मां चामुंडा बदरीनाथ से हुई रवाना

Chamoli Updated Mon, 06 Aug 2012 12:00 PM IST
बदरीनाथ। कालीमठ क्षेत्र की आराध्य देवी मां चामुंडा ने तीन दिनों तक बदरीनाथ क्षेत्र में प्रवास कर रविवार को झमाझम बारिश की फुहारों के बीच जोशीमठ की ओर प्रस्थान किया। मां की डोली ने शनिवार को बदरीविशाल से विदा लेनी थी, लेकिन भारी बारिश के चलते देव यात्रा धाम में ही पंचपुरी सदन में ठहरी रही। रविवार को सुबह बीकेटीसी के मुख्य कार्याधिकारी बीडी सिंह, बदरीनाथ के रावल केशवन नंबूदरी, धर्माधिकारी भुवन चंद्र उनियाल और सैकड़ों भक्तों ने मां चामुंडा को विदा कर शीघ्र पुन: धाम में आने का न्यौता दिया। रात्रि प्रवास के लिए देव डोली हेलंग पहुंची।
पिछले 35 दिनों से पैदल भ्रमण पर चल रही दिवारा यात्रा में 72 श्रद्धालु शामिल हैं। मां चामुंडा की यह तीसरे चरण की दिवारा यात्रा है। पंडित मुरलीधर भट्ट ने कहा कि बदरीनाथ धाम से विदा लेते वक्त मां चामुंडा भावुक हो उठी। माता ने बदरीनाथ क्षेत्र में सभी श्रद्धालुओं को आशीर्वाद दिया। श्रद्धालुओं ने भी मां को शीघ्र दुबारा धाम में पहुंचने का न्यौता दिया।
बदरीनाथ धाम में देश के अंतिम माणा गांव के पीतांबर मोल्फा, लक्ष्मण सिंह रावत, व्यापार मंडल के अध्यक्ष विनोद नवनी, अरविंद पंचपुरी, विनोद डिमरी, राधाकृष्ण भट्ट और महंत नरेशानंद गिरी ने दिवारा यात्रा में अपना सहयोग दिया। हनुमान चट्टी में भी मां ने पवन पुत्र हनुमान से भेंट की।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

बर्फबारी के बीच बद्रीनाथ के कपाट छह महीने के लिए हुए बंद

बद्रीनाथ में बर्फबारी के बीच बद्रीनाथ के कपाट छह महीने के लिए बंद हो गए। यहां हुई बर्फबारी का असर मैदानी इलाके में भी देखने को मिला। इस बर्फबारी से तापमान में गिरावट आ गई है।

19 नवंबर 2017