विज्ञापन
विज्ञापन
UP Board Result 2019 UP Board Result 2019

हाईकोर्ट ने याची को 1.99 करोड़ रुपये, पेंशन देने का आदेश दिया

Haldwani Bureauहल्द्वानी ब्यूरो Updated Thu, 13 Sep 2018 01:48 AM IST
ख़बर सुनें
नैनीताल। हाईकोर्ट ने याचिकाकर्ता को 1.99 करोड़ 9 हजार रुपये का भुगतान साढ़े सात प्रतिशत वार्षिक ब्याज की दर से करने और पेंशन देने का निर्देश दिया है।
विज्ञापन
विज्ञापन
कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश राजीव शर्मा और न्यायमूर्ति मनोज कुमार तिवारी की खंडपीठ ने प्रदेश सरकार को मेडिकल सेवा से जुड़े चिकित्सकों एवं अन्य कर्मचारियों और संस्थानों की सुरक्षा के लिए बने 2013 के एक्ट का कड़ाई से पालन करने का भी निर्देश दिया। खंडपीठ ने यह निर्देश जसपुर में बाल रोग विशेषज्ञ के रूप में तैनात रहे डाक्टर सुनील कुमार की पत्नी सरिता सिंह की याचिका पर जारी किया। डाक्टर सुनील कुमार की 20 अप्रैल 2016 को ड्यूटी के दौरान जसपुर में ही गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। पत्नी सरिता सिंह ने प्रदेश सरकार से मुआवजे, बेटे को नौकरी और पेंशन देने की मांग की थी। मुख्य सचिव ने 50 लाख रुपये का मुआवजा देने, पुत्र को पॉलिटेक्निक में प्रवक्ता की नौकरी देने और पत्नी को पांच वर्ष के लिए देहरादून में सरकारी आवास देने का प्रस्ताव मुख्यमंत्री को दिया था। इस पर मुख्यमंत्री ने सहमति भी दी थी, लेकिन आज तक भी उन्हें केवल एक लाख रुपये मिले हैं और पुत्र को नौकरी दी गई है।

खंडपीठ ने पाया कि मृतक डाक्टर का अंतिम वेतन 1.27 लाख 315 रुपये था। कोर्ट ने याची को 1.99 करोड़ 9 हजार रुपये का भुगतान साढ़े सात प्रतिशत वार्षिक दर से याचिका दायर होने की तिथि से देने, उत्तर प्रदेश सिविल सर्विस रूल 1981 के अनुसार मृतक आश्रित पेंशन देने और अवशेष पेंशन का भुगतान साढ़े आठ प्रतिशत वार्षिक ब्याज सहित 10 हफ्ते के भीतर करने को कहा। सुनील कुमार ने एएन मगध मेडिकल कालेज गया बिहार से एमबीबीएस की डिग्री हासिल की थी। वर्ष 1992 में यूपी सरकार ने उन्हें सीएचसी पतरामपुर नैनीताल में मेडिकल ऑफिसर के रूप में नियुक्ति दी। उत्तराखंड बनने के बाद डॉक्टर सुनील कुमार ने यूपी केडर चुना लेकिन उन्हें यूपी के लिए अवमुक्त नहीं किया गया।


हाईकोर्ट ने याची को 1.99 करोड़ रुपये, पेंशन देने का आदेश दिया
कोर्ट ने सरकार को डाक्टरों की सुरक्षा को बने एक्ट का कड़ाई से पालन करने को भी कहा
-2016 में जसपुर में तैनात डाक्टर की ड्यूटी के दौरान हुई थी हत्या
-पत्नी को केवल एक लाख रुपये का मुआवजा मिला सरकार से
-पत्नी सरिता सिंह ने हाईकोर्ट में दाखिल की थी याचिका

Recommended

UP Board Results देखने के लिए आज ही 8929470909 नंबर पर मिस्ड कॉल करें और फोन पर पाएं परिणाम
UP Board 2019

UP Board Results देखने के लिए आज ही 8929470909 नंबर पर मिस्ड कॉल करें और फोन पर पाएं परिणाम

कब और कैसे मिलेगी सरकारी नौकरी ?
ज्योतिष समाधान

कब और कैसे मिलेगी सरकारी नौकरी ?

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

लोकसभा चुनाव में किस सीट पर बदल रहे समीकरण, कहां है दल बदल की सुगबुगाहट, राहुल गाँधी से लेकर नरेंद्र मोदी तक रैलियों का रेला, बयानों की बाढ़, मुद्दों की पड़ताल, लोकसभा चुनाव 2019 से जुड़े हर लाइव अपडेट के लिए पढ़ते रहे अमर उजाला चुनाव समाचार।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Religion

Pavagadh Mata : पीएम मोदी को मिली जिस माता की लाल चुनरी, जानें उस शक्तिपीठ का पौराणिक इतिहास

Pavagadh Mata Temple चुनावी जंग जीतने निकले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां हीराबेन ने अपने बेटे को अपना और लाल चुनरी के रूप में पावागढ़ वाली माता का विशेष आशीर्वाद दिया। इस पावन शक्तिपीठ के पौराणिक इतिहास को जानने के लिए पढ़ें ये लेख —

23 अप्रैल 2019

विज्ञापन

हरिद्वार के पास दो हाथियों की मौत, ट्रेन की चपेट में आने से गई जान

शुक्रवार को हरिद्वार के पास नंदा देवी एक्सप्रेस की चपेट में आने से दो हाथियों की मौत की खबर सामने आई है। वन अधिकारियों का कहना है कि ये हादसा सुबह लगभग 5 बजे के करीब हुआ। सूचना मिलने के बाद वन अधिकारियों ने दोनों हाथियों का पोस्टमार्टम किया।

19 अप्रैल 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election