गौरीकुंड-केदारनाथ पैदल मार्ग का लिया जायजा

Rudraprayag Updated Thu, 06 Sep 2012 12:00 PM IST
रुद्रप्रयाग। नैनीताल हाईकोर्ट के आदेश के बाद हरकत में आए जिला पंचायत ने गौरीकुंड-केदारनाथ पैदल मार्ग का जायजा लेते हुए सफाई कर्मियाें को कूड़ा-कचरा एकत्रित करने के लिए प्लास्टिक बैग वितरित किए। साथ ही आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए। एक सप्ताह के अंदर जिला पंचायत को कूड़े-कचरे और घोडे़-खच्चरों की लीद के निपटारे के लिए की गई कार्रवाई के संबंध में हाईकोर्ट में शपथ पत्र देना है।
बुधवार को जिला पंचायत के अपर मुख्य अधिकारी (एएमए) वाईएस रावत ने गौरीकुुंड से केदारनाथ पहुंचकर आवश्यक दिशा निर्देश दिए। पैदल मार्ग पर सफाई व्यवस्था के लिए जिला पंचायत ने 95 सफाई कर्मियों की ड्यूटी लगाई है। एएमए ने सफाई कर्मियों को घोड़े-खच्चरों की लीद मार्ग के किनारे बने पिटों में एकत्रित करने के निर्देश दिए साथ ही नए पिटों के लिए स्थान चयनित किए गए। एएमए ने कहा कि घोड़े-खच्चरों के लीद से मुक्ति पाने के लिए घोड़े-खच्चर मालिकों-मजदूरों से वार्ता की जाएगी। एएमए ने बताया कि पैदल मार्ग पर प्लास्टिक कचरा बिखरा पड़ा है। सफाई कर्मचारियों को इन्हें एकत्रित करने के निर्देश दिए गए हैं।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

केदारनाथ में दो वर्ष बाद फिर दिखा ये विलुप्त जानवर

केदारनाथ धाम में सरस्वती घाट क्षेत्र में हिमालयन फाक्स दिखाई दी। यहां लगे क्लोज सर्किट कैमरे में 43 सेकंड तक कैद हुआ यह दुर्लभ वन्य जीव बर्फ में अठखेलियां करता हुआ दिख रहा है। आपदा के बाद यह जीव यहां दूसरी बार नजर आया है।

4 जनवरी 2018