फैक्ट्रियों में बंद हो ठेकेदारी प्रथा

Udham singh nagar Updated Sun, 17 Jun 2012 12:00 PM IST
रुद्रपुर। पूर्व सैनिकों ने एडीएम से मुलाकात कर मिलों में चल रही ठेकेदारी प्रथा को बंद कराने समेत अन्य समस्याओं के निराकरण की मांग उठाई। शनिवार को जिला पूर्व सैनिक संगठन के अध्यक्ष खड़क सिंह कार्की के नेतृत्व में पूर्व सैनिकों ने कलक्ट्रेट में एडीएम हरीश चंद्र कांडपाल से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने कहा कि पूर्व में चीनी मिलों में पूर्व सैनिकों को सुरक्षा गार्ड के रुप में समायोजित किया जाता था। लेकिन अब मिलों में ठेकेदारी प्रथा लागू कर दी गई। इससे ठेकेदारों का तो मुनाफा हो रहा है, लेकिन पूर्व सैनिकों को कम वेतन दिया जा रहा है। साथ ही इससे उनके आत्म सम्मान में भी ठेस पहुंच रही है। आरोप लगाया कि सिडकुल स्थित एक कंपनी में 130 पूर्व सैनिकों को सुरक्षा गार्ड के रूप में तैनात किया गया था। लेकिन कुछ समय बाद कंपनी प्रबंधन ने नोटिस देकर उन्हें निकालना शुरू कर दिया है। पूर्व में सैनिक कल्याण बोर्ड के माध्यम से पूर्व सैनिकों को नियुक्त किया जाता था, लेकिन अब यह व्यवस्था बंद कर दी गई है। उन्होंने मिलों में ठेकेदारी प्रथा समाप्त करने की मांग की। इस मौके पर आरएस बिष्ट, बीएस देउपा, लखविंदर सिंह, राजेंद्र सिंह, मनोज जोशी, त्रिलोक सिंह, महेश भट्ट, गिरीश जोशी आदि मौजूद थे।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

अमित शाह के इस बयान पर उत्तराखंड कांग्रेस हुई हमलावर

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा राहुल गांधी पर की गई टिप्पणी के बाद उत्तराखंड कांग्रेस आग-बबूला हो गई है।

21 सितंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls