कक्षा से गायब छात्र हास्टल के पंखे से लटका मिला

Haridwar Updated Wed, 01 Aug 2012 12:00 PM IST
हरिद्वार। रोशनाबाद स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय के हास्टल में आठवीं कक्षा के छात्र का शव पंखे से लटका मिलने से हड़कंप मच गया। आननफानन में शव जिला अस्पताल पहुंचाया गया। जहां डाक्टरों ने छात्र को मृत घोषित कर दिया। सूचना पर पहुंचे परिजनों और अन्य लोगों ने घटना के लिए विद्यालय प्रशासन को जिम्मेदार ठहराते हुए अस्पताल में जमकर हंगामा काट सड़क पर जाम लगा दिया। मामला बिगड़ते देख आसपास के थानों की पुलिस अस्पताल पहुंची। इन्होंने जैसे तैसे गुस्साए लोगों को शांत किया और प्रधानाचार्य एवं दो शिक्षकों को हिरासत में लेकर मेडिकल कराया। रिपोर्ट सामान्य बताई जा रही है।
नगर निगम के लिपिक रविंद्र राठौर ( निवासी कड़च्छ ज्वालापुर) का पुत्र अक्षय कुमार राठौर (13 वर्ष) जवाहर नवोदय विद्यालय में आठवीं कक्षा में पढ़ता था। इस विद्यालय के सभी बच्चे हॉस्टल में ही रहते हैं। मंगलवार सुबह विद्यालय परिसर में सामूहिक प्रार्थना के बाद जब सभी बच्चे कक्षा में गए तो अक्षय अचानक गायब हो गया। कक्षा अध्यापक ने हाजिरी के समय उसे गैरहाजिर पाया तो प्रधानाचार्य को जानकारी दी गई। उसके बाद अक्षय की तलाश शुरू हुई। सुबह करीब नौ बजे दो छात्र और शिक्षक हॉस्टल में देखने के लिए गए। वहां देखा कि अक्षय के गले में रस्सी का फंदा कसा हुआ है और रस्सी पंखे से बंधी हुई है। जबकि शव जमीन पर टिका हुआ था। यह देखकर इनके होश उड़ गए। पूरे विद्यालय में यह खबर आग की तरह फैल गई मौके पर सभी शिक्षक व अन्य स्टाफ इकट्ठा हो गया। घटना की जानकारी रानीपुर पुलिस को दी गई । आनन-फानन में अक्षय को जिला अस्पताल पहुंचाया गया जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। परिजनों और अन्य लोगों को इसकी सूचना मिली तो इनमें रोष फैल गया। बड़ी संख्या में लोग जिला अस्पताल में एकत्रित हो गए। गुस्साए लोगों ने अक्षय की मौत के लिए विद्यालय प्रशासन को जिम्मेदार ठहराते हुए हंगामा कर दिया। कुछ लोगों ने अस्पताल के बाहर सड़क पर जाम लगा दिया। सूचना पर पहुंची आसपास के थानों की पुलिस शिक्षकों को वहां से जैसे-तैसे बीचबचाव कर हरिद्वार कोतवाली ले आई। प्रदर्शनकारियों के बीच पहुंचे नगर मजिस्ट्रेट जीएस नगयाल और सीओ सिटी अजय सिंह ने घटना की जांच कराने और मुकदमा दर्ज कराने का आश्वासन देकर गुस्साए परिजनों और लोगों को शांत कराया।
इनसेट
मौत साजिश का परिणाम
मृतक के पिता रविंद्र राठौर का कहना है इतना छोटा बच्चा आत्महत्या नहीं कर सकता। उसकी मौत किसी साजिश का परिणाम है। उन्होंने पूरे प्रकरण की जांच कराने की मांग की है।
इनसेट
पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार
एसपी सिटी केएल शाह ने बताया कि साथी बच्चों से पूछताछ की गई है। उसमें यह बात सामने आई है कि बच्चा कई दिनों से डिप्रेशन में था। लेकिन, पुलिस को एक पहलु ने उलझा दिया है। बच्चे का शव जमीन पर टिका हुआ था। सवाल उठता है कि जमीन पर पैर लग गए तो फिर मौत कैसे को गई। एसपी सिटी का कहना है यही जांच का बिंदु है। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।
इनसेट
पांच को जाना था नैनीताल
हरिद्वार। बेवक्त मौत का शिकार हुए छात्र अक्षय को पांच अगस्त को योग की क्षेत्रीय प्रतियोगिता में शामिल होने के लिए नैनीताल जाना था। योग शिक्षक ने बताया कि अक्षय योग का अच्छा छात्र था।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी पुलिस भर्ती को लेकर युवाओं में जोश, पहले ही दिन रिकॉर्ड रजिस्ट्रेशन

यूपी पुलिस में 22 जनवरी से शुरू हुआ फॉर्म भरने का सिलसिला पहले दिन रिकॉर्ड नंबरों तक पहुंच गया।

23 जनवरी 2018

Related Videos

हरिद्वार जिला जेल से मिली ये जानकारी आपको चौंका देगी

उत्तराखंड से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। दरअसल हरिद्वार जिला जेल में 16 कैदी एचआईवी पॉजिटिव पाए गए हैं।

24 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper