डॉ.कच्चाहारी का पिथौरागढ़ में अभिनंदन

Haldwani Bureau Updated Sun, 14 Jan 2018 10:33 PM IST
पिथौरागढ़। डा. गुरुकुलानंद सरस्वती कच्चाहारी को संन्यास ग्रहण किए 34 वर्ष पूरे हो गए हैं। मकर संक्रांति के दिन वर्ष 1983 में उन्होंने संन्यास ग्रहण किया था। रविवार को युवाओं ने डॉ.कच्चाहारी का अभिनंदन किया।

सबसे पहले डॉ. कच्चाहारी के दीर्घ जीवन की कामना के लिए हवन किया गया। उसके बाद अभिनंदन कार्यक्रम हुआ। बीएससी, एमबीबीएस, शास्त्री, आयुर्वेदाचार्य, साहित्य रत्न, योगाचार्य, विद्या वाचस्पति जैसी उपाधियों से अलंकृत डॉ. कच्चाहारी ने नेत्रदान और शवदान की भी घोषणा की है।

जिला अस्पताल में कुष्ठ रोग विशेषज्ञ के पद पर तैनात रहते हुए उन्होंने संन्यास लिया था। उसके बाद वह सामाजिक कामों से जुड़ गए और आज भी वह लोगों की सेवा में शामिल रहते हैं। उनके व्यक्तित्व पर सामाजिक चिंतक डॉ. तारा सिंह ने तीन वर्ष पहले एक किताब प्रकाशित की। एक और किताब वह तैयार कर रहे हैं।

इस मौके पर हरीश उप्रेती ने कहा कि डॉ. कच्चाहारी युवाओं को हमेशा आगे बढ़ने की प्रेरणा देते हैं। डा. तारा सिंह ने उनके व्यक्तित्व पर प्रकाश डाला। इस मौके पर डॉ. दीपक कापड़ी, मनीष सती, हीराबल्लभ पांडे, तरुण जोशी, रजनीश फुलेरा, अंकित पांडे, भावना धामी, आशा मोहन आदि उपस्थित थे। डॉ. कच्चाहारी का जन्म 13 अक्तूबर 1935 को हुआ।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

अमित शाह के इस बयान पर उत्तराखंड कांग्रेस हुई हमलावर

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा राहुल गांधी पर की गई टिप्पणी के बाद उत्तराखंड कांग्रेस आग-बबूला हो गई है।

21 सितंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls