लग्जरी कार से अल्मोड़ा जा रही थी हरियाणा की शराब

Nainital Updated Mon, 11 Jun 2012 12:00 PM IST
हल्द्वानी। आबकारी विभाग ने लग्जरी कार में तस्करी कर अल्मोड़ा जा रही अवैध शराब की 600 बोतलों के साथ दो युवकों को गिरफ्तार किया है। तस्करी की शराब हरियाणा की डुप्लीकेट है और इसकी मार्केट वैल्यू दो लाख रुपये है। आबकारी विभाग ने शराब और कार को सीज कर दिया है। छह सौ बोतलें पकड़ी जाने से शराब तस्करों में हड़कंप मचा है।
जिलाधिकारी निधिमणि त्रिपाठी एवं जिला आबकारी अधिकारी पीएस गर्ब्याल के निदेशन पर जिले में अवैध शराब की बिक्री रोकने के लिए छापामारी एवं चेकिंग अभियान चलाया गया है। आबकारी निरीक्षक अशोक मिश्रा के मुताबिक मुखबिर की सूचना पर रविवार सुबह सात बजे रामपुर रोड स्थित जीतपुर नेगी मोड़ पर संदिग्ध वाहनों की चेकिंग की जा रही थी। इसी दौरान रुद्रपुर से हल्द्वानी आ रही मारुति स्वीफ्ट कार संख्या यूके 06 एन 0801 को चेकिंग के लिए रोका गया। कार रुकवाने का इशारा करने पर चालक हड़बड़ा गया और भागने का प्रयास करने लगा। विभागी टीम ने घेराबंदी कर कार को रोक लिया। निरीक्षक अशोक मिश्रा ने बताया कि कार की तलाशी लेने पर उसमें छह सौ बोतलें शराब की बरामद हुई। टीम ने कार चालक अशोक जोशी और कमल पाठक निवासी मासी, अल्मोड़ा को गिरफ्तार कर लिया।
निरीक्षक के मुताबिक उक्त कार रुद्रपुर स्थित आवास विकास निवासी महेंद्र सिंह के नाम पंजीकृत है। अशोक ओर कमल पाठक पहाड़ के लिए शराब की तस्करी करते हैं। बरामद शराब हरियाणा की है। पकड़ी गई शराब डुप्लीकेट है और अल्मोड़ा के देघाट जा रही थी। निरीक्षक के मुताबिक सामान्य शराब में एल्कोहल की मात्रा 45.8 फीसदी होती है, जबकि डुप्लीकेट शराब में इसकी मात्रा 39.8 फीसदी है। आबकारी विभाग ने कार एवं शराब को कब्जे में लेकर कार स्वामी के खिलाफ भी कार्रवाई शुरू कर दी है। टीम में जगदीश आर्या, मोहन कोठारी, खीमानंद शर्मा और दीवान जीना मौजूद थे।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

देहरादून में आशा कार्यकर्ताओं को पुलिस ने किया गिरफ्तार, ये हैं आरोप

वेतनमान बढ़ाने की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहीं आशा कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। बता दें कि आशा कर्यकर्ता देहरादून के परेड ग्राउंड के पास धरना प्रदर्शन कर रही थीं जिसके बाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

14 अक्टूबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls