एमबीबीएस की 100 सीटों को स्थायी मान्यता

Pauri Updated Fri, 24 Jan 2014 05:49 AM IST
श्रीनगर। वीर चंद्र सिंह गढ़वाली आयुर्विज्ञान एवं शोध संस्थान को एमबीबीएस की 100 सीटों के लिए केंद्र सरकार की ओर से स्थायी मान्यता की स्वीकृति दे दी गई है। केंद्र सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के उपसचिव मनोज कुमार झा ने मेडिकल कालेज प्रशासन को इस संदर्भ में गजट नोटिफिकेशन जारी किए जाने की सूचना दी है।
बता दें कि राजकीय मेडिकल कालेज की स्थायी मान्यता के लिए एमसीआई ने 22 से 25 जनवरी 2013 तक निरीक्षण किया था। निरीक्षण के बाद अप्रैल में एमसीआई ने 13 बिंदुओं पर कंप्लाइंस रिपोर्ट प्रस्तुत करते हुए शीघ्र पूरा किए जाने के निर्देश दिए थे। जून में स्वयं राजकीय मेडिकल कालेज के प्राचार्य व्हीएल जहागिरदार ने एमसीआई के सम्मुख सभी कमियों को पूरा करने के लिए शपथ पत्र एवं राज्य सरकार का शासनादेश प्रस्तुत किया था। इस पर एमसीआई ने मेडिकल कालेज को 100 सीटों की स्थायी मान्यता के लिए संस्तुति प्रदान की।
14 अक्तूबर 2013 को एमसीआई ने केंद्र सरकार को श्रीनगर मेडिकल कालेज की स्थायी मान्यता के लिए पत्र भेजा था, जिस पर 27 दिसंबर 2013 को केंद्र सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से गजट नोटिफिकेशन जारी कर स्वीकृति प्रदान कर दी गई है। नोटिफिकेशन में उत्तराखंड तकनीकी विवि को एमबीबीएस के विद्यार्थियों की डिग्री दिए जाने के निर्देश भी दिए गए हैं, जिसकी लिखित सूचना मेडिकल कालेज प्रशासन को भेजे गए पत्र में स्पष्ट किया गया है। प्राचार्य व्हीएल जहागिरदार ने बताया कि नोटिफिकेशन प्राप्त हो चुका है, जिससे छात्रों में खुशी की लहर है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

देहरादून में हुआ शानदार कार्यक्रम, झूमते नजर आए आम लोग

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में अखिल गढ़वाल सभा की ओर से परेड ग्राउड में उत्तराखंड महोत्सव ‘कौथिग’ में पांचवे दिन लोक गायकों के गीत का जादू लोगों के सर चढ़कर बोला। लोकगायक अनिल बिष्ट, संगीता ढौडियाल, कल्पना चौहान, हीरा सिंह राणा ने समा बांध दिया।

30 अक्टूबर 2017