ने हल्द्वानी के एक वरिष्ठ कांग्रेसी की शह पर तत्कालीन उपजिलाधिकारी भगत सिंह फोनिया और तहसीलदार सुंदर सिंह तोमर की मौजूदगी में फसल काट ली। अब फिर दबंगों ने बेखौफ होकर धान की फसल बो दी और अधिकारी हाथ पर हाथ धरे बैठे हैं। यहां से मुख्यमंत्री बहुगुणा के उपचुनाव जीतने के बाद न तो अधिकारियों की कार्य प्रणाली बदली है और न ही भूमाफियाओं की दबंगई कम हुई है।

जनजाति की भूमि भी कब्जाई
सितारगंज। सिडकुल के प्रहलाद पलसिया क्षेत्र में सिसौना गांव के थारु जनजाति के किसानों की भी कृषि भूमि है, जिस पर भूमाफियाओं ने कब्जा कर रखा है। किसानों ने बताया अगर वह अपनी कृषि भूमि पर फसल बोने के लिए जाते हैं, तो भूमाफियाओं द्वारा उन्हें डराया-धमकाया जाता है। आरोप लगाया कि उनकी जमीन पर काबिज भूमाफिया उन्हें भूमि में घुसने पर परिवार एवं जान-माल के नुकसान की धमकी भी देते हैं। मजर सिसौना निवासी एक कृषक ने बताया उनकी जमीन पर अवैध कब्जे से वह भूमिहीन हो गए हैं और उनके परिवारों के सामने आर्थिक संकट पैदा हो गया है।

एमडी और डीएम से मिल चुके हैं अफसर
सितारगंज। तत्कालीन भाजपा सरकार में सिडकुल की करीब डेढ़ सौ एकड़ भूमि पर अवैध कब्जे के मामले में क्षेत्रीय प्रबंधक जेसी दुर्गापाल सिडकुल के एमडी और जिलाधिकारी से मिले चुके हैं, लेकिन कोरे आश्वासनों के सिवा अब तक कुछ नहीं मिला। दुर्गापाल ने बताया सिडकुल के एमडी ने मामले में तत्कालीन मुख्यमंत्री भुवन चंद्र खंडूरी एवं रमेश पोखरियाल निशंक को पत्र लिखकर दबंगों के चंगुल से सिडकुल की भूमि मुक्त कराने की मांग की थी, लेकिन उस पर भी कोई कार्रवाई नहीं हुई। कहा कि अब वह जिलाधिकारी बृजेश कुमार संत से पुन: मिलकर जमीन को अतिक्रमणमुक्त कराने की मांग करेंगे। ब्यूरो

इसी भूमि पर होनी है सिडकुल-2 की स्थापना
सितारगंज। मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा ने सितारगंज में उपचुनाव के दौरान सिडकुल-2 की स्थापना करने की घोषणा की थी। इसी भूमि पर सिडकुल-2 बनने से यहां ढेर सारे उद्योग आएंगे और हजारों स्थानीय लोगों को रोजगार मिलेगा, किंतु ऐसे मेें जब भूमि पर कब्जा छुड़ाने को प्रशासन गंभीर नहीं है तो सीएम का सपना साकार कैसे होगा ?

-सिडकुल की भूमि पर अतिक्रमण के मामले की जांच कराई जाएगी। एक माह के भीतर जांच पूर्ण कराकर आवश्यक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।
बृजेश कुमार संत, जिलाधिकारी, ऊधम सिंह नगर।

Recommended

Uttarakhand Board 2019 के परीक्षा परिणाम जल्द होंगे घोषित, देखने के लिए क्लिक करें
Uttarakhand Board

Uttarakhand Board 2019 के परीक्षा परिणाम जल्द होंगे घोषित, देखने के लिए क्लिक करें

विवाह में आ रहीं अड़चनों और बाधाओं को दूर करने का पाएं समाधान विश्वप्रसिद्व ज्योतिषाचार्यो से
ज्योतिष समाधान

विवाह में आ रहीं अड़चनों और बाधाओं को दूर करने का पाएं समाधान विश्वप्रसिद्व ज्योतिषाचार्यो से

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

लोकसभा चुनाव 2019 (lok sabha chunav 2019) के नतीजों में किसने मारी बाजी? फिर एक बार मोदी सरकार या कांग्रेस की चुनावी नैया हुई पार? सपा-बसपा ने किया यूपी में सूपड़ा साफ या भाजपा का दम रहा बरकरार? सिर्फ नतीजे नहीं, नतीजों के पीछे की पूरी तस्वीर, वजह और विश्लेषण। 23 मई को सबसे सटीक नतीजों  (lok sabha chunav result 2019) के लिए आपको आना है सिर्फ एक जगह- amarujala.com  Hindi news वेबसाइट पर.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Dehradun

सलड़ी कांड में अवतार की पत्नी और उसका दोस्त गिरफ्तार, जलती कार में मिला था शव

रुद्रपुर के सलड़ी क्षेत्र में जलती कार में मिले शव के मामले में आज तड़के अवतार सिंह की पत्नी नीलम को गिरफ्तार कर लिया गया है।

21 मई 2019

विज्ञापन

प्रियंका से नाराज सलमान ने कहा ‘मेरी फिल्म छोड़ शादी की, बहुत वीरता का काम किया’

सलमान खान की फिल्म भारत को लेकर प्रियंका चोपड़ा से नाराजगी खत्म नहीं हो रही है। फिल्म भारत के प्रमोशन में सलमान ने मीडिया से बातचीत में कहा 'लड़कियां मेके साथ काम करने के लिए पति छोड़ देगी लेकिन प्रियंका ने फिल्म छोड़ शादी कर ली'।

22 मई 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election