आतिशबाजी का बारूद लगने से एक की मौत

Haridwar Updated Tue, 21 Aug 2012 12:00 PM IST
हरिद्वार। ज्वालापुर के निकट स्थित सराय गांव में आतिशबाजी का बारूद लगने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। ईद की नमाज के बाद वह व्यक्ति खुशी में आतिशबाजी कर रहा था, लेकिन खुशी का माहौल मातम में बदल गया। शोक स्वरूप गांव में ईद नहीं मनाई गई।
सराय गांव के अधिकतर लोग पास ही के गांव गाड़ोवाली में ईद की नमाज पढ़ने के लिये गए थे। हजारों की तादाद में जब नमाजी नमाज पढ़ने के बाद एक-दूसरे को गले मिलकर ईद की मुबारकबाद दे रहे थे, तभी जोर से धमाका हुआ। किसी को कुछ समझ में नहीं आया कि क्या हुआ। लोगों ने देखा गांव का ही सत्तार (55 वर्ष) लहूलुहान पड़ा था। प्रत्क्षदर्शियों के अनुसार सत्तार एक पाइप में बारूद भरकर ईद की खुशी में आतिशबाजी कर रहा था। जिस पाइप में बारूद डालकर गोला छोड़ा जा रहा था, वह नीचे गिर गया। गिरते ही पाइप का मुंह सत्तार की ओर हो गया। बारूद का गोला सत्तार के माथे पर लग गया। गोला लगते ही सत्तार का माथा फट गया और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। मौके पर अफरातफरी मच गई। सत्तार का शव सराय गांव लाया गया। जहां पर शाम को गमगीन माहौल में उसे दफनाया गया। अंतिम यात्रा में पूरा गांव उमड़ पड़ा। इस घटना के बाद से गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है।

सब्जी बेचकर करता था परिवार का गुजारा
सत्तार सब्जी बेचकर परिवार का गुजारा करता था। ग्रामीणों ने बताया कि उसकी सराय चौक पर सब्जी की दुकान थी। वह कई दिन से ईद की तैयारियों में जुटा था। उसे जरा भी इल्म नहीं था कि यह उसके जीवन की आखिरी ईद होगी।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

हरिद्वार जिला जेल से मिली ये जानकारी आपको चौंका देगी

उत्तराखंड से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। दरअसल हरिद्वार जिला जेल में 16 कैदी एचआईवी पॉजिटिव पाए गए हैं।

24 दिसंबर 2017