सुमन सिंह वल्दिया की जमानत याचिका पर हुई सुनवाई

Nainital Updated Wed, 22 Jan 2014 05:52 AM IST
नैनीताल। हाईकोर्ट ने जेपी जोशी यौन उत्पीड़न मामले में सुमन सिंह वल्दिया की जमानत याचिका पर सुनवाई के बाद सरकार को दो सप्ताह में जवाब दाखिल करने के निर्देश दिए हैं।
न्यायमूर्ति आलोक सिंह की एकलपीठ के समक्ष मामले की सुनवाई हुई। सुमन सिंह वल्दिया ने हाईकोर्ट में अपनी जमानत याचिका दायर कर कहा था कि उन पर जो भी आरोप लगे हैं वे झूठे हैं। याचिका में कहा गया कि जेपी जोशी की ओर से बसंत बिहार देहरादून थाना क्षेत्र में अज्ञात लोगों के खिलाफ धमकी देने और गोपनीय शासकीय अभिलेखों को उपलब्ध कराने को लेकर फोन पर धमकी देने की एफआईआर 22 नवंबर 2013 को दर्ज कराई गई थी। इस पर जांच के दौरान कार्यवाही करते हुए पुलिस ने सुमन सिंह बल्दिया को गिरफतार कर लिया गया था।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

देहरादून में आशा कार्यकर्ताओं को पुलिस ने किया गिरफ्तार, ये हैं आरोप

वेतनमान बढ़ाने की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहीं आशा कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। बता दें कि आशा कर्यकर्ता देहरादून के परेड ग्राउंड के पास धरना प्रदर्शन कर रही थीं जिसके बाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

14 अक्टूबर 2017