बढ़ता जा रहा डेंगू के डंक का कहर

Haridwar Updated Fri, 19 Oct 2012 12:00 PM IST
रुड़की। पालिका क्षेत्र के माहीग्रान मोहल्ले में डेंगू का कहर कम होता नजर नहीं आ रहा है। बृहस्पतिवार को डेंगू के दो नए मामले सामने आए। दोनों पीड़ितों को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। क्षेत्र में अब डेंगू पीड़ितों की संख्या 25 तक पहुंच गई है। कई डेंगू के मरीजों का प्राइवेट अस्पताल में उपचार चल रहा है। डेंगू के नए मामले सामने आने से मोहल्ले के लोगों के साथ आसपास के इलाके में भी दहशत बढ़ गई है।
बुखार से पीड़ित माहीग्रान निवासी राशिदा और शहजाद को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया था। डेंगू की आशंका को देखते हुए चिकित्सकों ने दोनों के रक्त की जांच कराई तो रिपोर्ट पॉजीटिव आई। दोनों में डेंगू की पुष्टि होने के बाद चिकित्सकों ने उनका उपचार शुरू कर दिया है। ये दोनों मामले नए हैं। दोनों को एक दो दिन पहले ही बुखार की शिकायत हुई थी। इससे साफ है कि माहीग्रान में डेंगू का कहर बढ़ता ही जा रहा है। जिससे लोग दहशत में हैं। वहीं, माहीग्रान से सटे इलाकों में भी डेंगू का खौफ दिखाई देने लगा है।

समय पर सतर्क होता विभाग तो स्थिति न बिगड़ती
यदि स्वास्थ्य विभाग समय से सतर्क हो जाता तो शायद माहीग्रान में स्थिति इतनी भयंकर न होती। मोहल्ले में एक माह से भी अधिक समय से बुखार का प्रकोप चल रहा था। लेकिन स्वास्थ्य विभाग ने इस ओर ध्यान नहीं दिया। अखबारों में खबरें प्रकाशित होने के बाद ही स्वास्थ्य विभाग हरकत में आया। लोगों का कहना है कि यदि स्वास्थ्य विभाग मामले में लापरवाही न बरतता तो शायद मोहल्ले के इतने लोग बीमार नहीं होते। शहजाद का कहना है कि मोहल्ले में शायद ही कोई ऐसा घर बचा हो, जहां बुखार ने दस्तक न दी हो। लेकिन इसके बावजूद स्वास्थ्य विभाग ने कोई ध्यान दिया और न ही नगरपालिका ने दवाओं का छिड़काव कराया। डेंगू के कई मामले सामने आने पर स्वास्थ्य विभाग और नगरपालिका ने मोहल्ले पर ध्यान देना शुरू किया है।

कोट...
माहीग्रान में डेंगू के केस की पुष्टि होते ही स्वास्थ्य विभाग ने इससे निपटने के लिए प्रयास शुरू कर दिए थे। मोहल्ले के 310 घरों में अभी तक दवाओं का छिड़काव कराया जा चुका है। पीड़ितों के खून के नमूने लेकर जांच का काम लगातार जारी है। लोगों को डेंगू के प्रति जानकारी दी जा रही है। पानी को किसी भी स्थिति में कहीं पर एकत्रित न होने देने के लिए लोगों को प्रेरित किया जा रहा है। जल्द ही स्थिति पर काबू पा लिया जाएगा।
- डा. दीपा शर्मा, सीएमओ हरिद्वार

दो गांव बुखार की चपेट में
भगवानपुर। क्षेत्र के सिकरोढ़ा और खेड़ी शिकोहपुर गांव में भी कई लोग बुखार की चपेट में हैं। ग्रामीणों का कहना है कि कई दिनों से बुखार उतर और चढ़ रहा है। सिकरोढ़ा के फैयाज, कमरुनिशा, कर्मवीर, फरदीन, शाहनिया, सुमन और खेड़ी शिकोहपुर के राजसिंह, सोनू, साकेत अली, रिजवान आदि का कहना है कि गांव में कई लोग बीमार हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीम को पीड़िताें के रक्त के सैंपल लेने चाहिए। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भगवानपुर के प्रभारी चिकित्साधिकारी विक्रांत सिरोही का कहना है कि शुक्रवार को टीम भेजी जाएगी।

जल संस्थान ने नहीं ली सुध
पिरान कलियर। क्षेत्र की नई बस्ती में लीकेज पेयजल लाइन की सुध जल संस्थान ने बृहस्पतिवार को भी नहीं ली। जबकि इस बस्ती और दरगाह क्षेत्र में कई लोग बुखार से पीड़ित हैं। आशंका है कि गंदे पानी पीने से ही लोग बीमार हो रहे हैं। लोगों ने जल संस्थान के अधिकारियों की लापरवाही पर रोष जताया है। जल संस्थान के अवर अभियंता अब्दुल राशिद का कहना है कि शुक्रवार को लीकेज ठीक कराया जाएगा।

Spotlight

Most Read

Lucknow

ब्राइटलैंड स्कूल में छात्र को चाकू मारने वाली छात्रा को मिली जमानत

ब्राइटलैंड स्कूल में कक्षा एक के छात्र रितिक शर्मा को चाकू से गोदने की आरोपी छात्रा को जेजे बोर्ड ने 31 जनवरी तक के लिए शुक्रवार को अंतरिम जमानत दे दी।

19 जनवरी 2018

Related Videos

हरिद्वार जिला जेल से मिली ये जानकारी आपको चौंका देगी

उत्तराखंड से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। दरअसल हरिद्वार जिला जेल में 16 कैदी एचआईवी पॉजिटिव पाए गए हैं।

24 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper