महंगाई को मात देगी दीपावली की खुशियां

Haridwar Updated Mon, 29 Oct 2012 12:00 PM IST
रुड़की। कमरतोड़ महंगाई ने हर किसी को परेशान कर रखा है। लेकिन इसके चलते रोशनी के पर्व दीपावली की खुशियों के साथ शहरवासी समझौता नहीं करना चाहते। लोगों का कहना है कि महंगाई से तो पूरे साल ही जूझना है। फिर इसके लिए सालभर में एक बार आने वाली दीपावली की खुशियों को क्यों कम किया जाए। त्योहारी खरीदारी से बजट न गड़बड़ाए, इसको लेकर लोग अन्य खर्चों में कटौती की योजना भी बना रहे हैं। वहीं, शहर के व्यापारियों का भी मानना है कि दीपावली लोगों की खुशियों और आस्था जुड़ी हैं। इसलिए महंगाई के चलते त्योहार पर होने वाली खरीदारी पर फर्क नहीं पड़ेगा। इसको देखते हुए सजावटी और जरूरत के सामान को लेकर बाजार सज रहे हैं। कंपनियों ने तमाम आइटमों पर त्योहारी छूट और गिफ्ट आदि की स्कीमें रखी हैं। लोगों के उत्साह को देखते हुए कई नई आइटम भी इस बार बाजार में उतारी गई हैं। दुपहिया और चौपहिया वाहनों की एडवांस बुकिंग चल रही है।

जेबें रहेंगी गरम तो बाजार पर छाएगी त्योहारी तरंग
दीपावली इस बार नवंबर माह के दूसरे सप्ताह में है। इसका भी अच्छा असर बाजार पड़ेगा। रुड़की में सरकारी कर्मचारियों की संख्या अच्छीखासी है। जिन्हें नवंबर माह के प्रथम सप्ताह तक वेतन मिल जाता है। इस बार डीए में भी सात प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। इसके अलावा बोनस का भी भुगतान होगा। दीपावली पर कर्मचारियों की जेबों में पैसा होगा और वे दीपावली के लिए अच्छी खरीदारी कर सकेंगे। यदि दीपावली माह के अंतिम सप्ताह में होती है बाजार कुछ मंदा रहने की उम्मीद थी।

चाइनीज लड़ियों को एलईडी स्ट्रीप देगी झटका
दीपावली पर घरों को रोशन करने के लिए चाइनीज लड़ियों की जबरदस्त मांग रहती है। लेकिन इस बार एलईडी स्ट्रीप और बोर्ड लड़ियां चाइनीज लड़ियों को झटका दे सकती हैं। हालांकि एलईडी स्ट्रीप के रेट चाइनीज लड़ियों के मुकाबले ज्यादा हैं। लेकिन उनकी तेज रोशनी, न के बराबर बिजली खर्च और खराब न होने जैसी खूबियों के कारण यह लोगों की पसंद बन सकती हैं। एलईडी स्ट्रीप कम से कम पांच मीटर की होती है। इसकी कीमत लगभग 400 रुपये है। मकतूलपुरी मथुरा विहार मार्केट में एलईटी स्ट्रीप और लाइटिंग बोर्ड बनाने का काम करने वाले अशोक कुमार ने बताया कि एलईडी स्ट्रीप सामान्य लड़ियों के मुकाबले ज्यादा रोशनी देती है। इसके कुछ मॉडल में लाइटों का कलर बदला भी जा सकता है। उनके पास दीपावली को लेकर काफी ऑडर आए हैं।

इलेक्ट्रॉनिक्स आइटम पर फेस्टिवल ऑफर
दीपावली को देखते हुए एलसीडी, फ्रिज, वाशिंग मशीन, माइक्रोवेव समेत तमाम इलेक्ट्रॉनिक्स आइटम पर अधिकांश कंपनियों ने ऑफर और गिफ्ट रखें हैं। मार्डन इलेक्ट्रॉनिक्स के स्वामी सुहेल ने बताया कि सबसे ज्यादा गोल वाशिंग मशीन की मांग है। दीपावली के कारण इलेक्ट्रॉनिक्स आइटम की बिक्री काफी बढ़ गई है। एक नवंबर के बाद और ज्यादा बूम आएगा।

आकर्षक ड्राईफ्रूट डिब्बों की ज्यादा मांग
त्योहार पर यूं तो मिठाइयों का ज्यादा जोर रहता है। लेकिन इस बार ड्राईफ्रूट की ज्यादा मांग हैं। मिठाइयों में मिलावटखोरी इसकी एक बड़ी वजह मानी जा रही है। ड्राइफ्रूट के लिए मार्केट में इस बार आकर्षक डिब्बे बाजार में है। गरीबदास एंड संस के स्वामी हरीश कुमार ने बताया कि इस बार ड्राइफ्रूट के नए-नए डिजाइन वाले डिब्बे आए हैं। जिनकी (खाली डिब्बों) कीमत 20 रुपये से 100 रुपये तक है।

सोना-चांदी पहुंच से बाहर, बर्तन बनेंगे सहारा
दीपावली से दो दिन पूर्व धनतेरस पर सोना, चांदी समेत अन्य धातुओं की खरीदारी का विशेष महत्व है। लेकिन सोने-चांदी के भाव आसमान छू रहे हैं। इसको देखते हुए इस बार बर्तनों की खरीदारी पर लोगों का ज्यादा जोर रहेगा। इसको देखते हुए व्यापारियों ने भी तैयारियां कर ली हैं। वर्धमान ट्रेडर्स के स्वामी राजेश जैन ने बताया कि धनतेरस पर कूकर, कढ़ाई, प्लेट आदि की ज्यादा मांग रहती है। इस बार डिजाइनदार बर्तन आ रहे हैं।

दुपहिया और चौपहिया वाहनों की एडवांस बुकिंग
भले ही पेट्रोल की कीमतें आसमान छू रही हों, लेकिन वाहनों की ब्रिकी में कमी नहीं है। त्योहारों ने इस बिक्री को और ज्यादा बढ़ा दिया है। एक एजेंसी के मार्केटिंग मैनेजर एलएस बेदी ने अनुसार, त्योहार को लेकर वाहनों की बिक्री बढ़ गई है। कुछ लोगों ने वाहनों की एडवांस बुकिंग भी करा ली है। इसी तरह से कारों की भी बुकिंग चल रही है।

पुताई के लिए नहीं मिल रहे मजदूर
दीपावली पर सभी लोग अपने घरों की साफ सफाई और रंगाई पुताई में करवाने में जुटे हैं। इसके चलते पुताई करने वाले मजदूरों की मांग बढ़ गई। शहर में मांग इतनी बढ़ गई पुताई करने वाले मजदूर आसानी से मिल नहीं पा रहे हैं। मांग को देखते हुए मजदूरों ने अपनी दिहाड़ी 300 रुपये बढ़ाकर चार से रुपये तक कर दी है।

Spotlight

Most Read

Lucknow

रायबरेली: गुंडों से दो बहनों की सुरक्षा के लिए सिपाही तैनात, सीएम-पीएम को लिखा था पत्र

शोहदों के आतंक से परेशान होकर कॉलेज छोड़ने वाली दोनों बहनों की सुरक्षा के लिए दो सिपाही तैनात कर दिए गए हैं। वहीं एसपी ने इस मामले में ठोस कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

24 जनवरी 2018

Related Videos

हरिद्वार जिला जेल से मिली ये जानकारी आपको चौंका देगी

उत्तराखंड से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। दरअसल हरिद्वार जिला जेल में 16 कैदी एचआईवी पॉजिटिव पाए गए हैं।

24 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper