विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नएवर्ष में कराएं महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग का एक माह तक जलाभिषेक, होगी परिवारजनों के अच्छे स्वास्थ्य की प्राप्ति
Astrology Services

नएवर्ष में कराएं महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग का एक माह तक जलाभिषेक, होगी परिवारजनों के अच्छे स्वास्थ्य की प्राप्ति

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

बर्फबारी से आफत: औली मार्ग पर तीन दिन से फंसे वाहन, बरातियों ने भी भूखे-प्यासे बिताई रात, तस्वीरें...

उत्तराखंड में बर्फबारी से जहां पर्यटकों के चेहरे खिले हुए हैं वहीं उनके लिए बर्फबारी ही आफत बनी हुई है।

15 दिसंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

बागेश्वर

रविवार, 15 दिसंबर 2019

सबसे तेज भागे कपकोट के एथलीट

बागेश्वर। युवा कल्याण और शिक्षा विभाग की ओर से डिग्री कॉलेज में खेल महाकुंभ के तहत बुधवार को दूसरे दिन भी खेलकूद हुए। इसमें जिलेभर के खिलाड़ियों ने विभिन्न प्रतियोगिताओं में भाग लेकर प्रतिभा का प्रदर्शन किया।
बालक-बालिका वर्ग की 100 मीटर दौड़ में कपकोट के सचिन तुलेरा व भावना जोशी, 400 मीटर में ललित कठायत व भावना जोशी, 800 मीटर में दीपक सिंह व बागेश्वर की रिया जोशी, 1500 मीटर में दीपक सिंह व खुशबू मेहता पहले नंबर पर रही।
गोलाफेंक में विशाल नेगी गरुड़ व कल्पना दानू कपकोट, भाला फेंक में कविंद्र सिंह कपकोट व सीता बोरा गरुड़, चक्का फेंक में ईश्वर सिंह कपकोट व प्रीति बोरा गरुड़, लंबी कूद धीरज साह गरुड़ व करीना आर्या बागेश्वर, ऊंची कूद राहुल भंडारी व भावना मेहता प्रथम रहे। वहीं कबड्डी, खो-खो, वॉलीबाल में तीनों ब्लॉकों की बालक-बालिका टीमों ने बेहतरीन खेल का प्रदर्शन किया।
इस मौके पर जिला युवा कल्याण अधिकारी अर्जुन सिंह रावत, क्षेत्रीय युवा कल्याण अधिकारी बागेश्वर हेमा परिहार, कपकोट रविंद्र कोहली, कुंदन राम, रविंद्र हरड़िया, राजेंद्र पांडे आदि थे।
... और पढ़ें

बागेश्वर में धूमधाम से मनाई गई दत्तात्रेय जयंती

बागेश्वर। बागनाथ मंदिर में बुधवार को दत्तात्रेय जयंती धूमधाम से मनाई गई। जूना अखाड़े के महंत शंकर गिरी के नेतृत्व में बागनाथ मंदिर से नगर के विभिन्न क्षेत्रों में गाजेबाजे के साथ संतों ने शोभायात्रा निकाली।
दैनिक हवन, पूजन, अनुष्ठान के बाद दिन में करीब एक बजे भक्तों ने बागनाथ मंदिर से भगवान दत्तात्रेय के जयकारों के साथ शोभायात्रा की शुरुआत की। चौक बाजार, कत्यूर बाजार, स्टेशन रोड, सरयू पुल, नुमाइशखेत, तहसील रोड आदि क्षेत्रों में ढोल-नगाड़ों के साथ झांकी निकाली गई। संतों ने हाथों में छड़ी लेकर पूरे नगर का भ्रमण किया।
इस दौरान लोग भजन, कीर्तन करते हुए मधुर संगीत की धुन पर जमकर थिरके। कलाकारों ने कई जगह रुक-रुक कर गीत, नृत्य किया। झांकियों के माध्यम से विभिन्न धार्मिक प्रसंगों का मंचन किया। उक्त स्थानों पर झांकी निकालने के बाद भक्तजन बागनाथ मंदिर पहुंचे। जहां सैकड़ों लोगों ने भंडारे का प्रसाद ग्रहण कर भगवान दत्तात्रेय का आशीर्वाद लिया। शोभायात्रा में गढ़वाल मंडल के महंत शिवा गिरी, मयंक शंकर, शिव गिरी, प्रयाग गिरी, उमेश पुरी, रामदेव गिरी, मनप्रीत गिरी, उमा गिरी, पार्वती पुरी, सीता गिरी, महेंद्र पिल्ख्वाल आदि रहे।
... और पढ़ें

छह दिन बाद निकाला जा सका प्रताप का शव

कपकोट/बागेश्वर। कपकोट की पिंडर नदी के में 14 दिन पहले गिरे ग्रामीण का शव बुधवार को निकाल लिया गया। छह दिन की मशक्कत के बाद नैनीताल से जल पुलिस के आने पर ही पत्थर में फंसा शव निकाला जा सका।
कपकोट के ग्राम किलपारा निवासी प्रताप सिंह (64) पुत्र आलम सिंह 27 नवंबर को पिंडर नदी के किनारे पैदल गांव जा रहे थे। इसी दौरान नदी में पानी पीते समय पैर फिसलने उसे वह नदी में गिरकर बह गए थे। तब से परिजन उनकी तलाश में जुटे थे। 30 नवंबर को प्रताप के बेटे ने कपकोट थाने में पिता की गुमशुदगी दर्ज कराई थी। इसी बीच छह दिसंबर को घटनास्थल से कुछ दूरी पर बड़े पत्थर के नीचे एक पुरुष का हाथ देखा गया। पानी के तेज वेग के कारण शव नहीं निकाला जा सका था। कपकोट के ब्लॉक प्रमुख गोविंद सिंह दानू की मांग पर डीएम रंजना राजगुरु ने उच्चाधिकारियों से बाहर की टीम भेजने का आग्रह किया था।
बुधवार को नैनीताल से आई जल पुलिस की डीप ड्राइविंग टीम समेत पुलिस और राजस्व विभाग टीम ने ग्रामीणों और पोकलैंड की मदद से नदी का बहाव दूसरी ओर कर दिया। तभी सबके सहयोग से रेस्क्यू कर शव को बाहर निकाल लिया गया। पंचनामा भरने के बाद शव पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया है। एसआई जगदीश कांडपाल और एसडीआरएफ के जवान टीका सिंह कार्की ने बताया कि पानी बर्फीला होने के कारण ही शव सुरक्षित रहा। हालांकि कपड़े बहने और खाल उतरने के कारण शव सफेद हो गया था। एसडीएम कपकोट प्रमोद कुमार, तहसीलदार विनोद वर्मा, कोतवाल टीआर वर्मा ने भी रेस्क्यू प्रक्रिया का नेतृत्व किया।
... और पढ़ें

पहले से भव्य होगा उत्तरायणी मेला

बागेश्वर। उत्तरायणी मेले की सुंदरता को निखारने के लिए तैयारियों का दौर जारी है। पालिकाध्यक्ष सुरेश खेतवाल रोजाना नगर भ्रमण कर मेले से पहले सभी खामियों का बारीकी से परीक्षण कर रहे हैं। इसी सिलसिले में शनिवार को हुई बैठक में अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी गई।
नगर पालिका परिसर में हुई बैठक में उत्तरायणी से पहले सभी समस्याओं के समाधान के लिए चर्चा की गई। एसडीएम राकेश चंद्र तिवारी ने कहा कि मेले को सुंदर बनाने का पूरा प्रयास किया जा रहा है। इसके लिए सभी सभासदों, लोनिवि, राष्ट्रीय राजमार्ग, सिंचाई विभाग आदि विभागीय अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिए गए।
पालिकाध्यक्ष सुरेश खेतवाल ने कहा कि उत्तरायणी मेले को इस बार और भव्य मनाया जाएगा। मेले में आने वाले लोगों के लिए जरूरी व्यवस्थाएं की जा रही हैं। स्वच्छता को ध्यान में रखते हुए बायो टॉयलेट की व्यवस्था की गई है। नालियों की सफाई, झाड़ियों का कटान, टूटफूट, सड़कों पर बने गड्ढों को त्योहार से पहले ठीक कर लिया जाएगा।
जल्द नुमाइशखेत रोड का सौंदर्यीकरण होगा। उन्होंने कहा कि मेले के दौरान शौचालय की व्यवस्था के लिए मोबाइल टॉयलेट मंगाए जा रहे हैं। इसके लिए ई-टेंडर प्रक्रिया पूरी की जा रही है। इस मौके पर ईओ नगर पालिका राजदेव जायसी, सभासद दीपक खेतवाल, प्रेम सिंह हरडिय़ा, व्यापार मंडलाध्यक्ष हरीश सोनी समेत लोनिवि, सिंचाई विभाग, एनएच आदि के विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।
... और पढ़ें
गर पालिका बागेश्वर में उत्तरायणी मेले की तैयारी बैठक करते पालिकाध्यक्ष सुरेश खेतवाल एवं अन्य। गर पालिका बागेश्वर में उत्तरायणी मेले की तैयारी बैठक करते पालिकाध्यक्ष सुरेश खेतवाल एवं अन्य।

गरुड़ में हुई सबसे अधिक 47 मिमी बारिश

बागेश्वर। जिले में पिछले 24 घंटों के दौरान खूब बारिश हुई। गरुड़ में 47 मिमी, कपकोट में 40 मिमी और बागेश्वर में 25 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई। कई जगह भूस्खलन, बर्फबारी के कारण पेड़ गिर गए। इनसे कई सड़कों पर यातायात बाधित हो गया। इनमें एक प्रांतीय राजमार्ग, एक मुख्य जिला स्तरीय और पांच सड़कें ग्रामीण संपर्क मार्ग हैं। पीएमजीएसवाई कपकोट की रिखाड़ी-बाछम किमी 25 से 39 किमी तक यातायात बाधित है। शामा-नौकुरी, लीती-गोगिना और धरमघर-माजखेत की सड़क भी बंद है। लोनिवि कपकोट से शामा-तेजम, शामा-लीती, लोनिवि बागेश्वर से गिरेछिना-सोमेश्वर मोटर मार्ग पर भी कई बार भूस्खलन का मलबा गिरा। उसे हटाने के लिए जेसीबी लगाई गई है। इनके शीघ्र खुलने की उम्मीद है जबकि रौल्याणा से लोहागढ़ी जाने वाली 10 किमी लंबी सड़क भी बर्फबारी के कारण बंद है। इसके 17 दिसंबर तक खुलने की उम्मीद है।
बागेश्वर से सोमेश्वर रोड पर हो रहे भूस्खलन से गिरा मलबा हटाती जेसीबी।
बागेश्वर से सोमेश्वर रोड पर हो रहे भूस्खलन से गिरा मलबा हटाती जेसीबी।- फोटो : BAGESHWAR
... और पढ़ें

22 घंटे बाद बहाल हुई बिजली आपूर्ति

कपकोट/बागेश्वर। जिले में दो दिन हुई बारिश और बर्फबारी बिजली लाइनों पर कहर बनकर टूटी। कई जगह इतनी बर्फ गिरी कि पेड़ उसका वजन तक नहीं सह सके। इस कारण कई पेड़ और उनकी टहनियां बिजली की लाइन पर गिर गए। इससे बिजली लाइन भी टूट गई।
कपकोट में असों के पास शुक्रवार दोपहर डेढ़ बजे पेड़ गिरने से 33 केवी लाइन टूट गई। इससे संपूर्ण कपकोट क्षेत्र में 22 घंटे तक बिजली बाधित हो गई। शनिवार दोपहर 11:30 बजे बिजली सुचारु हो सकी।
यूपीसीएल के ईई भाष्कर पांडे ने बताया कि शुक्रवार शाम तक बारिश की वजह से पेड़ नहीं हट सका था। वहीं कांडा क्षेत्र के ग्राम सेरी-भंतोला-कमेड़ीदेवी वाली लाइन भी पातल तक होल्ड हो चुकी है। वहां से धरमघर की ओर लाइन सुधारने का काम शुरू कर दिया गया है।
बिजली गुल होने से संचार सेवा बाधित
कई क्षेत्रों में बिजली गुल होने से मोबाइल टावरों ने भी काम करना बंद कर दिया। ऐसे में संचार सुविधा भी छिन गई। बैटरी डाउन होने से भी मोबाइल फोन खिलौना गए थे। ग्रामीण क्षेत्र में गुल हो रही बिजली का बुरा असर शहर में भी रहा। वहां लाइन सुधारने के कारण शहर में भी बिजली की आंखमिचौली जारी रही।
... और पढ़ें

सुरक्षा कारणों के चलते सोमश्वर-गिरेछिना मोटर मार्ग बंद

बागेश्वर। सोमेश्वर-गिरेछिना मोटर मार्ग पर यातायात बंद कर दिया गया है। भूस्खलन के कारण मार्ग कीचड़ से सना है। सुरक्षा के लिहाज से वाहनों की आवाजाही पर रोक लगाई गई है। मार्ग की सफाई के लिए लोनिवि की जेसीबी काम पर लगाई गई है।
ढाई महीने से द्वारिकाछीना के पास भूस्खलन हो रहा था। बृहस्पतिवार को वर्षा होने से एक बार फिर सड़क पर मिट्टी और पत्थर गिर रहे हैं। यहां से वाहनों का निकलना खतरे से खाली नहीं है। मार्ग पर कीचड़ होने से वाहनों के फिसलने की आशंका है। लोनिवि के जेई दानिश अख्तर ने बताया कि शाम पांच बजे के बाद उक्त मार्ग पर वाहनों की आवाजाही पर रोक है। बृहस्पतिवार को हुई बारिश से भूस्खलन हो रहा है। इसके चलते सड़क पर वाहनों के फिसलने का खतरा बना है। सुरक्षा के मद्देनजर इस रोड से वाहनों का गुजरना बंद किया गया है। विभाग ने मार्ग की सफाई के लिए जेसीबी लगाई है, मौसम साफ होने के बाद भी रोड को पूर्ण रूप से सुचारु किया जा सकेगा।
अल्मोड़ा में भी कई मार्ग बंद
अल्मोड़ा। अल्मोड़ा में शुक्रवार सुबह से बारिश शुरू हो गई और पूरे दिन रिमझिम और तेज बारिश होती रही। बर्फबारी के कारण अल्मोड़ा-पिथौरागढ़ मार्ग पनुवानौला और आरतोला के पास काफी देर तक बंद रहा। जबकि सेराघाट मार्ग में धौलछीना के आसपास यातायात बाधित हुआ। उधर अल्मोड़ा-मोरनौला मोटरमार्ग में लमगड़ा से आगे मोतियापाथर, मोरनौला जैंती के पास बंद हो गया। आपदा प्रबंधन अधिकारी राकेश जोशी ने बताया कि इन तीनों मार्गों से बर्फ हटाने के लिए जेसीबी लगाई गई। उन्होंने बताया कि मार्ग में फंसे वाहनों को निकाल लिया गया है।
... और पढ़ें

बागेश्वर में 190 गांवों की बिजली गुल

बागेश्वर से सोमेश्वर मोटर मार्ग पर अमसरकोट के पास हटाया गया मलबा।
बागेश्वर। बारिश और बर्फबारी से लोगों को जरूरी सुविधाएं नहीं मिल पा रही है। पानी, बिजली और संचार सेवा ठप रहने से जनजीवन प्रभावित हो रहा है। जिला मुख्यालय समेत कपकोट ब्लॉक के 190 गांवों में बिजली लाइन क्षतिग्रस्त होने से आपूर्ति ठप है। ऊर्जा निगम के कर्मचारी लाइनों की मरम्मत कर आपूर्ति सुचारु करने में लगे है।
मौसम खराब रहने से कई क्षेत्रों में बिजली लाइनें क्षतिग्रस्त हो गई हैं। जिला मुख्यालय में ठाकुरद्वारा, मलड़ाखोला, टीआरसी, रवाईखाल क्षेत्र में लाइन में फॉल्ट आने से बिजली गुल है। चंडिका मंदिर के पास तार और विवेक होटल के पास जंफर टूट गया था, जिसे मरम्मत कर ठीक कर दिया गया है। वहीं, विजयपुर जाने वाली 33 केवी लाइन लाइन क्षतिग्रस्त हो गई है। लाइन में सिरोली के पास चीड़ का पेड़ गिरने से कांडा, दुग नाकुरी बनलेख समेत 190 गांवों में बिजली गुल है।
कर्मी क्षेत्र में 33केवी लाइन पर पेड़ गिरने से 16 गांवों की बिजली गुल है। नाचनी, शामा क्षेत्र में बर्फ गिरने से पेड़ टूट गया, जिससे नाचनी, शामा सहित क्षेत्र के 42 गांवों के लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। ग्राम हथरसिया पचार निवासी चंद्रशेखर पांडे ने बताया कि दिनभर बिजली गुल रहने के कारण मोबाइल फोन तक चार्ज नहीं हो सके। यूपीसीएल के ईई भास्कर पांडे ने बताया कि कर्मचारी क्षतिग्रस्त लाइन की मरम्मत कर रहे हैं, शीघ्र आपूर्ति सुचारु कर दी जाएगी।
--
अल्मोड़ा में भी विद्युत आपूर्ति बाधित
अल्मोड़ा। बारिश के चलते शुक्रवार को बिजली लाइनों में फाल्ट आने से शहर के कई इलाकों में घंटों बिजली गुल रही। बांसगली, जौहरी बाजार, ढूंगाधारा समेत समेत आसपास के क्षेत्रों रात में ही बिजली गुल हो गई थी। सुबह से ही बिजली कर्मी लाइनों को दुुरुस्त करने में लगे रहे। वहीं सुबह करीब 7:30 बजे लक्ष्मेश्वर बिजली घर में 33 केवी बिजली लाइन का केबल बाक्स फट गया। इस कारण मालरोड, खोल्टा, कर्नाटकखोला, कपीना, रोडवेज वर्कशाप समेत लिंक रोड के आसपास के क्षेत्रों, अस्पताल, कलक्ट्रेट आदि इलाकों की बिजली गुल हो गई। सूचना मिलने पर बिजली कर्मी मौके पर पहुंचे और केबल बाक्स दुरुस्त किया। दिन में करीब बारह बजे इन क्षेत्रों की बिजली आपूर्ति बहाल हो सकी।
अपराह्न ढाई बजे पातालदेवी स्थित पेयजल पंप को आपूर्ति करने वाली बिजली लाइन में चीड़ का पेड़ गिर गया। इससे बिजली को दो पोल भी क्षतिग्रस्त हो गए। इससे पेयजल पंपिंग ठप हो गई। इसके अलावा शहर के अन्य हिस्सों में भी ट्रांसफार्मरों में फ्यूज फटने से बिजली की आंख मिचौनी चलती रही। विद्युत वितरण खंड के ईई डीडीएस पागंती ने बताया कि पातालदेवी में क्षतिग्रस्त पोलों को ठीक किया जा रहा है। पंप के लिए दूसरे स्थान से लाइन जोड़ी जा रही है। वहीं अन्य स्थानों पर बिजली आपूर्ति सुचारु करने के लिए कर्मचारियों को लगाया गया है। सभी क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति सुचारु करने के प्रयास किए जा रहे हैं।
-
रानीखेत में दिन भर रही बत्ती गुल
रानीखेत। बर्फबारी और मौसम खराब होने के कारण नगर क्षेत्र में भारी अव्यवस्थाएं भी देखी गई। नगर में दिन भर बिजली गुल रही। एसडीओ सौरभ जोशी ने बताया कि वलना, पंतकोटली आदि क्षेत्रों में लाइन में फाल्ट था, जिस कारण ब्रेक डाउन लिया गया था। अपराह्न दो बजे बिजली बहाल हो सकी। दिन भर बिजली नहीं होने के कारण लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। कोयला टालों में न तो कोयला है और ना ही लकड़ियां, एकमात्र विद्युत संचालित उपकरणों के माध्यम से ठंड भगाई जाती थी लेकिन बिजली नहीं होने के कारण लोग दिन भर ठंड से कांपते रहे। चौबटिया क्षेत्र में भी बिजली नहीं रही। बीएसएनएल के मोबाइल नेटवर्क भी काम नहीं कर रहे थे। देर शाम तक व्यवस्था बहाल नहीं हो सकी थी।
... और पढ़ें

धोखाधड़ी के दो दोषियों को मिली सजा

बागेश्वर। अपर सत्र न्यायाधीश कुलदीप शर्मा ने फर्जी दस्तावेज बनाकर धोखाधड़ी के दो आरोपियों को दोष सिद्ध करार दिया है। इनमें से मुख्य दोषी को सात साल के कारावास और एक लाख रुपये के अर्थदंड की सजा मिली जबकि दूसरे को तीन साल के कारावास की सजा सुनाई गई है।
अभियोजन पक्ष के अनुसार ग्राम तुपेड़ निवासी अशोक खेतवाल ने 22 दिसंबर 2018 को कोतवाली में तहरीर दी। इसमें ग्राम बिलौना निवासी बंशीधर शर्मा उर्फ अशोक शर्मा के खिलाफ धोखाधड़ी का आरोप लगाया गया। आरोप था कि अशोक ने बेईमानी कर इलाहाबाद बैंक की स्थानीय शाखा से आठ लाख रुपये का लोन लिया था। इसके लिए गणपति ट्रेडर्स पिंडारी रोड बागेश्वर के नाम से 11.8 लाख रुपये का फर्जी कोटेशन बनाकर हस्ताक्षर भी खुद कर लिए। इसलिए बागेश्वर कोतवाली में धारा 420, 467, 468, 471 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज किया गया। एसआई मदन लाल ने मुकदमे की विवेचना की।
पुलिस ने विवेचना कर आरोपी अशोक को गिरफ्तार किया। उससे हुई पूछताछ के दौरान ग्राम पुड़कुनी निवासी प्रताप सिंह तड़ागी को भी इस अपराध में लिप्त पाया गया। इसलिए उसे भी गिरफ्तार किया गया। अर्थदंड न चुकाने पर मुख्य अभियुक्त को एक माह का अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा। राज्य सरकार की ओर से सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता फौजदारी चंचल सिंह पपोला, खेतवाल की ओर से अधिवक्ता नरेंद्र सिंह कोरंगा, कोतवाली के पैरोकार जितेंद्र तिवारी, राजेंद्र गोस्वामी, पंकज कुमार ने प्रभावी पैरवी की।
... और पढ़ें

गैस लीक होने से आग की लपटों से घिरा घर

बागेश्वर। काफलीगैर तहसील क्षेत्र के पाना गांव असौं के एक घर में घरेलू गैस सिलिंडर का पाइप लीक होने से आग लग गई। घटना में तीन परिजन झुलस गए। जिला अस्पताल तीनों का उपचार कराया गया।
खांकर क्षेत्र के ग्राम पाना असौं निवासी भगवान सिंह पुत्र बिशन सिंह के घर में लगे घरेलू गैस सिलिंडर का पाइप लीक था। बुधवार रात करीब साढ़े आठ बजे उन्होंने गैस जलाई तो पूरा कमरा आग की लपटों से घिर गया। इससे वहां मौजूद भगवान सिंह समेत उसकी पत्नी शोभा देवी और छह साल का बेटा प्रियांशु झुलस गया। बुधवार रात ग्रामीणों ने सभी घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाया। वहां प्राथमिक उपचार के बाद सभी परिजनों को घर भेज दिया गया।
भगवान का चेहरा झुलसा है। असों के जिला पंचायत सदस्य चंदन सिंह रावत ने बताया कि खांकर क्षेत्र के राजस्व उपनिरीक्षक प्रवीन सिंह टाकुली ने मौका मुआयना किया है। पाया कि घर में रखे कपड़े और अन्य सामान की जला है। छत और दीवार के बीच दरार भी पड़ गई है। ऐसी घटनाएं रोकने के लिए गैस एजेंसी संचालकों ने उपभोक्ताओं को हर साल गैस का पाइप बदलने की सलाह दी है।
... और पढ़ें

बर्फ से लकदक हुईं पहाड़ की चोटियां

कपकोट/बागेश्वर। जिले के कपकोट, कांडा, कौसानी, धरमघर सहित कई क्षेत्रों में 24 घंटे से बर्फबारी हो रही है। जिले का न्यूनतम तापमान चार डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है। ग्रामीण क्षेत्रों में बर्फबारी से जनजीवन प्रभावित हो गया है। फिलहाल मौसम के खुलने के आसार नजर नहीं आ रहे हैं।
गिरेछिना समेत कपकोट के ग्राम लीती, खाती, तोली, कर्मी, विनायक, बदियाकोट, शामा, फुलवारी, धरमघर और कोटमन्या आदि क्षेत्रों में बृहस्पतिवार रात से बर्फबारी हो रही है। शामा, लीती, गोगिना, बदियाकोट क्षेत्र में हल्की बर्फबारी होने से यातायात प्रभावित हुआ है। विनायक धूर में एक फुट से अधिक हिमपात होने की सूचना है। इस कारण कर्मी विनायक धूर में एक फुट बर्फबारी हुई है। शुक्रवार को बागेश्वर में 22.5 मिमी, गरुड़ में 20 मिमी, कपकोट में 15 मिमी बारिश हुई जबकि कपकोट में बृहस्पतिवार को भी ढाई मिमी बारिश हुई थी।
-
चौबटिया में मौसम का पहला हिमपात, दूनागिरी, पांडवखोली में भी गिरी बर्फ
रानीखेत/द्वाराहाट। रानीखेत और द्वाराहाट के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में मौसम का पहला हिमपात हुआ। रानीखेत के चौबटिया और मजखाली में तड़के हिमपात शुरू हुआ, चौबटिया में दिन भर बर्फबारी होती रही। हिमपात की सूचना मिलते ही स्थानीय लोग वहां पहुंच गए। कुछ ही देर में चौबटिया की चोटी बर्फ से लकदक हो गई। शाम तक यहां साढ़े तीन इंच बर्फबारी रिकार्ड की गई।
शुक्रवार को रानीखेत नगर में हल्का हिमपात हुआ लेकिन बारिश के कारण बर्फ टिक नहीं पाई। अलबत्ता देर शाम तक बारिश होने से पूरे क्षेत्र में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। मजखाली क्षेत्र में भी सुबह से बर्फ पड़ रही थी, लोग बर्फबारी का लुत्फ उठाते देखे गए। मौसम के पहले हिमपात को लेकर लोगों में खासा उत्साह देखा गया। वहीं द्वाराहाट के ऊंचाई वाले भटकोट, दूनागिरी, कुकूछिना और पांडवखोली क्षेत्र में बर्फ गिरी। सुबह स्कूल जाने वाले शिक्षकों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।
कौसानी, ग्वालदम और गरुड़ के ऊंचाई वाले गांवों में मौसम का पहला हिमपात
गरुड़(बागेश्वर)। तहसील क्षेत्र में शुक्रवार सुबह तीन बजे से अनवरत बारिश हो रही है। कौसानी, ग्वालदम और गरुड़ के ऊंचाई वाले इलाकों में मौसम का पहला हिमपात हुआ। ठंड बढ़ने से अधिकांश स्कूलों में मध्याह्न के बाद छुट्टी हो गई। ठंड से बचने लोग घरों में आग सेकते नजर आए। बारिश से गरुड़ गंगा और गोमती नदी का जलस्तर बढ़ गया है। लंबे समय बाद बारिश होने पर किसानों ने राहत की सांस ली है।
बागेश्वर के गिरेछिना गांव में गिरी बर्फ।
बागेश्वर के गिरेछिना गांव में गिरी बर्फ।- फोटो : BAGESHWAR
... और पढ़ें

सर्बिया में चमके बागेश्वर के सक्षम

बागेश्वर। कंट्रीवाइड पब्लिक स्कूल के कक्षा 11 के छात्र सक्षम रौतेला ने सर्बिया में हुई थर्ड सटरडे शतरंज में पहला इंटरनेशनल मास्टर नॉर्म पदक जीता। दो और नॉर्म जीतने पर उन्हें इंटरनेशनल ग्रेड मास्टर का टाइटल मिल जाएगा। सक्षम के भाई सद्भव रौतेला भी शतरंज खिलाड़ी हैं।
सर्बिया के नोवी साद शहर में एक से छह दिसंबर के बीच हुए चेस टूर्नामेंट के 123वें एडिशन में सक्षम को सफलता मिली। प्रतियोगिता के नौ राउंड में से उन्होंने सात प्वाइंट पाए। यहां उन्होंने 2497 रेटिंग वाले खिलाड़ी के साथ खेला। इसके चलते उन्हें पहला इंटरनेशनल मास्टर नॉर्म मिला और 93 रेटिंग प्वाइंट का लाभ हुआ। इससे पूर्व सक्षम ने अक्तूबर में फ्रांस के केप डीएज और नवंबर में सर्बिया के इसी शहर में हुई प्रतियोगिता में खेलते हुए रेपिड चेस में 128 रेटिंग प्वाइंट और ब्लिट्ज चेस में 291 रेटिंग प्वाइंट अपने नाम किए थे।
वर्तमान में सक्षम की फीडे रेटिंग 2291 है। उन्हें आईएम बनने के लिए दो आईएम नॉर्म जीतने होंगे। किसी भी खिलाड़ी को आइएम बनने के लिए तीनों नॉर्म पूरे करने के साथ 2400 फीडे रेटिंग पूरी करनी होती है, जबकि किसी नॉर्म को पूरा करने के लिए ट्रूर्नामेंट के सभी राउंड खेलते हुए 2450 से अधिक की रेटिंग परफॉरमेंस होनी चाहिए।
इंटरनेशनल मास्टर या ग्रांड मास्टर के साथ तीन से अधिक अंक लेना भी अनिवार्य है। उन्होंने बताया कि वह बाकी बचे नॉर्म पूरा करने के लिए अपने रूसी कोच ग्रांड मास्टर डेविड अटसन और चेन्नई के श्रीनाथ, निकोलय के साथ तैयारी में जुटे हैं। आगामी फरवरी में यूरोप में होने वाली प्रतियोगिताओं में भागीदारी कर वह इन्हें जीतने का प्रयास करेंगे। सक्षम के भाई सद्भव रौतेला भी शतरंज खिलाड़ी हैं। जो कई राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भागीदारी कर चुके हैं।
... और पढ़ें

बागेश्वर में बर्फबारी और बारिश से ठंड बढ़ी

बागेश्वर। जिले के कई इलाकों में बारिश और बर्फबारी से कड़ाके की ठंड पड़ रही है। जिले के कपकोट क्षेत्र में खाती, बाछम, लोधुरा लीती, कर्मी विनायल, कर्मी तोली, धाकुड़ी, खलीधार में बर्फबारी हुई है। वहीं, जिला मुख्यालय में बादल छाए रहने और हल्की बूंदाबांदी से ठंड बढ़ गई है।
जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी शिखा सुयाल ने बताया कि कपकोट क्षेत्र में बर्फबारी हुई है। लोधुरा तोक के लीती, खाती, बाछम में हिमपात हो रहा है। जिला मुख्यालय में सुबह से ही बादल रहे। कई जगहों पर बूंदाबांदी भी हुई। लोगों ने ठंड से बचने के लिए गर्म कपड़े और आग का सहारा लिया। जिले में बर्फबारी और बारिश के बाद तापमान में गिरावट दर्ज की गई है।
बृहस्पतिवार को अधिकतम तापमान 13 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान छह डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। निचले इलाकों में भी ठंड और बढ़ने के आसार हैं। वहीं, कपकोट क्षेत्र में बर्फबारी से सर्दी बढ़ गई। मौसम विभाग के साथ ही प्रशासन ने सर्दी को देखते हुए अलर्ट जारी कर दिया है। बर्फबारी और बारिश के अलर्ट को देखते हुए संबंधित विभागों को सतर्क रहने के लिए कहा गया है।
ठंड के सीजन में लावारिस भटक रहे लोगों को शरण देने की मांग
बागेश्वर। पिछले कई दिनों से कपकोट और डिग्री कॉलेज रोड में एक बेसहारा बुजुर्ग लावारिस हालत में घूम रहा है। इससे चिंतित छात्रसंघ अध्यक्ष सौरभ जोशी के नेतृत्व में छात्रनेताओं ने जिला प्रशासन से ठंड के दौरान नगर में लावारिस भटक रहे लोगों के लिए रैनबसेरे जैसी व्यवस्था करने की मांग की है। उन्होंने बताया कि गरीबी और लाचारी के कारण एक बुजुर्ग कई दिनों से पिंडारी रोड पर भटक रहा है। कड़कड़ाती ठंड के कारण उसके बीमार पड़ने की आशंका है। उन्होंने डीएम से इस असहाय बुजुर्ग को कहीं शरण दिलाने की मांग की है। ज्ञापन में अर्जुन थापा, सौरभ परिहार आदि रहे। बृहस्पतिवार देर शाम बुजुर्ग को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। डीएम ने अस्पताल प्रशासन को बुजुर्ग की उचित देखभाल करने के निर्देश दिए हैं। इधर, पालिकाध्यक्ष सुरेश खेतवाल ने बताया कि नदीगांव में स्थायी रैनबसेरा बनाया जा रहा है। पिछले साल स्वराज भवन में अस्थायी रैनबसेरा बनाया गया था। जरूरत पड़ी तो इस साल भी बनाया जाएगा। ब्यूरो
कौसानी और गरुड़ में एकाएक ठिठुरन बढ़ी
गरुड़(बागेश्वर)। तहसील क्षेत्र में कड़ाके की ठंड पड़ने से एकाएक ठिठुरन बढ़ गई है। बृहस्पतिवार को ठंड से बचने के लिए लोग आग सेकते नजर आए। कौसानी में भी कड़ाके की ठंड पड़ रही है।
तापमान गिरने से रानीखेत में ठंड बढ़ी
रानीखेत (अल्मोड़ा)। पर्यटन नगरी बृहस्पतिवार सुबह से ही आसमान बादलों से घिरा रहा। दिन भर धूप नहीं निकली। दोपहर बाद हल्की बूंदाबांदी हुई, जिससे ठंड बढ़ गई है। इधर, वन निगम के कोयला टालों से कोयला नदारद है। प्रशासन भी अलाव जलाने की व्यवस्था में जुटा हुआ है। दिन भर लोग ठंड में ठिठुरते देखे गए। तापमान में निरंतर गिरावट आने लगी है। ऊंचाई वाले चौबटिया, भटकोट और पांडवखोली की चोटियों में भी भारी ठंड पड़ रही है।
ठंडी हवा और बादलों ने बदला मिजाज, बारिश और बर्फबारी का इंतजार
अल्मोड़ा। ठंडी सर्द हवा और बादलों के जमघट ने पहाड़ों में ठंड बढ़ा दी है। बृहस्पतिवार को अल्मोड़ा में सुबह से बादल छाए रहे और ठंडी हवा चलने के कपकपाने वाली ठंड शुरू हो गई है। सर्द मौसम के चलते जहां कार्यालयों में लोग हीटर और अलाव सेंकते नजर आए। दुकानों में भी लोगों ने हीटर लगाकर खुद को गर्म रखा। ठंड के चलते दोपहर बाद बाजार में भी रौनक कम दिखाई दी। इधर व्यापारियों को बेसब्री से बर्फबारी का इंतजार है। ताकि बर्फबारी में पर्यटक पहाड़ों का रुख कर सकें और व्यापार भी बढ़े। इधर आपदा कंट्रोल रूम से मिली जानकारी के अनुसार बृहस्पतिवार को न्यूनतम और अधिकतम तापमान दस डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। ब्यूरो
पालिका ने शुरू किए अलाव जलाना
अल्मोड़ा। मौसम खराब होने होने से जिले में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। पालिका परिषद ने शहर में अलाव जलाने शुरू कर दिए हैं। अलाव जलने से ठंड से बचने में लोगों को राहत मिली है। मालरोड में टैक्सी स्टैंड के अलावा अन्य स्थानों पर अलाव जलाए गए हैं। ब्यूरो
खराब मौसम के चलते आज जिले के सभी विद्यालयों में रहेगा अवकाश
अल्मोड़ा। मौसम विज्ञान केंद्र देहरादून के पूर्वानुमान के अनुसार अगले 24 घंटों के दौरान प्रदेश में बर्फबारी और वर्षा की संभावना को देखते हुए 13 दिसंबर को जिले में सभी विद्यालयों में अवकाश घोषित किया गया है। जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया ने बताया कि मौसम विभाग ने खराब मौसम का अलर्ट जारी किया है। अलर्ट को देखते हुए 13 दिसंबर को जिले में कक्षा एक से कक्षा 12 तक संचालित सभी शासकीय, अशासकीय विद्यालयों, निजी विद्यालयों और आंगनबाड़ी केंद्रों में अवकाश रहेगा।
बागेश्वर में बृहस्पतिवार को छाए रहे बादल।
बागेश्वर में बृहस्पतिवार को छाए रहे बादल।- फोटो : BAGESHWAR
बागेश्वर में बृहस्पतिवार को हुई बारिश के दौरान आग तापते लोग।
बागेश्वर में बृहस्पतिवार को हुई बारिश के दौरान आग तापते लोग।- फोटो : BAGESHWAR
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us