मुल्क एवं कौम की तरक्की की दुआएं मांगी

Champawat Updated Sat, 18 Aug 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
चंपावत/पिथौरागढ़/लोहाघाट/टनकपुर/बनबसा। रमजान के अंतिम जुम्मे को अलविदा की नमाज अता की गई। चंपावत, लोहाघाट, टनकपुर, बनबसा और ुपिथौरागढ़ के नगर तथा ग्रामीण क्षेत्रों में बड़ी संख्या में मुसलमानों ने नमाज अता कर मुल्क में भाईचारे एवं कौमी एकता के लिए दुआएं की। मुख्यालय में अबरार मियां के आवास पर सितारगंज से आए हाफिज रफीक ने अलविदा की नमाज अता कराई। इस मौके पर ताहिर हुसैन, सादिक हुसैन, अबरार अहमद, रईस अहमद, शमशाद, नसीम, इकबाल सहित बड़ी संख्या में मुस्लिम समुदाय के लोग शामिल हुए।
विज्ञापन

लोहाघाट में वक्फ बोर्ड के जिला सदर बाबा हसमत हुसैन के दौलतखाने में हाफिज मो.अलीम ने नमाज अता कराई। इस मौके पर अल्पसंख्यक 15 सूत्रीय कार्यक्रम के जिला सदर करीम खान, मो.असलम, जावेद यार खान आदि शामिल थे। रमजान के दिन शुरू होने से ही रोजे रख रहा 12 वर्षीय फैजान ने भी नमाज अता की। अफजाल भाई दौलत खाने में मो.दिलशाद ने नमाज अता कराई। यहां नमाज अदा करने वालों में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एसएम फारूख, बाबू मियां, अखलाख भाई, निजामुद्दीन खान, मो.याकूब आदि शामिल थे। खूना मलक की मस्जिद में हाफिज कारी अबरार हुसैन ने नमाज अता कराई। नमाज अदा करने वालाें में मस्जिद के सदर जफरुद्दीन, मो.नसीम, मो.हमीद, लतीफ हुसैन, रहमत हुसैन आदि शामिल थे। कोलीढेक की मस्जिद मदीना में पेशे ईमाम हाफिज मो.फिरोजुद्दीन नूरी ने नमाज अता कराई।
टनकपुर में मुस्लिम भाइयों ने उत्साह पूर्वक अलविदा की नमाज अता की। मनिहारगोठ गांव की जामा मस्जिद में इमाम हाफिज इकरार ने नमाज अदा कराई। इस मौके पर जामा मस्जिद के हाफिज गुलाम रसूल, सदर फखरूद्दीन अली, अमजद भाई, साहिद अली आदि मौजूद थे। इसके अलावा शहर की नई मस्जिद में इमाम कमाल अहमद एवं पुरानी मस्जिद में इमाम शबाब खान ने नमाज अता कराई। उधर बनबसा में बसअड्डे स्थित नूरी मुस्तफा मस्जिद में इमाम मौलाना अख्तर एवं कैनाल स्थित नूरूलहुदा मस्जिद में इमाम शकील अहमद ने अलविदा की नमाज अता कराई।
पिथौरागढ़ में मुस्लिम समाज के लोगों ने रमजान से पूर्व आखिरी जुमे को अलविदा की नमाज अता की। अंजुमन-ए-हैदरी के तत्वावधान में खड़कोट स्थित इमामबारगाह में नमाज अता कर अमनचैन, भाईचारे एवं खुशहाली की दुआ मांगी। बाद में नमाज संस्था के लोगों ने ईद-उल-फितर मनाने के लिए कार्यक्रमों की रूपरेखा तय की।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us