इस रफ्तार से तो ‘तकनीक’ भी शरमा जाए

Haridwar Updated Mon, 28 Jan 2013 05:30 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
हरिद्वार। कभी टेलीफोन ठप तो कभी ब्रॉडबैंड की कनेक्टिविटी गायब। इंटरनेट की रफ्तार ऐसी कि ‘आधुनिक तकनीकी’ भी शरमा जाए। शहर में बीएसएनएल की सेवाओं का यही हाल है।
विज्ञापन

शहर में बीएसएनएल की सेवा दम तोड़ती नजर आ रही हैं। आए दिन बाधित हो रही इसकी सेवाओं से उपभोक्ता परेशान हैं। सबसे ज्यादा इंटरनेट यूजर्स और लैंडलाइन उपभोक्ता परेशान हैं। कभी भी इसकी ब्रॉडबैंड सेवा का बैंड बज जाता है। हर माह 150 कनेक्शन के आवेदन निगम के पास आते हैं, जबकि सेवाओं से संतुष्ट न होने पर हर माह 100 उपभोक्ता कनेक्शन कटवा लेते हैं। ब्रॉडबैंड सेवा की वजह से वजूद में चल रही इसकी लैंडलाइन सेवा का तो और भी हाल बुरा है। बदहाली के चलते जनपद में दो साल के भीतर करीब 15 हजार कनेक्शन कट चुके हैं। इस हिसाब से बीएसएनएल की लैंडलाइन सेवा लेने वाले उपभोक्ताओें की संख्या में कोई इजाफा होता नहीं दिख रहा है। मौजूदा समय में बीएसएनएल के पास 24 हजार लैडलाइन उपभोक्ता हैं, अगर सेवाएं दुरुस्त होती तो कट चुके 15 हजार कनेक्शन को लगाकर विभाग के पास करीब 40 हजार कनेक्शन होते।



बीएसएनएल ने चालू किए टोल फ्री नंबर
बीएसएनएल शहर में कनेक्शनों की टूटती कड़ी को जोड़ने में लग गया है। बीएसएनएल सेवाओं से संबंधित परेशानी के लिए हेल्पलाइन नंबर चालू किए हैं। ऐसे में अब शिकायत दर्ज कराने के लिए उपभोक्ताओं को कार्यालय के चक्कर काटने की जरूरत नही हैं। आप अपनी शिकायत बीएसएनएल और अन्य कंपनियों के नंबरों से दर्ज करा सकते हैं। बीएसएनएल ने उपभोक्ताओं के लिए एक माह पूर्व अपनी टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर चालू किए हैं। खास बात यह है कि अब बीएसएनएल के यूजर्स ही नहीं अन्य ऑपरेटर से भी टोल फ्री नंबर पर शिकायत दर्ज कराई जा सकती है।


लंच ब्रेक पर जमा हो सकेंगे फोन बिल
उपभोक्ताओं की परेशानी को ध्यान में रखते हुए बीएसएनएल उपभोक्ताओं की सुविधा के लिए और भी प्रयास कर रहा है। इसी कड़ी में अब उपभोक्ता अपने बिलों को लंच ब्रेक के समय पर भी जमा कर सकेंगे। उपभोक्ताओं को लंच के दौरान बिल जमा करने के लिए इंतजार नहीं करना पड़ेगा। बीएसएनएल के अधिकारियाें ने उपभोक्ताओं की सुविधा को देखते हुए यह निर्णय लिया है। लंच के दौरान बिल कांउटर पर एक कर्मी तैनात रहेगा। सभी कर्मियों को एक साथ लंच पर न जाने के निर्देश दिए गए हैं।


केबिल चोर और खुदाई डाल रही खलल
हरिद्वार। केबिल चोर बीएसएनएल के के लिए मुसीबत का सबब बन गए हैं। केबिल कटने के कारण सैकड़ों फोन लाइन बंद हो जाती हैं। पिछले एक साल से लगातार केबिल चोरी की वारदातें हो रही है। दूसरी ओर शहर में सीवर लाइन की खुदाई के चलते कई बार सेवाएं बाधित हो जाती हैं। सीवर लाइन के लिए हो रही खुदाई के कारण जगह-जगह भूमिगत लाइन की केबिल कट रही हैं। जिसके कारण कई बार सेवाएं बाधित हो जाती है।
बीएसएनल सेवाओं पर एक नजर
सेवा उपभोक्ताओं की संख्या
लैंडलाइन फोन 24000
मोबाइल 180000
डब्लूएलएल 2500
ब्राडबैंड 7250
इंटरनेट 30000
ईवीडीओ 700
थ्रीजी 20000
वाईमैक्स 70
एफटीटीएच 16
इन नंबरों पर करें शिकायत
सेवा बीएसएनएल से अन्य आपरेटर से
लैंडलाइन 198 एवं 1500 18003451500
मोबाइल 1503 18001801503
ब्राडबैंड 1504 18003451504
ब्लैकबेरी 1505 18001801505
कोट
खुदाई के कारण बीएसएनएल की केबिल लगातार कट रही हैं। इसके अतिरिक्त बीएसएनएल की केबिल आए दिन चोरी हो रही हैं। जिसके चलते सेवाएं बाधित हो जाती है। जिन्हे समय रहते ठीक कराया जाता है।
- अरविंद कुमार, उपमहाप्रबंधक बीएसएनएल

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X