सुभद्रा कु लाल, कौरवों कु काल चले अभिमन्यु

Rudraprayag Updated Mon, 24 Dec 2012 05:31 AM IST
श्रीनगर। जीआईएंडटीआई के मैदान में डेढ़ सौ कलाकार, उन्हें देखने उमड़ी हजारों की भीड़ और चक्रव्यूह का मंचन। रविवार को विद्याधर श्रीकला संस्था की प्रस्तुति ने यूथ क्लब के पांचवें स्थापना दिवस समारोह में रंग भर दिया। गढ़वाली में लिखे गए अधिकाधिक पद्यात्मक संवादों से तैयार चक्रव्यूह नाटक का प्रदर्शन पूरे माहौल को भावुक कर गया। अभिमन्यु को छलावे से मारने का दृश्य अधिकांश दर्शकों की आंखों में पानी ले आया।
विद्याधर श्रीकला के सचिव प्रो.डीआर पुरोहित द्वारा निर्देशित चक्रव्यूह नाटक की प्रस्तुति कुछ दिन पहले छात्रों के हंगामे की भेंट चढ़ गई थी। चौरास परिसर में इसे होने नहीं दिया गया था, मगर रविवार को दर्शकों ने चक्रव्यूह के मंचन का पूरा आनंद उठाया। आशीष तुम्हारो फलीभूत ह्वैगी संवाद में बच्चों के प्रति मां के आशीष की कल्पना, अंग्ल्यार जन चिपक्यां छन जैसे मुहावरेयुक्त वाक्यों तथा अरे तेरो पिता निपुतो ह्वै जालो जैसे कई मार्मिक संवाद नाटक में छाए रहे। सुभद्रा कु लाल चले अभिमन्यु, कौरवों कु काल चले अभिमन्यु आह्वान गीत नाटक को लयबद्धता तथा गत्यात्मकता देने में सफल रहा। अभिमन्यु की भूमिका में पंकज गैरोला, जयद्रथ पंकज नैथानी, द्रोणाचार्य सुधीर डंगवाल, दुस्सासन गणेश डिमरी, कर्ण कमलेश मंमगाई, दुर्योधन प्रेमवल्लभ चमोली, लक्ष्मण शैलेंद्र जुयाल, अस्वस्थामा संदीप शुक्ला, भीम विजय बल्लभ भट्ट ने बेहतरीन अभिनय से दर्शकों की वाहवाही लूटी। यूथ क्लब के सचिव दीपक बिष्ट, प्रदीप रौथाण, अनूप बहुगुणा, मनीष पंत, संजय बडोनी ने कलाकारों का सहयोग किया।


अनुष्ठान और रंगमंच के मिलन का प्रदर्शन है चक्रव्यूह
करुण रस की प्रधानता लिए गढ़वाली रंगमंच के माध्यम से देश-दुनिया में धूम मचाने वाला चक्रव्यूह नाटक वास्तव में अनुष्ठान और रंगमंच के मिलाप का प्रदर्शन है। महाभारतकालीन कथा के सबसे मार्मिक दृश्य, जिसमें 16 वर्षीय अभिमन्यु को घेरकर कौरव मार डालते हैं, गढ़वाली रंगकर्मियों द्वारा लोक कथानक के आधार पर मंचित किया जाता रहा है। लोक कथा के अनुसार, चक्रव्यूह तोड़ने के लिए पहुंचे अभिमन्यु को दुर्योधन युद्ध समाप्ति की घोषणा किए जाने का झूठा आश्वासन देता है। युद्ध समाप्ति की घोषणा से खुश होकर अभिमन्यु अपने अस्त्र-शस्त्रों को किनारे कर देता है और दुर्योधन से गले मिलने की कोशिश करता है। इसी बीच, कौरव सेना अभिमन्यु को घेरकर मार डालती है।




फोटो : 23आरपीजी02

नकुल ने पित्राें की शांति को किया पिंडदान
रुद्रप्रयाग। धनपुर पट्टी की ग्राम पंचायत गडोरा में चल रहे पांडव नृत्य के दौरान पांडवाें ने अलकनंदा नदी में स्नान कर पूजा-अर्चना की। इस दौरान ब्राह्मणाें ने पांडवाें के अस्त्र-शस्त्राें की विधिवत पूजा की, जबकि पुराने अस्त्र-शस्त्राें को नदी में विसर्जित किया। इस मौके पर नकुल की ओर से पित्राें का पिंडदान भी किया गया। पांडव नृत्य के 13वें दिन पांडवाें के पश्वाआें ने अस्त्र-शस्त्राें के साथ अलकनंदा नदी में स्नान किया। स्नान के बाद पांडव ग्राम पंचायत शिवानंदी और कलना होते हुए गडोरा पहुंचे, जहां ग्रामीणाें ने भव्यता से पांडवाें और उनके साथ चल रहे श्रद्धालुआें का स्वागत किया। इस मौके पर राजेश कुंवर, पांडव नृत्य आयोजन समिति के अध्यक्ष गोपाल सिंह कुंवर, जीत सिंह, बैशाख सिंह, कमल सिंह रावत और यशवंत रावत समेत कई ग्रामीण मौजूद थे।

पांडव नृत्य के साथ थाती पूजन आयोजित
पुरोला। विकासखंड के सुनाली गांव में देव डोलियों की मौजूदगी में अनुष्ठान एवं पांडव नृत्य के साथ सात दिनों से चल रहा थाती पूजन कार्यक्रम का समापन हुआ।
आजकल रवाईं घाटी के गांवों में थाती पूजन कार्यक्रम चल रहे हैं। यहां गांवों में हर तीसरे, पांचवें और सातवें वर्ष में इस तरह के अनुष्ठान होते हैं। गांव में अन्न धन और पशु धन की समृद्धि, खुशहाली तथा अल्पायु में मृत लोगों की आत्मा की शांति के लिए इस तरह के आयोजन किए जाते हैं। इसी क्रम में पुरोला प्रखंड के सुनाली, पुरोला, कंताड़ी आदि गांवों में भी पिछले सात दिनों से थाती पूजन पर विभिन्न धार्मिक अनुष्ठान आयोजित किए गए। रविवार को पांडव नृत्य एवं वन आछरी नृत्य के साथ यह अनुष्ठान संपन्न हुआ। इसमें पांडव पश्वा, थाती के ब्राह्मणों समेत सैकड़ों ग्रामीणों ने हिस्सा लिया। इस मौके पर सोबेंद्र राणा, राजपाल पंवार, हरिकृष्ण, शिव प्रसाद आदि अनेक लोग मौजूद थे।

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

MP निकाय चुनाव: कांग्रेस और भाजपा ने जीतीं 9-9 सीटें, एक पर निर्दलीय विजयी

मध्य प्रदेश में 19 नगर पालिका और नगर परिषद अध्यक्ष पद पर हुए चुनाव में कांग्रेस और भाजपा के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिला।

20 जनवरी 2018

Related Videos

केदारनाथ में दो वर्ष बाद फिर दिखा ये विलुप्त जानवर

केदारनाथ धाम में सरस्वती घाट क्षेत्र में हिमालयन फाक्स दिखाई दी। यहां लगे क्लोज सर्किट कैमरे में 43 सेकंड तक कैद हुआ यह दुर्लभ वन्य जीव बर्फ में अठखेलियां करता हुआ दिख रहा है। आपदा के बाद यह जीव यहां दूसरी बार नजर आया है।

4 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper