विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Uttarakhand Lockdown update Live: दून अस्पताल के एक डॉक्टर को आइसोलेशन वार्ड में किया भर्ती

कोरोना पॉजिटिव मामले बढ़ने से उत्तराखंड में संक्रमण दूसरी स्टेज में पहुंच गया है।

9 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

टिहरी

गुरूवार, 9 अप्रैल 2020

पालिकाध्यक्ष और अन्य संगठनों ने भी बांटी सामग्री

लॉकडाउन के दौरान निराश्रित और बुजुर्ग लोगों का चूल्हा जलाने में घनसाली पुलिस मददगार बनी है। पुलिस के जवान गांव-गांव में बुजुर्ग लोगों के बीच जाकर जरूरतमंदों को निशुल्क राशन वितरित कर रहे हैं।
थानाध्यक्ष प्रदीप रावत ने बताया कि भिलंगना ब्लाक के थार्ती, भटवाड़ा, ठेला, अखोड़ी, मुंडेती, बजियालगांव, पंगरियाणा और मंडेती गांव में जरूरतमंद लोगों को करीब 50 पैकेट राशन के वितरित किए गए हैं। टीम में एसआई राकेेश चौधरी, कांस्टेबल अमित, महेश और उपेंद्र भंडारी आदि शामिल थे।
नई टिहरी में तरंगिनि टीएचडीसी ऑफिसर्स लेडीज क्लब की अध्यक्ष अनुराधा बडोनी, उपाध्यक्ष ऊषा श्रीनिवास, कोषाध्यक्ष निशी सिंघल ने भागीरथीपुरम, खांडखाला, कुट्ठा गांव में घर-घर जाकर 50 परिवारों को आटा, चावल, दाल, तेल, साबुन आदि सामग्री वितरित की। इस मौके पर टीएचडीसी के अपर महाप्रबंधक अभिषेक गौड़, सेवा-टीएचडीसी के वरिष्ठ प्रबंधक अरविंद वर्मा, उप प्रबंधक शक्ति चमोली, वरिष्ठ अभियंता शशि रंजन, सीता राम आदि मौजूद थे। वहीं नगर पालिकाध्यक्ष सीमा कृषाली के नेतृत्व में पालिका ने टीनशेड, निर्बल वर्ग आदि कालोनियों में करीब 200 परिवारों को राशन दिया। इस मौके पर सभासद अनीता थपलियाल, मीना भट्ट, साजिदा, उर्मिला राणा, सतीश चमोली, प्रदीप रावत आदि मौजूद थे। एकता मंच के संयोजक आकाश कृषाली के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने भी 50 लोगों को खाद्य सामग्री वितरित की। शिक्षक संगठन ने सुशील तिवारी, भगवान चंद रमोला, मनोज असवाल आदि ने पांगरखाल, बालमा गांव में 40 परिवारों को राशन किट दिए।
... और पढ़ें

गीत के जरिए कर रहे जागरूक

मेडिकल स्टोर और किराना की दुकानों का किया निरीक्षण

खाद्य सुरक्षा और ड्रग कंट्रोलर विभाग के अधिकारियों ने मेडिकल स्टोर, किराना और सब्जी की दुकानों का निरीक्षण किया। इस दौरान अधिकांश दुकानों पर रेट लिस्ट चस्पा मिली। उन्होंने मेडिकल स्टोरों पर भी जीवन रक्षक दवाइयां, शुगर, बीपी की दवाइयां भी स्टॉक के अनुसार उपलब्ध मिलीं।
खाद्य सुरक्षा विभाग के जिला अभिहित अधिकारी एमएन जोशी, ड्रग इंस्पेक्टर चंद्रप्रकाश नेगी ने चंबा स्थित मेडिकल स्टोर का निरीक्षण किया। उन्होंने संचालकों को दुकानों पर सामाजिक दूरी बनाने और इसके लिए बनाए गए सफेद गोलों में खड़ा रहकर सामान लेने की अपील की। उन्होंने कहा कि प्रत्येक दिन का स्टॉक रजिस्टर मेंटेन किया जाए, ताकि आवश्यकता पड़ने पर ट्रांसपोर्टरों से दवाइयां मंगाई जा सकें। उन्होंने सब्जी की दुकानों का भी निरीक्षण किया। बताया कि किराना के दुकानों पर दाल, आटा, चावल, तेल, मसाले पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं। किसी भी दुकान संचालक को यदि समस्या है तो वह कंट्रोल रूम में सूचना दे सकता है। संवाद
... और पढ़ें

विधायक और संघ ने जरूरतमंदों को बांटी राशन

प्रतापनगर के विधायक विजय सिंह पंवार, भाजपा जिलाध्यक्ष विनोद रतूड़ी और आरएसएस ने लंबगांव नगर पंचायत में मजदूर, गरीब और निराश्रित महिलाओं को राशन बांटी।
प्रतापनगर विधायक पंवार ने नगर पंचायत के अधिकारियों को बाजार में कीटनाशक का छिड़काव करने, एसडीएम रजा अब्बास को ग्रामस्तर तक राशन की क्रॉस चेकिंग के निर्देश दिए। इस मौके पर रोशन लाल सेमवाल, हर्षमणी सेमवाल, जयेंद्र सेमवाल, परमवीर सिंह, संजू, मुरारी सहित कई मौजूद थे। सरस्वती शिशु मंदिर बौराड़ी में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की ओर से 18 जरूरतमंद परिवारों को राहत सामग्री दी। इस मौक पर जिला कार्यवाह संजीव भट्ट, देवी प्रसाद नौटियाल, वेणीमाधव शाह, दौलतराम बिजल्वाण, सतीश थपलियाल, जगतमणी पैन्यूली, राहुल जखमोला आदि मौजूद थे।
... और पढ़ें
लंबगांव में लोगों को मास्क एवं सैनिटाइजर वितरित करते विधायक विजय पंवार व जिलाध्यक्ष विनोद रतूड़ लंबगांव में लोगों को मास्क एवं सैनिटाइजर वितरित करते विधायक विजय पंवार व जिलाध्यक्ष विनोद रतूड़

टिहरीः चवाड़ बैंड में सील सीमा, ग्रामीणों की आवाजाही के लिए खुली

प्रतापनगर के चवाड़ बैंड में सील की गई उत्तरकाशी जिले की सीमा खुलने से गाजणा और उपली रमोली पट्टी के दर्जनों गांवों में निवासरत लोगों को राहत मिल गई। क्षेत्र के लोगों की मांग पर प्रशासन ने सील की गई सीमा स्थानीय लोगों की आवाजाही के लिए खोल दी है। गाजणा और उपली रमोली पट्टी के लोग अब लंबगांव बाजार खाद्यन्न, सब्जी और दवाइयों के लिए आ जा सकते हैं।
चार अप्रैल को उत्तरकाशी जिला प्रशासन ने लंबगांव से सटी उत्तरकाशी जिले की सीमा सील कर दी है थी, जिससे लंबगांव बाजार से सटी गाजणा और उपली रमोली पट्टी के गांवों के लोग बाजार खाद्य सामग्री और सब्जी खरीदने नहीं पहुंच पा रहे थे। जिला पंचायत सदस्य संगठन के प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप भट्ट और रेखा असवाल नेे टिहरी और उत्तरकाशी डीएम को ज्ञापन प्रेषित कर शीघ्र समस्या समाधान करने की मांग की थी। जनप्रतिनिधियों की मांग पर मंगलवार शाम को प्रशासन ने चवाड़ बैंड में सील की गई सीमा को आवाजाही के लिए खोल दिया है। सीमा खुलने से गढथाती, रमोली, बडेथ, न्यूगांव, भैंत, हुल्डियाण, गोरसाडा, मट्टी, धनेटी, श्रीकालखाल गांव के लोगों को राहत मिली है। गंगा प्रसाद नौटियाल, सुरेंद्र प्रसाद, प्रेम पोखरियाल ने जिला प्रशासन का आभार व्यक्त किया है।
... और पढ़ें

अब श्रीदेव सुमन विवि के छात्र भी कर सकेंगे ऑनलाइन पढ़ाई

श्रीदेव सुमन विवि से संबद्ध 53 राजकीय महाविद्यालयों और 114 निजी कॉलेजों में अध्ययनरत छात्र-छात्राएं लॉकडाउन के दौरान घर बैठे ऑनलाइन पढ़ाई कर सकेंगे। विवि प्रशासन ने वेबसाइट पर विभिन्न एजुकेशलन साइट्स, प्रोफेशनल संस्थानों के लिंक शेयर किए हैं।
लॉकडाउन के चलते श्रीदेव सुमन विवि सेमेस्टर परीक्षाओं का केंद्रीय मूल्यांकन नहीं कर पा रहा है। कॉलेज बंद होने के कारण छात्र-छात्राएं भी पढ़ाई से वंचित हैं। कुलपति डा. पीपी ध्यानी और कुछ कर्मचारी लॉकडाउन पीरियड में सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए कार्यालय में जरूरी कामकाज निपटाने पहुंच रहे है।
कुलपति डा. ध्यानी का कहना है कि लॉकडाउन में छात्र-छात्राओं को शैक्षणिक गतिविधियां संचालित करने में कोई दिक्कतें न हो, इसके लिए देश-दुनिया के टॉप विश्वविद्यालय, बिजनेस संस्थान, जॉब सीकर वेब, समाचार एजेंसियों के लिंक विवि की वेबसाइट-www.sdsuv.ac.in पर विवि प्रशासन ने हाइपर लिंक कर दिया है। अब छात्र-छात्राएं घर बैठे पीसी, लैपटॉप, मोबाइल, टैबलेट पर इन लिंकस को खोलकर अपडेट रह सकते हैं। उन्होंने कालेजों के प्राचार्यों और निदेशकों को लॉकडाउन के दौरान छात्र-छात्राओं से निरंतर संवाद बनाए रखने को कहा है। कहा कि छात्रों की कोई भी समस्या हो तो उन्हें सोशल नेटवर्किंग साइट्स, ई-मेल, व्हाट्स एप, ट्वीटर आदि माध्यम से हल करें। कुलपति का कहना है कि यदि लॉकडाउन पीरियड लंबा खिंचता है, तो सेमेस्टर परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन करने शिक्षकों के घरों पर ही भेजे जाएंगे।
... और पढ़ें

21 बांड वाले डॉक्टर भी हुए नियमित

कोरोना संक्रमण के निपटने और स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर बनाने के लिए जिले को आठ नए एमबीबीएस चिकित्सक मिल गए हैं, जबकि वर्षों से बांड पर कार्यरत 21 डाक्टरों को नियमित कर दिया है।
जिले में वर्तमान में डाक्टरों के 226 पद सृजित है, जिनमें से अभी तक 113 नियमित और 67 संविदा/बांड पर तैनात थे। उनमें भी अधिकांश सुगम स्थानों पर ही तैनात हैं। अब सरकार ने कोरोना संक्रमण के बीच आठ एमबीबीएस डाक्टरों की नई तैनाती करते हुए पहले से बांड पर कार्यरत 21 डाक्टरों को भी नियमित कर दिया है। स्वास्थ्य विभाग ने सभी 29 डाक्टरों को स्वास्थ्य केंद्रों में तैनाती दे दी है। इनमें से सीएचसी चंबा में तीन, छाम, चौंड, थत्यूड़ में दो-दो, प्रतापनगर, खाड़ी में एक-एक एलोपैथिक चिकित्सालय नकोट, खंडोगी, कांडीखाल मगरौं, घनसाली में एक-एक, अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य न्यूली, बूढाकेदार, टकोली, धारकोट, लंबगांव, जाखणीधार, हिंसरियाखाल में एक-एक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नरेंद्रनगर, कीर्तिनगर में एक-एक, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र छेरपधार, पिलखी आदि शामिल हैं। साथ ही विभाग को उम्मीद है कि दो-तीन दिन के अंदर एक दर्जन और डाक्टरों के सरकार से मिलने की उम्मीद है। सीएमओ डा. मीनू रावत का कहना है कि नियुक्त किए गए डाक्टरों को रिक्त पदों के सापेक्ष नियुक्तियां दे दी गई है।
... और पढ़ें

चवाड़ बैंड के बजाय कौडार में हो सीमा सील

लॉकडाउन के चलते चवाड़ बैंड में टिहरी जिले के उपली रमोली और उत्तरकाशी जनपद के गाजणा पट्टी के लोगों की मुसीबत बढ़ गई है। सीमा सील होने के कारण आसपास के गांवों में निवासरत लोग पैदल भी लंबगांव बाजार खाद्य सामग्री और सब्जी खरीदने नहीं पहुंच पा रहे हैं।
चार अप्रैल को उत्तरकाशी जिला प्रशासन ने लंबगांव से सटी उत्तरकाशी जिले की सीमा सील कर दी है। जनप्रतिनिधियों ने प्रशासन से चवाड़ बैंड के बजाय कौडार में सीमा सील करने की मांग की है। जिला पंचायत सदस्य संगठन के प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप भट्ट और रेखा असवाल ने टिहरी और उत्तरकाशी डीएम को ज्ञापन प्रेषित कर शीघ्र समस्या समाधान करने की मांग की है। ज्ञापन में कहा गया है कि उत्तरकाशी गाजणा पट्टी के गढथाती, रमोली, बडेथ, न्यूगांव, भैंत, हुल्डियाण, गोरसाडा, मट्टी, धनेटी, श्रीकालखाल गांव लंबगांव बाजार से सटे हैं। गांव के लोग रोजमर्रा की जरूरत के सामान के लिए लंबगांव जाते हैं।
... और पढ़ें

विदेशों से जिले में लौट चुके हैं 397 लोग

सहकारी बैंक ने सीएम राहत कोष में दिए 21 लाख

कोरोना वायरस से बचाव और जरूरतमंदों की मदद के लिए टिहरी गढ़वाल जिला सहकारी बैंक भी आगे आया है। बैंक ने कोरोना से निपटने के लिए 11 लाख 35 हजार की मदद मुख्यमंत्री राहत कोष में दी है। उधर, उत्तरकाशी जिला सहकारी बैंक की ओर से सीएम राहत कोष में 10 लाख की राशि दी गई है।
टिहरी बैंक के सचिव/महाप्रबंधक प्रमोद प्रताप सिंह ने बताया कि बैंक का अंशदान 8.50 लाख, अधिकारियों/कर्मचारियों ने एक दिन का वेतन देकर दो लाख 74 रुपये और बैंक के अध्यक्ष सुभाष चंद रमोला ने 11 हजार रुपये शामिल है। घनसाली के व्यापारी अब्बल सिंह खरोला ने भी 51 हजार रुपये का चेक प्रधानमंत्री केयर फंड में दिया।
उधर, उत्तरकाशी बैंक के अध्यक्ष विक्रम सिंह रावत ने बताया कि बैंक की ओर से मुख्यमंत्री राहत कोष में 10 लाख रुपये की सहायता राशि दी जा रही है। इसमें बैंक के अंशधन से 8.5 लाख तथा बैंक कर्मचारियों के एक दिन के वेतन की राशि 1.35 लाख तथा स्वयं उनकी ओर से 15 हजार रुपये की सहायता दी गई।
बैंक के सचिव महाप्रबंधक सुरेंद्र प्रभाकर ने बताया कि लॉकडाउन की अवधि में बैंक की ओर से उपभोक्ताओं को निरंतर सेवाएं दी जा रही हैं। ग्राम विकास अधिकारी एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष प्रकाश पंवार एवं महामंत्री मुकेश नेगी ने बताया कि जिले के सभी ग्राम विकास अधिकारी एवं सहायक खंड विकास अधिकारी एक दिन का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा करने पर सहमत हैं। बड़कोट के थानाध्यक्ष दिग्पाल कोहली ने बताया कि जरूरतमंदों को राशन उपलब्ध कराया जा रहा है।
टिहरी में बांटे मास्क, पौड़ी में पादरी ने दिए 25 हजार
नई टिहरी/लंबगांव/पौड़ी। प्रतापनगर के कंडियालगांव की जिला पंचायत सदस्य रेखा असवाल, गढ़-सिनवालगांव की संजू देवी रांगड़, बिजेंद्र असवाल, मुरारी रांगड़, पूर्व जिला पंचायत सदस्य मुरारी लाल खंडवाल ने लोगों को हेल्थ किट दिया। जिला पंचायत सदस्य मंदार सुनीता देवी, ओमप्रकाश भुजवान ने मास्क बांटे। उधर, पौड़ी में मैथोडिस्ट चर्च चोपड़ा पौड़ी के पादरी हरीश कुमार ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 25 हजार की धनराशि जाम की।
जरूरतमंदों को जगह-जगह बांटी राशन
कोटद्वार/जयहरीखाल। भाबर में एवीएन स्कूल हल्दूखाता के डायरेक्टर रजनीश शर्मा की ओर से भाबर क्षेत्र में जरूरतमंद लोगों को राशन किट वितरित की गई। उन्होंने करीब 75 हजार रुपये की 150 राशन के किट वितरित की। उधर, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मनीष खंडूड़ी की ओर से कोटद्वार और भाबर क्षेत्र के कोरोना फाइटर्स नगर निगम के कर्मचारियों, कोतवाली पुलिस और बेस अस्पताल के स्टॉफ को तीन हजार मास्क वितरित किए गए। महिला कांग्रेस कमेटी की जिलाध्यक्ष रंजना रावत ने पांच सौ मास्क पुलिस कर्मियों को, दो हजार मास्क नगर निगम कर्मियों और पांच सौ मास्क बेस अस्पताल के स्टॉफ को दिए। इस दौरान उन्होंने कोटद्वार बेस अस्पताल के सामने से गुजर रहे राहगीरों को भी 150 से अधिक मास्क वितरित किए। उधर, जयहरीखाल ब्लाक प्रमुख दीपक भंडारी ने न्याय पंचायत जयहरीखाल की विभिन्न ग्राम पंचायतों में पंचायत प्रतिनिधियों, ग्राम प्रधानों और पंचायत सदस्यों को मास्क, ग्लब्स और सैनिटाइजर वितरित किए।
वहीं, रेडक्रॉस सोसाइटी पौड़ी और एनएसएस इकाई की ओर से वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण की रोकथाम के लिए राहगीरों, फल और सब्जी विक्रेताओं को मास्क वितरित किए गए। राष्ट्रीय सेवा योजना के गढ़वाल मंडल कार्यक्रम समन्वयक पुष्कर सिंह नेगी के नेतृत्व में सदस्यों ने लालबत्ती चौराहे में राहगीरों, फल, सब्जी विक्रेताओं को मास्क बांटे।
... और पढ़ें

छत से गिरे जवान की छाती में घुसा सरिया, मौत

मुनस्यारी (पिथौरागढ़)। मुनस्यारी के सेरासुरईधार ग्राम पंचायत में अवकाश पर घर आए 27 वर्षीय सैनिक की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। परिजन छत से गिरने और सीने में सरिया घुसने से मौत होने बता रहे हैं। पुलिस को मौके पर बंदूक भी मिली है। जानकारी के अनुसार, राजेन्द्र सिंह दसौनी पुत्र मंगल सिंह दसौनी कुमाऊं रेजिमेंट में कलकत्ता में कार्यरत था। वह छुट्टी पर घर आया था। सोमवार को दोपहर उसकी मौत हो गई। परिजनों के मुताबिक राजेंद्र छत से गिर गया था इस दौरान उसकी छाती में सरिया घुस गया। उसे मुनस्यारी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाए जहां पर डॉक्टरों ने मृत घोषित किया। घर में मृतक जवान के माता पिता, पत्नी और दो माह की बेटी है। सूचना पर प्रभारी थानाध्यक्ष मुनस्यारी महेश जोशी एवं टीम ने शव का पंचायतनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। थानाध्यक्ष के मुताबिक घटनास्थल पर कारतूस वाली एक बंदूक बरामद हुई है। जांच की जा रही है। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने पर अग्रिम कार्रवाई की जाएगी। ... और पढ़ें

बोट संचालन बंद, टिहरी झील में सन्नाटा

कोरोना संक्रमण के चलते टिहरी बांध की झील में बोटिंग व्यवसाय बंद होने के कारण 200 परिवारों की रोजीरोटी पर संकट मंडराने लगा है। मैदानी क्षेत्रों में गर्मी पड़ने से प्रत्येक वर्ष करीब 15 मार्च से सैलानी पहाड़ की ओर रुख करते थे, लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते पूरे देश में लॉकडाउन होने से बोट व्यवसाय भी बंद हो गया है।
पिलखी से लेकर उत्तरकाशी के चिन्यालीसौड़ तक 42 वर्ग किमी क्षेत्र में फैली टिहरी झील में वर्तमान समय में 99 बोट संचालित हो रही थी, जिसमें एक चालक, एक हेल्पर तैनात रहता है। ऑफ सीजन दिसंबर से लेकर मार्च तक झील क्षेत्र में प्रतिदिन लगभग 250 से लेकर 300 सैलानी पहुंचते हैं। साथ ही मैदानी क्षेत्रों में मार्च माह से गर्मी बढने से लेकर जुलाई तक प्रत्येक दिन एक से दो हजार के बीच प्रत्येक दिन पर्यटक झील में रोमांच के सफर को पहुंचते थे। गंगा बोट यूनियन के संरक्षक कुलदीप पंवार, अध्यक्ष लखवीर चौहान का कहना है कि बोटों का संचालन बंद होने के चलते उनके सामने रोजीरोटी का संकट से लेकर बैंकों से लिए गए ऋण की किश्त चुकाने की समस्या पैदा हो गई है। उन्होंने प्रशासन से प्रति माह लिए जाने वाले पांच हजार शुल्क माफ करने और बोट संचालकों को प्रतिपूर्ति भत्ता देने की मांग की।
... और पढ़ें

स्कूल व्हाट्स एप से दे रहे छात्रों को होमवर्क

लॉकडाउन के दौरान आनलाइन एजुकेशन के जरिए विभिन्न स्कूल व्हाट्स एप से छात्र-छात्राओं को होम वर्क दे रहे हैं। ताकि घर पर ही रहकर वे लॉकडाउन का पालन करते हुए पढ़ाई भी कर सके। स्टेट होटल मैनेजमेंट संस्थान आनलाइन पढ़ाई करवा रहे हैं।
कोरोना वैश्विक महामारी के चलते 24 मार्च से संपूर्ण लॉकडाउन चल रहा है। मार्च में अधिकांश स्कूलों के होम एग्जाम पूरे हो चुके थे। नए शैक्षणिक सत्र शुरू होने से पूर्व ही लॉकडाउन हो गया, जिसके चलते छात्र-छात्राएं भी घर में रहने को मजबूर हैं। ऐसे में स्कूलों ने छात्र-छात्राओं को घर पर रहकर ही पाठ्यक्रम के अनुसार होम वर्क देने की प्रक्रिया शुरू की है। इससे एक ओर जहां उनका समय भी व्यतीत होगा, वहीं नए पाठ्यक्रम से भी रूबरू हो सकेंगे। सेंट एंथोनी पब्लिक स्कूल, डीकेजी, एनटीआईएस, बीवीएस आदि स्कूलों के शिक्षक-शिक्षिकाएं विभिन्न कक्षाओं के छात्र-छात्राओं को व्हाट्स एप से हिंदी, अंग्रेजी, जीके, हिस्ट्री आदि विषयों के नोट्स जारी कर उन्हें होम वर्क करवा रहे हैं।
सेंट एंथनी पब्लिक स्कूल के प्रधानाचार्य गौतम बिष्ट का कहना है कि अब तक नए शैक्षणिक सत्र का दो सप्ताह का समय निकल चुका है। ऐसे में पाठ्यक्रम को पूरा करने के लिए फिल वक्त आनलाइन तरीके से छात्र-छात्राओं को घर पर ही सोशल नेटवर्किंग साइट्स के जरिए होमवर्क दिया जा रहा है। स्टेट होटल मैनेजमेंट संस्थान के निदेशक डा. यशपाल नेगी ने बताया कि स्काइप के जरिए संस्थान के शिक्षक छात्रों को आनलाइन पढ़ाई करवा रहे हैं। नोट्स, लेक्चर, एसाइनमेंट आदि की जानकारी आनलाइन साझा की जा रही है। आनलाइन लाइब्रेरी से भी छात्रों को मदद मिल रही है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us