पर्यवेक्षक ने टटोली दावेदारों की नब्ज

Champawat Updated Tue, 04 Dec 2012 05:30 AM IST
चंपावत। भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष पद के लिए चंपावत में 13 लोगों ने दावेदारी की है। देर शाम तक पार्टी के प्रांतीय पर्यवेक्षक तथा पूर्व कैबिनेट मंत्री खजान दास कार्यकर्ताओं तथा दावेदारों की नब्ज टटोलने में जुटे रहे। पर्यवेक्षक की रिपोर्ट के आधार पर ही कल मंगलवार को पार्टी का प्रांतीय नेतृत्व जिलाध्यक्ष के नाम की घोषणा करेगा। दावेदारों की संख्या अधिक हो जाने के कारण आम राय बनाने में भी दिक्कत आ रही है। जिलाध्यक्ष के चुनाव को लेकर पूरे दिन गहमागहमी का माहौल रहा।
पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार सोमवार की सुबह पर्यवेक्षक खजान दास यहां पहुंच गए। उन्होंने जिला पंचायत सभागार में पहले कार्यकर्ताओं की बैठक ली। बाद में उन्होंने पद के दावेदारों के नाम मांगने शुरू किए। कुल 13 लोगों ने जिलाध्यक्ष पद के लिए अपनी दावेदारी पेश की। इनमें निवर्तमान जिलाध्यक्ष नरेश करायत, हिमेश कलखुड़िया, मोहन अधिकारी, भुवन गहतोड़ी, नारायण सिंंह महर, शंकर वर्मा, आनंद राय, अंबादत्त फुलारा, कैलाश पांडेय, सुभाष बगौली, सुरेंद्र बोहरा, हरीश पांडेय, टीका सिंह शामिल हैं। पर्यवेक्षक ने एक-एक कर हर दावेदार को अलग कमरे में बुलाया और उनसे बातचीत की।
जिलाध्यक्ष के नाम का ऐलान कल मंगलवार को प्रदेश नेतृत्व ही पूरे राज्य में एक साथ करेगा। भाजपा ने आगामी लोकसभा चुनाव और निकाय तथा पंचायत चुनाव को देखते हुए जिलाध्यक्षों का चयन करने का फैसला लिया है। इस कारण इस मुद्दे पर खास ध्यान दिया जा रहा है। इस मौके पर पूर्व विधायक केसी पुनेठा, शंकर पांडेय, एलएम पांडेय, जिला पंचायत अध्यक्ष प्रेमा पांडेय, हेमा जोशी, संजय जोशी, श्याम नारायण पांडेय समेत सभी मंडलों के अध्यक्ष तथा प्रांतीय प्रतिनिधि मौजूद थे।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO : गैस सिलेंडर में आग लगने पर न घबराएं, अपनाएं ये उपाय

उत्तराखंड के लोहाघाट में फायर ब्रिगेड कर्मियों ने अग्नि सुरक्षा जागरूकता अभियान चलाया। इस अभियान का शुभारंभ लोहाघाट के भीड़ वाले स्टेशन बाजार से किया गया।

9 जनवरी 2018