बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW

ढाई वर्ष बाद भी शुरू नहीं हुआ पुल निर्माण

घनसाली(टिहरी)/ब्यूरो Updated Mon, 15 Oct 2012 06:07 PM IST
विज्ञापन
bridge construction does not begin even after two and a half years

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
ब्लॉक मुख्यालय को जोड़ने के लिए प्रस्तावित घनसाली-सेमली पुल का निर्माण ढाई वर्ष बाद भी शुरू नहीं हो पाया है। जिससे लोगों को चार किमी. पैदल नापकर तहसील और ब्लॉक कार्यालय पहुंचना पड़ रहा है। लोक निर्माण विभाग (लोनिवि) की इस लापरवाही पर लोगों में रोष है।
विज्ञापन


भिलंगना ब्लॉक कार्यालय और तहसील सहित कई दफ्तर घनसाली मुख्य बाजार से चार किमी. दूर हैं। हालांकि सेमली में एक पुल बनने से यह दूरी काफी कम हो जाती। खंडूरी सरकार ने फरवरी 2009 में इसके लिए भिलंगना नदी पर 65 मीटर लंबे स्टील गार्डर पुल बनाने की स्वीकृति दी थी। इसके लिए एक करोड़ दो लाख चालीस हजार रूपए भी निर्गत किए गए। लेकिन लापरवाही का आलम यह है कि लोक निर्माण विभाग (लोनिवि) अब तक सर्वे भी नहीं करा पाया है।


विभाग भूवैज्ञानिकों से सर्वे कराने और दो पक्षों के बीच विवाद बताकर पल्ला झाड़ रहा है। जिसका खामियाजा क्षेत्र के ग्यारहगांव, हिंदाव, नैलचामी, कोटी, फैगूल, केमर, भिलंग, बासर, आरगढ़, गोनगढ़, थाती और बूढ़ाकेदार के हजारों लोगों को भुगतना पड़ रहा है। जिला पंचायत सदस्य डॉ. नरेंद्र डंगवाल, राजेश, भीमराज सिंह और ध्यान सिंह पंवार ने कहा कि शीघ्र निर्माण शुरू नहीं करने पर आंदोलन किया जाएगा।

भू-वैज्ञानिकों ने प्रस्तावित पुल निर्माण स्थल को उपयुक्त बताया है। जिस पर शासनादेश के अनुसार ही पुल बनना चाहिए। दूसरा पुल बनाने का प्रस्ताव शासन को भेजा गया है। -चंद्र किशोर मैठाणी, वरिष्ठ भाजपा नेता घनसाली

पुल का डिजायन और नदी में पानी के डिस्चार्ज की रिपोर्ट आईआईटी रुड़की को भेजी गई है। पुल का निर्माण कच्चे लकड़ी के पुल के स्थान पर किया जाना है। रुड़की से रिपोर्ट और पुल का डिजायन मिलने के बाद निविदा निकाली जाएगी। -आरएस रावत, ईई लोनिवि घनसाली।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us