पैसे लौटा दून वापस गए चिकित्सा शिविर आयोजक

Tehri Updated Wed, 08 Aug 2012 12:00 PM IST
चंबा (टिहरी)। स्वास्थ्य विभाग की अनुमति के बिना चंबा में स्वास्थ्य शिविर आयोजित करने वाली संस्था सब लोगाें के पैसे लौटाने के बाद देहरादून वापस चली गई है। स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि शिविर में पहुंचे डाक्टर तो फर्जी नहीं थे, लेकिन शिविर से पहले विभाग की स्वीकृति जरूरी होती है।
आर्ट ऑफ लाइफ संस्था की पहल पर सोमवार को चंबा में स्वास्थ्य शिविर आयोजित किया गया था। आयोजक शिविर में स्वास्थ्य परीक्षण के लिए मशीनें लेकर पहुंचे थे। इसी बीच कुछ लोग प्रभारी चिकित्सा अधीक्षक डा. एके श्रीवास्तव को लेकर शिविर में पहुंच गए। आयोजकों के पास शिविर आयोजन के लिए विभाग की स्वीकृति नहीं थी। जिस पर वहां हंगामा हो गया। जिससे आयोजक सामान छोड़कर भाग निकले। एक व्यक्ति को लोगों ने पकड़ लिया। उससे दवाइयों के एवज में लिए गए पैसे वापस करने की मांग करने लगे। जिस पर उन्हें सबके पैसे वापस लौटाने पडे़। इस मामले में किसी ने भी पुलिस में रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई। प्रभारी सीएमओ डा.डीसी जोशी ने बताया कि डाक्टर फर्जी नहीं थे। लेकिन शिविर से पहले उन्हें अनुमति लेनी चाहिए थी।

इनका क्या है कहना
संस्था ने शिविर में स्वास्थ्य परीक्षण के लिए आमंत्रित किया था। लोगाें ने बिना पूछताछ के हंगामा शुरू कर दिया। शोर शराबे में किसी को कुछ समझाना मुश्किल था। पूर्व में दो बार चंबा में शिविर आयोजित हो चुका है। तब किसी ने क्यों नहीं इस तरह की शिकायत की। - डा.बीके सारस्वत शिविर में प्रतिभाग करने वाले चिकित्सक

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

बीजेपी सरकार खतलिंग मेले को लेगी गोद: सतपाल महाराज

उत्तराखंड के पर्यटनमंत्री सतपाल महाराज ने मंगलवार को सात दिवसीय घुत्तु खतलिंग पर्यटन मेले का उद्घघाटन किया। घुत्तु खतलिंग पर्यटन मेले का आयोजन पिछले 34 वर्षों से किया जा रहा है।

5 अक्टूबर 2017