अक्तूबर मेंतैयार हो जाएगी जौलजीबी सड़क की डीपीआर

Pithoragarh Updated Tue, 18 Sep 2012 12:00 PM IST
पिथौरागढ़। बहुप्रतिक्षित टनकपुर-जौलजीबी सड़क की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) अक्तूबर प्रथम सप्ताह में तैयार हो जाएगी। केंद्रीय गृह मंत्रालय हर दो माह में सड़क की प्रगति को लेकर दिल्ली में बैठक कर रहा है। सामरिक लिहाज से काली नदी के किनारे किनारे बनने वाली यह सड़क डबल लाइन की होगी। मैदान और पहाड़ के बीच की दूरी तो यह सड़क कम करेगी ही, देश की सीमा में निगरानी रखने में भी कारगर साबित होगी। इस सड़क में 53 छोटे, बड़े पुल बनेंगे।
डबल लाइन सड़क की डीपीआर राजस्थान की बीएलजी नामक कंपनी तैयार कर रही है। लोनिवि द्वारा कंपनी को डीपीआर तैयार करने के लिए अक्तूबर प्रथम सप्ताह तक का समय दिया गया है। सड़क निर्माण के लिए केंद्रीय सड़क निधि से 530 करोड़ रुपये स्वीकृत हैं। सड़क का निर्माण लोक निर्माण के चार डिवीजन पिथौरागढ़, चंपावत, लोहाघाट और अस्कोट करेंगे। 12 मीटर चौड़ी सड़क में 7.5 मीटर हिस्से में डामर होगा। विभागीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सड़क को काली नदी के किनारे बनाने की योजना है, ताकि नेपाल सीमा पर पूरी चौकसी रखी जा सके। भारत सरकार नेपाल से हो रही घुसपैठ और अवांछित गतिविधियों में रोक लगाने के लिए इस सड़क का उपयोग करना चाहती है।
टनकपुर की ओर से सड़क निर्माण का काम भी शुरू हो गया है। टनकपुर के ककरालीगेट से ठुलीगाड़ तक 12 किमी सड़क में से कुछ हिस्सा बन गया है। डीपीआर तैयार होने के बाद वन अधिनियम की बाधाओं को हटा लिया जाता है तो ठूलीगाड़ से आगे भी सड़क का निर्माण कार्य 2013 से शुरू हो जाएगा। सड़क बनने से जहां पिथौरागढ़ और चंपावत के नदी घाटी से लगे चार दर्जन गांवों को यातायात सुविधा मिलेगी। वहीं दो दर्जन एसएसबी के बार्डर आउट पोस्ट (बीओपी) सड़क से जुड़ जाएंगे। इस महत्वपूर्ण सड़क के बनने के बाद टनकपुर से जौलजीबी की दूरी 220 किमी से घटकर 151 किमी रह जाएगी।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

अमित शाह के इस बयान पर उत्तराखंड कांग्रेस हुई हमलावर

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा राहुल गांधी पर की गई टिप्पणी के बाद उत्तराखंड कांग्रेस आग-बबूला हो गई है।

21 सितंबर 2017