छह माह से मानदेय नहीं, सीएम को भेजा ज्ञापन

Pauri Updated Wed, 26 Sep 2012 12:00 PM IST
कोटद्वार। आशा कार्यकत्रियों को छह माह से वेतन नहीं मिला है। जिससे गुस्साई कार्यकत्रियों ने तहसील में प्रदर्शन कर एसडीएम अनिल गर्ब्याल के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा।
उत्तराखंड आशा कार्यकत्री यूनियन (सीटू) से जुड़ी आशा कार्यकत्रियों ने छह माह से मानदेय नहीं मिलने के विरोध में हिंदू पंचायती धर्मशाला से तहसील परिसर तक रैली निकाली। कार्यकत्रियों ने केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए तुरंत मानदेय देने की मांग की। उनका कहना है कि बच्चों के पैदा होने से लेकर टीकाकरण सहित अन्य कार्यों में उनकी ड्यूटी लगाई जाती है। सभी इस काम में पूरी तन्मयता से लगी रहती हैं। इसके बावजूद आशाओं का मानदेय बहुत कम है। छह माह से यह मानदेय भी नहीं दिया गया। उन्होंने प्रदेश सरकार को भेजे ज्ञापन में मानदेय ढाई हजार करने, नियमितीकरण, सामाजिक सुरक्षा, प्रोत्साहन भत्ता और महंगाई भत्ता नियमित रूप से देने की मांग की है। रैली में प्रभा चौधरी, मीरा, लक्ष्मी गुसाईं, भागीरथी भंडारी, मोहिनी पांथरी, कल्पना, सीमा, सुमित्रा भट्ट, संजू नेगी, उषा रावत, आशा, चंद्रकला आदि आशा कार्यकत्रियां शामिल थी।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

देहरादून में हुआ शानदार कार्यक्रम, झूमते नजर आए आम लोग

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में अखिल गढ़वाल सभा की ओर से परेड ग्राउड में उत्तराखंड महोत्सव ‘कौथिग’ में पांचवे दिन लोक गायकों के गीत का जादू लोगों के सर चढ़कर बोला। लोकगायक अनिल बिष्ट, संगीता ढौडियाल, कल्पना चौहान, हीरा सिंह राणा ने समा बांध दिया।

30 अक्टूबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls