विज्ञापन

भल्ला स्टेडियम और आसपास में ठहरे हुए लोग भूख से बिलखे

Dehradun Bureauदेहरादून ब्यूरो Updated Sat, 23 May 2020 11:03 PM IST
विज्ञापन
भल्ला स्टेडियम में घर जाने को लेकर इंतजार में परेशान होते लोग ।
भल्ला स्टेडियम में घर जाने को लेकर इंतजार में परेशान होते लोग । - फोटो : HARIDWAR
ख़बर सुनें
भल्ला स्टेडियम के अंदर और बाहर डेरा जमाए गरीब परिवार अब भूख से बिलखने लगे हैं। शनिवार को खाना नहीं मिलने क बाद भूखी महिलाओं और बच्चों ने हंगामा खड़ा कर दिया। सूचना मिलने पर कुछ समाजसेवी खाना लेकर पहुंचे, लेकिन प्रशासन ने इनकी कोई सुध नहीं ली।
विज्ञापन

लॉकडाउन शुरू होने के बाद से शहर की समाजसेवी संस्थाएं प्रतिदिन भोजन वितरण का काम कर रही थी। अब लॉकडाउन-4 शुरू होने पर कुछ समाजसेवियों ने वितरण करने के बजाय कुछ खास जगह पर ही खाना खिलाया जा रहा है। भल्ला स्टेडियम के आसपास भी समाजसेवी प्रतिदिन दो वक्त का भोजन पहुंचाते रहें। इसलिए यहां डेरा जमाए लोगोें को खाना मिल जाता था। जबकि जिला प्रशासन के अधिकारी भी दावा करते थे कि वह इन लोगों को भोजन उपलब्ध करा रहे हैं।
शनिवार को जब कोई संस्था भोजन लेकर नहीं पहुंची तो असलियत सामने आ गई। लोगों को दोपहर तक भोजन नहीं मिला तो बच्चे बिलखते हुए मिले। लोग हल्ला मचाने लगे। जौनपुर की मनीषा, मुरादाबाद के महेश कुमार आदि ने बताया कि शुक्रवार रात को भी खाना नहीं मिला था। इसकी सूचना किसी ने समाजसेवी संस्था श्रीराम नाम विश्व बैंक समिति के राष्ट्रीय महासचिव पंडित सुमित तिवारी का दी। सूचना मिलते ही वे स्टेडियम पहुंचे और लोगों को भोजन उपलब्ध कराया। पूर्व सभासद अशोक शर्मा, नमन अग्रवाल, सुनील कुमार, बादल गोस्वामी, हरीश, रवि, अश्वनी, मोनू, शिव आदि ने सहयोग किया। संकल्प प्रकाश के संयोजक कन्हैया खेवड़िया भी पहुंचे और लोगों को गुड़, चना और बच्चों को दूध उपलब्ध कराया। कन्हैया खेवड़िया ने बताया कि लोगों की जरूरत देखते हुए दोबारा से रसोई शुरू करा दी गई है।
प्रवासियों को किया शिफ्ट
कनखल एक बरातघर में क्वारंटीन किए 35 लोगों में पांच को घर भिजवा दिया गया। 30 लोगों को हाईवे स्थित एक धर्मशाला में शिफ्ट किया गया है। यहां रहने वाले लोगों को भी दोपहर तक भोजन नहीं दिया जा सका। युवक कांग्रेस के शहर अध्यक्ष नितिन तेश्वर ने इन लोगों के लिए भोजन की व्यवस्था की।
स्टेडियम से दो लोगों के पांच हजार चोरी
काशीपुर के निवासी अनिल शर्मा और उनके एक अन्य साथी के पांच हजार रुपये चोरी हो गए। अनिल शर्मा ने बताया कि पिछले आठ दिनों से स्टेडियम के आसपास ठहरे थे। अब दो दिन से स्टेडियम के अंदर टेंट में थे। सुबह को बैग देखा तो उसमें से पांच हजार रुपये गायब थे।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us