वन निगम के अकाउंटेंट का शव नहर में मिला

Nainital Updated Sat, 09 Jun 2012 12:00 PM IST
हल्द्वानी। वन विकास निगम में अकाउंटेंट का शव शुक्रवार तड़के उनके मकान के पास ही छोटी सिंचाई नहर से मिला। सूचना पर पहुंची मुखानी पुलिस ने शव कब्जे में लेकर छानबीन की है। नहर की पुलिया से शराब की खाली बोतल भी बरामद की हैं। शराब के सेवन से मौत की आशंका है। अकाउंटेंट मूलरूप से बनारस के रहने वाले था। पुलिस ने परिजनों को सूचना कर शव मोरचरी में रखवा दिया है।
बनारस जिले के देवेंद्र कुमार श्रीवास्तव (54) मुखानी क्षेत्र स्थित वन विकास निगम में अकाउंटेंट थे। अकाउंटेंट छड़ायल में परिवार सहित रहते थे। इन दिनों स्कूल की छुट्टियाें के कारण बच्चे बनारस गए हुए हैं। देवेंद्र पिछले कई दिनों से मकान में अकेले रह रहे थे। मुखानी चौकी प्रभारी संजय कुमार पांडेय ने बताया कि शुक्रवार तड़के पड़ोसियोें ने देवेंद्र के मकान का मेन दरवाजा खुला देखा। चोरी की आशंका पर पड़ोसियों ने देवेंद्र को आवाज लगाई तो कोई जवाब नहीं मिला। इसके बाद पड़ोसी मकान के अंदर गए तो वहां देवेंद्र नहीं थे। इसके बाद देवेंद्र की खोजबीन हुई। देवेंद्र मकान के पास ही छोटी सिंचाई नहर में औंधे मुुंह पड़े थे और उनकी मौत हो चुकी थी। चौकी प्रभारी ने बताया कि सूचना मिलने पर वह फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और शव कब्जे में लिया। नहर की पुलिया के पास से शराब की खाली बोतल बरामद की। चौकी प्रभारी ने प्रथम दृष्टया शराब के अत्यधिक सेवन से मौत होना प्रतीत हो रहा है। देवेंद्र की पत्नी को खबर कर दी है। बताया कि परिजन सुबह से बनारस से चले हुए हैं। देर रात तक हल्द्वानी में पहुंचने की उम्मीद है।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

देहरादून में आशा कार्यकर्ताओं को पुलिस ने किया गिरफ्तार, ये हैं आरोप

वेतनमान बढ़ाने की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहीं आशा कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। बता दें कि आशा कर्यकर्ता देहरादून के परेड ग्राउंड के पास धरना प्रदर्शन कर रही थीं जिसके बाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

14 अक्टूबर 2017