कच्ची शराब बनाने के धंधे का भंडाफोड़

Nainital Updated Tue, 17 Jul 2012 12:00 PM IST
हल्द्वानी। घने जंगल में कच्ची शराब बनाने और उसकी पैकिंग कर गांवों में बेचने के गोरखधंधे का पुलिस ने भंडाफोड़ किया है। टांडा जंगल से सोमवार को 150 लीटर कच्ची शराब के साथ दो धंधेबाज दबोचे गए। इन पर आबकारी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। मौके से 500 लीटर लहन (कच्चा माल) भी बरामद हुआ। इसे नष्ट कर दिया गया जबकि शराब बनाने के उपकरण पुलिस ने सीज कर दिए हैं।
शराब का अवैध कारोबार भूराखत्ता क्षेत्र से डेढ़ किलोमीटर अंदर घने जंगल में किया जा रहा था। शराब बन जाने के बाद उसकी पैकिंग होती और फिर इसे लामाचौड़ क्षेत्र या अन्य ग्रामीण इलाकों में सप्लाई किया जाता था। लंबे समय से कच्ची शराब के धंधे की शिकायत मिलने के बाद टीपीनगर चौकी के प्रभारी नीरज भाकुनी के नेतृत्व में कांस्टेबल कैलाश जोशी, संजय कुमार, कृपाल सिंह और नवल किशोर भट्ट ने छापा मारा। मौके पर शराब बना रहे किशन सिंह निवासी टांडा जंगलात नर्सरी पौध और यशवंत सिंह निवासी चितरंजनपुर (ऊधमसिंह नगर) को गिरफ्तार कर लिया गया। चौकी प्रभारी ने बताया कि शराब बनाने के ड्रम, पाइपों के अलावा टायर ट्यूब और बड़ी मात्रा में पॉलीथिन बरामद की गई हैं। पूछताछ में इन धंधेबाजों ने बताया कि कच्ची शराब गांवों में बेची जाती है। जो 500 लीटर लहन मिला था उसे वहीं नष्ट कर दिया गया है।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

देहरादून में आशा कार्यकर्ताओं को पुलिस ने किया गिरफ्तार, ये हैं आरोप

वेतनमान बढ़ाने की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहीं आशा कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। बता दें कि आशा कर्यकर्ता देहरादून के परेड ग्राउंड के पास धरना प्रदर्शन कर रही थीं जिसके बाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

14 अक्टूबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls