पहाड़ में हो रहे भूस्खलन पर मर्म की चोट

Pithoragarh Updated Thu, 23 Jan 2014 05:55 AM IST
पिथौरागढ़। थियेटर फॉर एजूकेशन इन मास सोसायटी (टीम) ने संस्कृति विभाग के सहयोग से पहाड़ से निरंतर हो रहे पलायन और आपदा की विभिषिका पर ‘हमारी कहानी हमारी जुबानी’ नाटक के मंचन ने हर किसी के दिल पर गहरी छाप छोड़ी।
राजकीय संग्राहालय में हुए शो में पहाड़ में निरंतर हो भूस्खलन की विभिषिका को प्रदर्शित किया गया। शो की शुरुआत कलाकारों ने प्रार्थना गीत से की। इसके पश्चात ‘हमारी कहानी हमारी जुबानी’ शो का मंचन हुआ। कहानी के अनुसार एक संयुक्त परिवार की मुखिया दादी है, जो गांव की प्रधान भी है। जिसके तीन बेटे हैं। बड़ा बेटा शहर में काम करता है। मझला और छोटा बेटा गांव में रहते हैं। तीनों बेटों की शादी हो चुकी होती है और तीनों के बच्चे हैं। इसी दौरान गांव में बादल फटने से काफी नुकसान हो जाता है। मंझला बेटा चाहता है कि वह लोग शहर में रहे।
उसे लगता है कि गांव में रहकर परिवार का भविष्य अंधकारमय बनता जा रहा है। बुरी संगत और शराब की लत के कारण वह अपने हिस्से की जमीन बेचकर शहर जाना चाहता है, पर दादी, बच्चे और छोटा बेटा शहर नहीं जाना चाहते। गांव में रहकर ही तरक्की करना चाहते हैं। दादी की सूझबूझ और बच्चों के गांव के प्रति प्यार से मझले बेटे के साथ ही शहर में रहने वाले बड़े बेटे के मन में भी गांव के प्रति सम्मान और प्यार की भावना जाग जाती है। दादी का पूरे परिवार के साथ गांव में रहने का सपना पूरा हो जाता है। मंगल पांडे इन राइजिंग फिल्म समेत तमाम फिल्मों में काम कर चुके हिमाचल निवासी सिने कलाकार रूपेश भीम्टा और हितेश भार्गव के मंझे हुए निर्देशन में गीता वर्मा, मनीषा, लक्ष्मी नन्हीं मुस्कान, एंजिला, जितिन पंत समेत तमाम कलाकारों ने अपने अभिनय से वाहवाही लूटी। टीम के सचिव योगेश पाठक ने सहयोग के लिए सभी का आभार जताया।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

अमित शाह के इस बयान पर उत्तराखंड कांग्रेस हुई हमलावर

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा राहुल गांधी पर की गई टिप्पणी के बाद उत्तराखंड कांग्रेस आग-बबूला हो गई है।

21 सितंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls