लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttarakhand ›   Nainital News ›   Modern plant will be installed in Lalkuan Milk Union Plant

Nainital News: लालकुआं दुग्धसंघ प्लांट में लगेगा आधुनिक संयंत्र

Haldwani Bureau हल्द्वानी ब्यूरो
Updated Sun, 27 Nov 2022 07:00 AM IST
Modern plant will be installed in Lalkuan Milk Union Plant
विज्ञापन
लालकुआं। नैनीताल दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ स्थित डेयरी प्लांट में प्रतिदिन डेढ़ लाख लीटर हैंडलिंग क्षमता का संयंत्र लगेगा। इसके आधुनिकीकरण के लिए भारत सरकार के वित्त मंत्रालय ने 61.76 करोड़ रुपये मंजूर किए हैं।

नैनीताल दुग्ध संघ अध्यक्ष मुकेश बोरा ने बताया कि वित्त मंत्रालय भारत सरकार की असिस्टेंट डायरेक्टर अंजलि मौर्या के हस्ताक्षरों से भेजे गए पत्र में नैनीताल दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ की मुख्य दुग्धशाला का आधुनिकीकरण कर इसकी क्षमता एक लाख से बढ़ाकर डेढ़ लाख लीटर प्रतिदिन करने के लिए 61.76 करोड़ रुपये मंजूर किए गए हैं। उन्होंने कहा कि अत्याधुनिक नया संयंत्र स्थापित होने से नैनीताल दुग्ध संघ आगामी 50 वर्षों तक हाईटेक सुविधा दे सकेगा। इधर, दुग्ध विकास मंत्री सौरभ बहुगुणा ने दूरभाष पर कहा कि दुग्ध विकास विभाग को मिली इस राशि से जल्द दुग्धशाला का निर्माण कराने के लिए टेंडर प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।

फोटो। पत्रकारों से वार्ता करते नैनीताल दुग्ध संघ के अध्यक्ष मुकेश बोरा।
इनसेट
श्वेत क्रांति के जनक डॉ. वर्गीज कुरियन को याद किया
नैनीताल दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ में श्वेत क्रांति के जनक डॉ. वर्गीज कुरियन की जयंती श्रद्धा पूर्वक मनाई गई। श्वेत क्रांति के जनक डॉ. वर्गीज कुरियन के चित्र के समक्ष श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए दुग्ध संघ अध्यक्ष मुकेश बोरा और सामान्य प्रबंधक निर्भय नारायण सिंह ने कहा कि श्वेत क्रांति के क्षेत्र में डॉ. कुरियन के कार्यों से सहकारिता और दुग्ध व्यवसाय के क्षेत्र में काम करने की नई प्रेरणा मिलती है। इस अवसर पर केंद्रीय रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट के पीआरओ लक्ष्मण खाती, दुग्ध संघ के अधिकारी उमेश पढालनी, संजय भाकुनी, विजय चौहान, रीता जोशी, हरीश आर्य, मोहन जोशी, हेमंत चौहान आदि थे।
1.50 लाख लीटर होगी नए प्लांट की क्षमता
हल्द्वानी। नए डेयरी प्लांट में दूध उत्पादन की क्षमता प्रतिदिन 1.50 लाख लीटर होगी। साथ ही नए डेयरी प्लांट में बनाए गए मक्खन, दूध, दही, पनीर, क्रीम, छांछ आदि को ज्यादा दिनों तक सुरक्षित रखा जा सकेगा। फिलहाल पुराने डेयरी प्लांट में दूध उत्पादन की क्षमता 50 हजार लीटर प्रतिदिन ही है। डेयरी फेडरेशन के अधिकारियों ने बताया कि बाजार में अमूल, मदर डेयरी जैसे ब्रांड आंचल को टक्कर दे रहे हैं। पुरानी तकनीक होने की वजह से हमें पिछड़ने का डर था।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00