सीटें बढ़ाने को लेकर छात्रों ने किया प्रदर्शन

Chamoli Updated Thu, 09 Aug 2012 12:00 PM IST
गोपेश्वर। पीजी कालेज गोपेश्वर में बीए और बीएससी संकायों में सीटें बढ़ाने की मांग को लेकर छात्रोें का आंदोलन समाप्त होने का नाम नहीं ले रहा है। रोज-रोज के आंदोलन से महाविद्यालय में पढ़ाई चौपट हो रही है।
बुधवार को सुबह जैसे ही महाविद्यालय में कक्षाएं शुरू हुईं तो छात्रसंघ के पदाधिकारियों ने परिसर में महाविद्यालय प्रशासन के विरोध में नारेबाजी करनी शुरू कर दी। छात्र नेताओं का कहना था कि सीमांत जनपद होने के कारण यहां दूर-दराज के छात्र पढ़ने आते हैं। यदि उन्हें महाविद्यालय में दाखिला नहीं मिला तो गरीब तबके के छात्र उच्च शिक्षा ग्रहण करने से वंचित रह जाएंगे। आक्रोशित छात्रोें नेे कक्षाएं भी बंद करा दीं जिसपर छात्रों की शिक्षकों से तीखी नोक-झोंक भी हुई।
बाद में छात्रसंघ महासचिव राकेश फर्स्वाण के नेतृत्व में छात्रों ने प्राचार्य से वार्ता करते हुए उनके सामने सीटें बढ़ाने की मांग रखी। उनका कहना था कि विश्वविद्यालय के निर्देश पर ही सीटें बढ़ाई जा सकेंगी जिस पर छात्र भड़क गए और नारेबाजी करते हुए गोपेश्वर-चमोली मोटर मार्ग तक आ गए। आंदोलनरत छात्रों का कहना है कि यदि उनकी मांग शीघ्र पूरी नहीं की गई तो चरणबद्ध आंदोलन शुरू कर दिया जाएगा। इस मौके पर छात्र नेता प्रताप राम, प्रदीप भंडारी, मनमोहन नेगी, हिमांशु थपलियाल, विनोद, विष्णु, सुनील कुमार आदि मौजूद थे।

प्रवेश मिलने से वंचित छात्र हुए मायूस
गोपेश्वर। पीजी कालेज गोपेश्वर में बीएससी प्रथम वर्ष में प्रवेश लेने वाले छात्र-छात्राओं की लिस्ट जैसे ही सार्वजनिक हुई तो लिस्ट में अपना नाम न होने से कई छात्र-छात्राएं मायूस दिखे। छात्र अरुण कुमार, सुबोध और किरन का कहना है कि वे महाविद्यालय में दाखिले की आस में थे। लेकिन उनका नाम लिस्ट में नहीं है।


हमने बीए में सीटें बढ़ा दी हैं। बीएससी में 120 से बढ़ाकर 200 सीटें निर्धारित कर दी गई हैं। अब सीटें बढ़ाना संभव नहीं है। हमारे पास छात्रों के अध्ययन के लिए कक्षों की भी कमी है। यदि बीएससी में सीट खाली होंगी तो छूटे अभ्यर्थियों को मौका दिया जाएगा।
-डा. डीसी नैनवाल, प्राचार्य, पीजी कॉलेज गोपेश्वर।

महाविद्यालय प्रशासन ने छात्रों को दिया मौका
गोपेश्वर। पीजी कालेज गोपेश्वर में महाविद्यालय प्रशासन ने बीए प्रथम वर्ष में दाखिले के लिए छूट गए छात्रों को अर्थशास्त्र, समाजशास्त्र, अंग्रेजी, सैन्य विज्ञान, इतिहास और गृह विज्ञान में दाखिला देने का निर्णय लिया है। प्राचार्य डा. डीसी नैनवाल ने कहा कि छात्र आवेदन फार्म जमा कर 16 और 18 अगस्त को काउंसिलिंग में भाग ले सकते हैं।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

बर्फबारी के बीच बद्रीनाथ के कपाट छह महीने के लिए हुए बंद

बद्रीनाथ में बर्फबारी के बीच बद्रीनाथ के कपाट छह महीने के लिए बंद हो गए। यहां हुई बर्फबारी का असर मैदानी इलाके में भी देखने को मिला। इस बर्फबारी से तापमान में गिरावट आ गई है।

19 नवंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls