जबरन दिए जा रहे खाद के विरोध में हंगामा

Haridwar Updated Wed, 17 Oct 2012 12:00 PM IST
लक्सर। खाद के साथ जबरन थोपे जा रहे जैविक खाद को घटिया बताते हुए किसानों ने इसे लेने से इंकार कर दिया है। समिति की इस व्यवस्था को बदलने की मांग को लेकर किसानों ने समिति गोदाम के बाहर हंगामा किया। बाद में डीएम को शिकायती पत्र भेजा गया।
गन्ना विकास समिति द्वारा इस बार किसानों को डीएपी, एनपीके तथा यूरिया खाद खरीदने पर पांच बोरे खाद के साथ ढाई किलो जैविक खाद जबरन दिया जा रहा है। इस जैविक खाद की कीमत 125 रुपये प्रति किलोग्राम है। मंगलवार को सहदीप, नरेंद्र पंवार, शिवचरण, नेपाल व मांगेराम आदि किसानों ने समिति के गोदाम के बाहर हंगामा किया। किसानाें ने आरोप लगाया कि समिति जो जैविक खाद जबरदस्ती दे रही है। कमीशनखोरी के चक्कर में यह जैविक खाद मंगवाया गया है। इसके बाद किसानों ने जिलाधिकारी को एक शिकायती पत्र भेजा है। उधर, गन्ना विकास समिति के विशेष सचिव एपी नवानी का कहना है कि जैविक खाद किसानों की भूमि में सुधार व पैदावार बढ़ाने के लिए मंगाया गया है और किसानों को यह खाद नियमानुसार दी जा रही है।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

हरिद्वार जिला जेल से मिली ये जानकारी आपको चौंका देगी

उत्तराखंड से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। दरअसल हरिद्वार जिला जेल में 16 कैदी एचआईवी पॉजिटिव पाए गए हैं।

24 दिसंबर 2017