नई बाराकोट तहसील में होंगे 103 राजस्व गांव

Champawat Updated Thu, 23 Jan 2014 05:55 AM IST
लोहाघाट। बाराकोट ब्लाक के अलग प्रशासनिक इकाई के रूप में अस्तित्व में आने पर कानूनगो क्षेत्र बाराकोट अब नई तहसील में शामिल हो जाएगा, जिसमें बाराकोट, बिसराड़ी, बर्दाखान, रैघांव, गल्लागांव, ईजड़ा, बापरू, दयारतोली, वल्सों, मऊ राजस्व उप निरीक्षक क्षेत्र शामिल हैं। नई तहसील में 103 राजस्व गांवाें को शामिल किया गया है, जिसमें वर्तमान में 75 राजस्व गांव राजस्व पुलिस और शेष 28 गांव रेगुलर पुलिस के अधीन शामिल हैं। इस तहसील की आबादी 26,676 है, जिसमें 13,146 पुरुष और 13,530 महिलाएं हैं।
तहसील अंतर्गत चार दर्जन ग्राम पंचायतें, 20 क्षेत्र पंचायत, फरतोला और रैघांव जिला पंचायत क्षेत्र, बाराकोट, रैघांव, बापरू, वल्सों चार न्याय पंचायत क्षेत्र शामिल किए गए हैं। यह जिले की पांचवीं सबसे छोटी कम आबादी वाली तहसील होगी। जो वन संपदा की दृष्टि से काफी समृद्ध है। बाराकोट में नई तहसील को संचालित करने के लिए यहां उप तहसील कार्यालय का अपना भवन उपलब्ध है, जहां नई व्यवस्था होने तक तहसील का संचालन किया जा सकता है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO : गैस सिलेंडर में आग लगने पर न घबराएं, अपनाएं ये उपाय

उत्तराखंड के लोहाघाट में फायर ब्रिगेड कर्मियों ने अग्नि सुरक्षा जागरूकता अभियान चलाया। इस अभियान का शुभारंभ लोहाघाट के भीड़ वाले स्टेशन बाजार से किया गया।

9 जनवरी 2018